1. home Hindi News
  2. national
  3. what is uniform civil code salman khurshid seeks clear definition of ucc from modi government congress amh

समान नागरिक संहिता की स्‍पष्‍ट परिभाषा दे मोदी सरकार, कांग्रेस की मांग

भाजपा ने जब 2019 का चुनाव लड़ा तो उससे पहले चुनावी घोषणा पत्र में समान नागरिक संहिता का जिक्र किया था. कांग्रेस ने मांग की है कि मोदी सरकार समान नागरिक संहिता की स्‍पष्‍ट परिभाषा दे. सलमान खुर्शीद ने कहा कि सरकार को बताने की जरूरत है कि समान नागरिक संहिता क्या है ?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Salman Khurshid
Salman Khurshid
ani

Uniform Civil Code Latest Updates : देश में समान नागरिक संहिता को लेकर चर्चा और विरोध के बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता सलमान खुर्शिद का बयान सामने आया है. कांग्रेस नेता ने सरकार से मांग की है कि वो समान नागरिक संहिता की स्पष्ट परिभाषा सबके सामने रखे. सरकार को इसके बारे में बताना चाहिए और ये भी बताना चाहिए कि संविधान में इसकी व्‍याख्‍या कैसे की गयी है. यहां चर्चा कर दें कि समान नागरिक संहिता की चर्चा इन दिनों तेज है और कई नेताओं की प्रतिक्रिया इन दिनों मामले को लेकर आ रही है.

सलमान खुर्शीद ने क्‍या कहा

कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने न्‍यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि सरकार को ये बताने की जरूरत है कि समान नागरिक संहिता क्या है? संविधान में इसका उल्लेख है कि एक समान नागरिक संहिता लागू करने की कोशिश की जाएगी, हालांकि इसकी स्‍पष्‍ट परिभाषा और इसका क्‍या प्रभाव होगा, इसको लेकर असमंजस है. सरकार ने कभी नहीं कहा कि जब वह समान नागरिक संहिता की बात करती है तो वह हिंदू कोड लागू करेगी. कांग्रेस नेता ने कहा कि किसी भी धर्म की अच्‍छी बातों को लागू करने की जरूरत है, चाहे वह इस्लाम हो, ईसाई हो या अन्य धर्म. सरकार को यह बताना चाहिए कि इसकी परिभाषा क्या है, तभी हम प्रतिक्रिया देने में सक्षम हैं.

यूपी के मंत्री दानिश अंसारी ने क्‍या कहा

समान नागरिक संहिता को लेकर उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण एवं वक्फ मामलों के राज्य मंत्री दानिश अंसारी की भी प्रतिक्रिया सामने आयी है. उन्होंने कहा है कि वह उत्तर प्रदेश में जगह-जगह ‘कौमी चौपाल'आयोजित करने का काम करेंगे और सभी वर्गों, खासकर मुस्लिम समाज को समान नागरिक संहिता के बारे में जागरूक करने का प्रयास करेंगे. भारतीय जनता पार्टी की सरकार सभी पक्षों से बातचीत करके ही इसे लागू करने की दिशा में आगे कदम रखेगी.

भाजपा का चुनावी वादा

यहां चर्चा कर दें कि भारतीय जनता पार्टी ने जब 2019 का चुनाव लड़ा तो उससे पहले चुनावी घोषणा पत्र में समान नागरिक संहिता का जिक्र किया. भाजपा की ओर से यह वादा किया गया था कि यदि वह सत्ता में आती है तो समान नागरिक संहिता को लागू करेगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें