1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. india vs england 3rd test match the shortest test match after second world war know when this happened before aml

IND vs ENG Test: द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद सबसे छोटा टेस्ट मैच रहा भारत और इंग्लैंड का मुकाबला, जानें इससे पहले कब हुआ था ऐसा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जीत का जश्न मनाते टीम इंडिया के खिलाड़ी.
जीत का जश्न मनाते टीम इंडिया के खिलाड़ी.
PTI
  • भारत और इंग्लैंड के बीच द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद सबसे छोटा टेस्ट मैच.

  • दूसरे दिन महज 140.2 ओवर में हो गया खेल का फैसला.

  • दो दिनों में 30 विकेट गिरे, भारत ने इंग्लैंड को 10 विकेट से हराया.

India vs England Test अहमदाबाद : नरेंद्र मोदी स्टेडियम (मोटेरा स्टेडियम) में भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया तीसरा टेस्ट में महज दो दिनों में ही पूरा हो गया. भारत ने धमाकेदार अंदाज में इंग्लैंड को 10 विकेट से हरा दिया. इस मैच में कई रिकॉर्ड भी बने. एक रिकॉर्ड यह भी बना कि द्वितीय विश्वयुद्ध (Second World War 1939-1945) के बाद का यह सबसे छोटा टेस्ट मैच रहा. इससे पहले 1946 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच खेले गये टेस्ट मैच का फैसला 145.2 ओवर में ही हो गया था.

मोटेरा स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया टेस्ट मैच 140.2 ओवर में सिमट गया. दूसरे दिन इंग्लैंड की टीम ने टीम इंडिया को जीत के लिए 49 रन का टारगेट दिया. भारत ने बिना कोई विकेट गंवाए इस लक्ष्य को 7.4 ओवर में ही पूरा कर लिया. इससे पहले इंग्लैंड की पूरी टीम एक पूरा दिन भी नहीं खेल पाई. हालांकि रोहित शर्मा को छोड़कर भारत का भी कोई बल्लेबाज यहां नहीं चला.

बुधवार को टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की ने कुल 112 रन बनाए. दूसरे दिन कुल 17 विकेट गिरे. पहली पारी में भारत के सात विकेट दूसरे दिन गिरे और फिर दूसरी पारी खेलने उतरी इंग्लैंड की पूरी टीम 81 रन बनाकर आउट हो गयी. भारत की पहली पारी पहले ही दिन शुरू हुई और टीम इंडिया ने पहले दिन अपना तीन विकेट गंवाया. पहली पारी में भारत ने 145 रन बनाये. भारत को दूसरी पारी में जीत के लिए 49 रन का लक्ष्य मिला, जिसे भारत ने आसानी से पूरा कर लिया.

इंग्लैंड ने दूसरी पारी में भारत के खिलाफ अपना न्यूनतम स्कोर बनाया. इससे पहले का रिकार्ड 101 रन था जो उसने 1971 में ओवल में बनाया था. टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह 22वां अवसर है जबकि कोई टेस्ट मैच दो दिन के अंदर ही समाप्त हो गया. भारत में ऐसा दूसरी बार हुआ. इससे पहले 2018 में भारत ने अफगानिस्तान को बेंगलुरू में दो दिन में हरा दिया था. इस मैच में केवल 140.2 ओवर किये गये. किसी पूरे मैच में सबसे कम ओवर के रिकार्ड में यह आंकड़ा सातवें नंबर पर है.

इस मैच में स्पिनरों का जलवा रहा. दोनों पारियों में 11 विकेट लेकर अक्षर पटेल ने कई रिकॉर्ड अपने नाम किये, वहीं रविचंद्रन अश्विन ने अपना 400वां विकेट भी लिया. पिच के व्यवहार का आलम यह था कि इंग्लैंड की तरफ से पहली पारी में कामचलाऊ ऑफ स्पिनर जो रूट ने आठ रन देकर पांच और बायें हाथ के स्पिनर जैक लीच ने 54 रन देकर चार विकेट लिए. पहली पारी में छह विकेट लेने वाले अक्षर ने नयी गेंद संभाली और पहली गेंद पर जॉक क्राउली को बोल्ड करके उन्हें गलत लाइन पर खेलने सजा दी. वह पारी की पहली गेंद पर विकेट लेने वाले दुनिया के चौथे और अश्विन के बाद भारत के दूसरे स्पिनर बने.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें