1. home Hindi News
  2. national
  3. sovereign gold bond scheme to open from 8 june golden opportunity to buy cheap gold know about this scheme gold price today

Gold bond scheme: सस्ते दाम पर सोना खरीदने का मौका, आज से खुलेगा सरकारी गोल्ड बॉन्ड, ऐसे मिलेगी छूट

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21  के सीरीज-3 की शुरुआत
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21 के सीरीज-3 की शुरुआत
File

Gold bond, gold rate, gold price, gold price today, gold bond price, gold bond rate, gold bond scheme अगर आप सोने में निवेश की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए सुनहरा मौका है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत सस्ते में सोना खरीदने का मौका भारत सरकार दे रही है. सरकार 8 जून से सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21 के सीरीज-3 की शुरुआत करने जा रही है. इस स्कीम में 12 जून 2020 तक निवेश किया जा सकेगा. बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने अप्रैल में ऐलान किया था कि सरकार 20 अप्रैल से सितंबर के बीच छह किस्त में गोल्ड बॉन्ड जारी करेगी. सरकार की ओर से आरबीआई 2020-21 का सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड इश्यू करेगा.

आरबीआई ने तीसरे चरण के गोल्ड बॉन्ड के लिए 4,677 प्रति ग्राम की कीमत तय की है. सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने और डिजिटल भुगतान करने वाले निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट देने का फैसला किया है. ऐसे निवेशकों को बॉन्ड के निर्गम मूल्य के तौर पर 4,627 रुपये प्रति ग्राम चुकाने होंगे. सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने और डिजिटल भुगतान करने वाले निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट देने का फैसला किया है. ऐसे निवेशकों को बॉन्ड के निर्गम मूल्य के तौर पर 4,627 रुपये प्रति ग्राम चुकाने होंगे.

कितना खरीद सकते हैं गोल्ड बॉन्ड

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के तहत कोई भी व्यक्ति न्यूनतम एक ग्राम का गोल्ड बॉन्ड खरीद सकता है. कोई भी व्यक्ति एक वित्त वर्ष में अधिकतम चार किलोग्राम, अविभाजित हिन्दू परिवार भी अधिकतम चार किलोग्राम और ट्रस्ट 20 किलोग्राम तक का गोल्ड बॉन्ड खरीद सकता है.

कितना सोना खरीद सकते हैं?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम स्कीम के तहत सबसे छोटा बॉन्ड 1 ग्राम के सोने के बराबर होगा. कोई भी व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने का बाॉन्ड खरीद सकता है. इस स्कीम के तहत कोई भी भारतीय नागरिक 1 वित्त वर्ष में न्यूनतम 1 ग्राम और अधिकतम 4 किलोग्राम तक वैल्यू का सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड खरीद सकता है वहीं किसी ट्र्स्ट के लिए खरीद की अधिकतम सीमा 20 किग्रा तय की गई है.

गोल्ड बॉन्ड खरीदने के फायदे, ब्याज का क्या है हिसाब

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड पर निवेश करने में 2.5 फीसदी ब्याज निवेश के बाद सोने के रेट बढ़ने के फायदे मिलते हैं. साथ ही सालाना 2.5 फीसदी ब्याज भी मिलता है. जो निवेशक के बैंक खाते में हर 6 महीने पर जमा किया जाता है. ब्याज की अंतिम किस्त मूलधन के साथ मेच्योरिटी पर दे दी जाती है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड का मेच्योरिटी पीरियड 8 साल है. लेकिन अगर आप चाहें तो 5 साल, 6 साल और 7 साल के बाद भी इसे बेच सकते हैं. इसे आरबीआई द्वारा जारी किया जाता है.

कहां कर सकते हैं आवेदन

इस स्कीम के तहत कोई भी भारतीय नागरिक सस्ते में सोने की खरीदारी कर सकता है. इसमें निवेश करने के लिए आवेदन पत्र विभिन्न बैंक, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL) कार्यालयों, नामित डाकघरों और एजेंटों द्वारा प्रदान किया जाएगा. आरबीआई की वेबसाइट से भी आवेदन पत्र डाउनलोड किया जा सकता है. बैंक ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी प्रदान कर सकते हैं.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें