1. home Hindi News
  2. photos
  3. lebanon capital beirut massive explosion these photos showing tragedy more than 100 people dies in beirut blast

Lebanon: बेरुत भीषण धमाके की इन तस्वीरों में दिखी तबाही, पलक झपकते ही लेबनान की राजधानी वीरान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
लेबनान की राजधानी बेरूत में मंगवार शाम हुए भयानक विस्फोट के बाद जहां बचाव अभियान में जुटे कर्मी शवों की गिनती और मलबों में जिंदा लोगों की तलाश में जुटे हैं, वहीं कई देशों ने संकटग्रस्त देश की मदद के लिए हाथ बढ़या है.  लेबनान पहले से ही आर्थिक संकट से गुजर रहा है और इस संकट में उसकी मुश्किल को और बढ़ा दिया है. इस विस्फोट से कम से कम 135 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों घायल हैं.
लेबनान की राजधानी बेरूत में मंगवार शाम हुए भयानक विस्फोट के बाद जहां बचाव अभियान में जुटे कर्मी शवों की गिनती और मलबों में जिंदा लोगों की तलाश में जुटे हैं, वहीं कई देशों ने संकटग्रस्त देश की मदद के लिए हाथ बढ़या है. लेबनान पहले से ही आर्थिक संकट से गुजर रहा है और इस संकट में उसकी मुश्किल को और बढ़ा दिया है. इस विस्फोट से कम से कम 135 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों घायल हैं.
Social media

बेरुत के बंदरगाह इलाके में हुए इन धमाकों से पूरा शहर ही हिल गया था. तटीय इलाके में धमाके के बाद आसमान में धूल और धुएं का गुबार छा गया था. ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो में धमाके के दृश्य काफ़ी भयावह हैं. आग की लपटों के साथ धुएं के गुब्बार उठ रहे
बेरुत के बंदरगाह इलाके में हुए इन धमाकों से पूरा शहर ही हिल गया था. तटीय इलाके में धमाके के बाद आसमान में धूल और धुएं का गुबार छा गया था. ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो में धमाके के दृश्य काफ़ी भयावह हैं. आग की लपटों के साथ धुएं के गुब्बार उठ रहे
Social media
 बेरुत के बंदरगाह इलाके में हुए इन धमाकों से पूरा शहर ही हिल गया था. तटीय इलाके में धमाके के बाद आसमान में धूल और धुएं का गुबार छा गया था. ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो में धमाके के दृश्य काफ़ी भयावह हैं. आग की लपटों के साथ धुएं के गुब्बार उठ रहे हैं.
बेरुत के बंदरगाह इलाके में हुए इन धमाकों से पूरा शहर ही हिल गया था. तटीय इलाके में धमाके के बाद आसमान में धूल और धुएं का गुबार छा गया था. ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो में धमाके के दृश्य काफ़ी भयावह हैं. आग की लपटों के साथ धुएं के गुब्बार उठ रहे हैं.
social media
पेरिस ने बुधवार को विशेषजों, बचाव कर्मी और जरूरी आपूर्ति की दो खेप भेजी. वहीं, यूरोपीय संघ अपने नागरिक बचाव तंत्र का इस्तेमाल करके आपात कर्मियों और उपकरणों कों भेज रहा है. संघ के आयोग ने कहा कि उसकी योजना तत्काल वाहनों के साथ 100 दमकल कर्मियों, खोजी कुत्ते और उपकरण भेजने की है, ताकि शहरी क्षेत्र में फंसे लोगों का पता लगाया जा सके.
पेरिस ने बुधवार को विशेषजों, बचाव कर्मी और जरूरी आपूर्ति की दो खेप भेजी. वहीं, यूरोपीय संघ अपने नागरिक बचाव तंत्र का इस्तेमाल करके आपात कर्मियों और उपकरणों कों भेज रहा है. संघ के आयोग ने कहा कि उसकी योजना तत्काल वाहनों के साथ 100 दमकल कर्मियों, खोजी कुत्ते और उपकरण भेजने की है, ताकि शहरी क्षेत्र में फंसे लोगों का पता लगाया जा सके.
Social media
वहीं ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने शुरुआत में 20 लाख ऑस्ट्रेलियाई डॉलर की मदद लेबनान को देने का संकल्प लिया है, ताकि राहत कार्य में सहायता पहुंचाई जा सके. प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने बृहस्पतिवार को संवाददाताओं से कहा कि यह सहायता विश्व खाद्य कार्यक्रम और खाद्य, देखभाल और जरूरी सामान के लिए रेड क्रॉस को दिया जाएगा
वहीं ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने शुरुआत में 20 लाख ऑस्ट्रेलियाई डॉलर की मदद लेबनान को देने का संकल्प लिया है, ताकि राहत कार्य में सहायता पहुंचाई जा सके. प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने बृहस्पतिवार को संवाददाताओं से कहा कि यह सहायता विश्व खाद्य कार्यक्रम और खाद्य, देखभाल और जरूरी सामान के लिए रेड क्रॉस को दिया जाएगा
Social media
 चेक रिपब्लिक, जर्मनी, ग्रीस, पोलैंड और नीदरलैंड भी सहयोग के लिए आए हैं और कई अन्य देश में भी इस प्रयास में जुट सकते हैं. साइप्रस भी बचाव कर्मियों का दल और खोजी कुत्ते भेज रहा है. रूस ने मोबाइल अस्पताल स्थापित किए हैं और 50 आपातकर्मी और चिकित्सा कर्मियों को भेजा है.
चेक रिपब्लिक, जर्मनी, ग्रीस, पोलैंड और नीदरलैंड भी सहयोग के लिए आए हैं और कई अन्य देश में भी इस प्रयास में जुट सकते हैं. साइप्रस भी बचाव कर्मियों का दल और खोजी कुत्ते भेज रहा है. रूस ने मोबाइल अस्पताल स्थापित किए हैं और 50 आपातकर्मी और चिकित्सा कर्मियों को भेजा है.
Social media
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें