1. home Home
  2. national
  3. weather update cyclone wreaks havoc as heavy rain in kerala kanyakumari to philippines see photographs mtj

Weather Update: केरल और कन्याकुमारी से फिलीपींस तक चक्रवात का कहर, भारी बारिश ने मचायी तबाही

केरल में कई हिस्सों में मंगलवार को लगातार भारी बारिश हुई. इससे नदियों एवं बांधों में जलस्तर बढ़ गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Weather Update: केरल के कोझिकोड में भारी बारिश से सड़कें जलमग्न
Weather Update: केरल के कोझिकोड में भारी बारिश से सड़कें जलमग्न
PTI

Weather Update: केरल और कन्याकुमारी से फिलीपींस तक चक्रवात ने कहर बरपाया है. भारी बारिश से कई लोगों की मौत हुई है और संपत्ति को भारी नुकसान पहुंचा है. पर्यटन स्थल जलमग्न हो गये हैं. केरल में भारी बारिश के कारण दो बच्चियों की मौत हो गयी जबकि नदियों में जलस्तर बढ़ने से निचले इलाकों में बाढ़ आ गयी है. वहीं, फिलीपींस में बारिश और भूस्खलन से 11 लोगों की मौत हो गयी, जबकि 7 अन्य लापता हैं.

केरल में कई हिस्सों में मंगलवार को लगातार भारी बारिश हुई. इससे नदियों एवं बांधों में जलस्तर बढ़ गया. त्रिशूर एवं कोझिकोड के कई हिस्सों से लोगों को निकालकर राहत एवं पुनर्वास शिविरों में पहुंचाया गया, जबकि मल्लापुरम में दो बच्चियों की मौत हो गयी. मौसम विभाग और राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कोझिकोड, पलक्कड़, मल्लापुरम और वायनाड जैसे विभिन्न जिलों के लिए 15 अक्टूबर से पहले तक नारंगी और पीले अलर्ट जारी किये हैं.

नारंगी (Orange Alert) और पीले अलर्ट (Yellow Alert) क्रमश: मूसलाधार (Heavy Rain) एवं भयंकर वर्षा (Very Heavy Rain) के संकेत हैं. पुलिस ने बताया कि इससे पहले मंगलवार को तड़के एक निर्माणाधीन मकान के ढहने से बगल के घर में दो बच्चों की मौत हो गयी. उसने बताया कि यह हादसा मुंडोट्टुपडम के समीप माथमकुलम में हुआ. पुलिस के अनुसार, छह महीने और आठ साल की इन बहनों को कोझिकोड चिकित्सा कॉलेज ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका.

मलप्पुरम जिला में भारी बारिश से मकान क्षतिग्रस्त
मलप्पुरम जिला में भारी बारिश से मकान क्षतिग्रस्त
PTI

चेतावनी जारी किये जाने तथा नदियों एवं बांधों में लगातार जलस्तर बढ़ने के बाद त्रिशूर, कोझिकोड और मल्लापुरम के जिला प्रशासन हरकत में आ गये और उन्होंने उन परिवारों को राहत शिविरों में पहुंचाना शुरू कर दिया है, जो प्रभावित हैं या जिनके प्रभावित होने की आशंका है. वायनाड, कन्नूर और कसारगोड के जिला प्रशासन ने कहा कि वे किसी भी आपात स्थिति के लिए तैयार हैं, जो वर्षा की वजह से उत्पन्न हो सकती हैं.

उन्होंने मछुआरों एवं निचले क्षेत्र में रहने वालों को सचेत रहने की ताकीद की है. राज्य में वर्षा के कारण कई सड़कों एवं निचले हिस्सों में पानी भर गया है. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के दौरान राज्य के विभिन्न हिस्सों में 64.5 मिली मीटर से 204.4 मिलीमीटर तक वर्षा होने का अनुमान लगाया है.

कन्याकुमारी के पर्यटन स्थल थिरपारप्पू जलप्रपात जाना मुश्किल
कन्याकुमारी के पर्यटन स्थल थिरपारप्पू जलप्रपात जाना मुश्किल
PTI

फिलीपींस में 11 लोगों की मौत, 7 लापता

फिलीपींस के उत्तरी किनारों पर चक्रवात के कारण बारिश के बाद अचानक आयी बाढ़ और भूस्खलन की वजह से 11 लोगों की मौत हो गयी और 7 व्यक्ति लापता हो गये. अधिकारियों ने बताया कि बाढ़ और बारिश से पेड़ उखड़ गये हैं तथा बिजली आपूर्ति बंद हो गयी है. इसके अलावा कई शहरों से 6,500 से ज्यादा लोगों को बचाकर निकाला गया है.

सरकारी मौसम विभाग के अनुसार, उष्ण कटिबंधीय चक्रवात ‘कोमपासू’ को दक्षिण चीन सागर के ऊपर देखा गया और वह चीन के हेनान द्वीप तथा वियतनाम की ओर बढ़ रहा है. आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने कहा कि बेंगुएट प्रांत में भूस्खलन से छह ग्रामीणों की जान चली गयी और तीन अन्य लापता हैं. उन्होंने कहा कि बंदरगाह पर जांच कर रहा एक सुरक्षाकर्मी तेज लहरों के बहाव में बह गया. पलवान प्रांत में बाढ़ से चार लोगों की मृत्यु हो गयी तथा चार अन्य लापता हो गये.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें