Advertisement

jamshedpur

  • Sep 22 2019 12:10PM
Advertisement

मदरसे में छिप कर रह रहा था अलकायदा का खूंखार आतंकी कलीमुद्दीन, झारखंड ATS ने दबोचा, तीन साल से थी तलाश

मदरसे में छिप कर रह रहा था अलकायदा का खूंखार आतंकी कलीमुद्दीन, झारखंड ATS ने दबोचा, तीन साल से थी तलाश

रांची : झारखंड एटीएस को बड़ी सफलता मिली है. जानकारी के अनुसार ओसामा बिन लादेन के वैश्विक आतंकी संगठन अलकायदा के एक कुख्यात आतंकी को एटीएस ने गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि पकड़ा गया आतंकी स्‍लीपर सेल की सहायता से देश को दहलाने की साजिश रच रहा था.

झारखंड एटीएस उस गिरफ्तार कर अज्ञात स्‍थान ले गयी है जहां उससे कड़ाई से पूछताछ जारी है. कुख्यात आतंकवादी का नाम मो. कलीमुद्दीन मुजाहिर है जिसे एटीएस ने जमशेदपुर से दबोचा है. आतंकी जमशेदपुर के मानगो इलाके के आजादनगर थाना क्षेत्र का रहनेवाला बताया जा रहा है.

खबरों की मानें तो यह लंबे वक्त से आतंकी संगठन अलकायदा से जुड़ा हुआ है. देश भर की सुरक्षा एजेंसियां साल 2016 से ही अलकायदा के इस कुख्‍यात आतंकी की तलाश में थी. गिरफ्तार आतंकी भारत में अलकायदा के लिए काम करने में जुटा हुआ था.

एटीएस के एडीजी अभियान मुरारी लाल मीणा ने अलकायदा के आतंकी मोहम्मद कलीमुद्दीन की गिरफ्तारी की जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि पकड़ा गये आतंकी का काम झारखंड में स्लीपर सेल तैयार करना था. यही नहीं वह जिहाद के लिए लोगों का ब्रेन वॉश करता था और उन्हें तैयार करता था. मीणा ने बताया कि वह आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त होने की वजह से वांछित था और 3 साल से फरार था. एटीएस ने शनिवार को उसे गिरफ्तार किया. वह एक मदरसे में रह रहा था और जिहाद के लिए युवाओं को तैयार करता था.

बताया जा रहा है कि कलीमुद्दीन मूल रूप से रांची के चान्हो ब्लॉक के राडग़ांव का गांव का रहने वाला है जो वर्तमान में जमशेदपुर के आजाद नगर में रहता था. आतंकवादी अब्दुल रहमान उर्फ कटकी, अब्दुल सामी सहित अन्य इसके सहयोगी हैं जो अभी तिहाड़ जेल में बंद हैं.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement