1. home Hindi News
  2. national
  3. vaccination center closes due to lack of vaccine in kerala and maharashtra covishield out of order aml

केरल और महाराष्ट्र में वैक्सीन की कमी के कारण सेंटर बंद, बाहर लगा कोविशिल्ड खत्म होने का बोर्ड

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
केरल और महाराष्ट्र में वैक्सीन की कमी के कारण सेंटर बंद
केरल और महाराष्ट्र में वैक्सीन की कमी के कारण सेंटर बंद
ANI

नयी दिल्ली : कई राज्यों से वैक्सीन (Corona Vaccine) की कमी की शिकायतें आ रही हैं. केंद्र सरकार जहां दावा कर रही है कि राज्यों के पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन के डोज हैं. साथ ही वैक्सीन की सप्लाई भी जारी है. ऐसे में कई वैक्सीनेशन सेंटर (Vaccination Center) के बाहर वैक्सीन नहीं होने का पर्ची चिपका दिया गया है. खास कर सीरत इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशिल्ड (Covishield) की कमी देखने को मिल रही है. बता दें कि देश में फिलहाल कोविशिल्ड और भारत बायोटेक के कोवैक्सीन (Covaxin) का टीका आम लोगों को लगाया जा रहा है.

महाराष्ट्र के राजधानी मुंबई में पहले भी वैक्सीन के अभाव में कई सेंटरों पर टीकाकरण बंद हुआ है. वहीं आज बीकेसी वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर बोर्ड लगा दिया गया कि वैक्सीन खत्म हो गयी है. सेंटर के डीन राजेश डेरे ने एएनआई से कहा कि हमारे पास 350 से 400 कोविशिल्ड वैक्सीन के डोज थे, जो खत्म हो गये. उन्होंने कहा कि हमारे पास कोवैक्सीन के लगभग 2 हजार डोज हैं जिसे सेकेंड डोज के लिए रखा गया है.

उन्होंने कहा कि हमें सूचना मिली है कि आज शाम तक कोविशिल्ड वैक्सीन की डोज हमें मिल जायेगी. इसके बाद उम्मीद है कल से फिर टीकाकरण शुरू हो जायेगा. उन्होंने कहा कि हमें यह भी उम्मीद है कि आने वाले समय में वैक्सीन की कमी नहीं होगी. यही आलम केरल के एक वैक्सीनेशन सेंटर में भी देखने को मिला. वहां भी कोविशिल्ड वैक्सीन के उपलब्ध नहीं होने की बोर्ड लगी थी.

तिरुवनंतपुरम में एक अस्पताल कोविशिल्ड खत्म हो गयी है. वहां बोर्ड लगा है कि केवल कोवैक्सीन स्टॉक में है. केरल नर्स संघ के जिला सचिव कार्तिक कुमार कहते हैं कि हमारे पास कोविशिल्ड वैक्सीन की डोज खत्म हो गयी है. केवल कोवैक्सीन बची है. जिनकों पहले कोविशिल्ड का डोज लगा है. उन्हें दूसरा डोज भी उसी वैक्सीन का लगाना है, ऐसे नियम हैं.

बता दें कि 18 साल से ऊपर के सभी नागरिकों के लिए टीकाकरण खुलने से पहले सरकार टीके का उत्पादन और आपूर्ति बढ़ाना चाहती है. इसी के तहत सरकार ने एसआईआई और भारत बायोटेक को भविष्य की आपूर्ति के लिए 4,500 करोड़ रुपये का भुगतान अग्रिम में करने की मंजूरी दी है. एसआईआई पहले से तय 150 रुपये प्रति खुराक के मूल्य पर सरकार को जुलाई तक 20 करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगी. वहीं भारत बायोटेक नौ करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगी.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें