1. home Home
  2. national
  3. pm modi to hold meeting with chief ministers on thursday amid rising omicron cases in india vwt

ओमिक्रॉन की चिंता के बीच गुरुवार को राज्यों के साथ बैठक करेंगे पीएम मोदी, हेल्थ फैसिलिटी पर होगी चर्चा

बताते चलें कि भारत में कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर कई राज्यों में नई पाबंदियां लगा दी गई हैं और कई राज्यों में सख्ती बढ़ाने की तैयारी की जा रही है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पीएम मोदी.
पीएम मोदी.
फोटो : ट्विटर

नई दिल्ली : भारत में कोरोना के साथ-साथ नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के मामलों में भी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. मंगलवार की सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में बताया गया है कि भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के करीब 1.68 लाख से अधिक नए मामले पाए गए हैं, जबकि नए वेरिएंट कुल संख्या बढ़कर 4461 तक पहुंच गई है. इस बीच, खबर यह है कि देश में ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार 13 जनवरी 2022 को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे. इसमें राज्यों में बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर चर्चा की जा सकती है.

बताते चलें कि भारत में कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर कई राज्यों में नई पाबंदियां लगा दी गई हैं और कई राज्यों में सख्ती बढ़ाने की तैयारी की जा रही है. हालांकि, इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को देश में कोरोना महामारी के हालात, स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी ढांचे और आपूर्ति व्यवस्था की चल रही तैयारियों, देश में टीकाकरण अभियान की स्थिति, ओमीक्रोन के प्रसार और इसके जन स्वास्थ्य प्रभाव की समीक्षा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की थी.

पिछले रविवार को हुई समीक्षा बैठक में उन्होंने जिलास्तरीय स्वास्थ्य संबंधी पर्याप्त बुनियादी ढांचा सुनिश्चित किए जाने और किशारों के टीकाकरण अभियान को मिशन मोड पर तेज किए जाने की अपील की थी. इसके साथ ही, उन्होंने कहा था कि राज्यों के हालात, तैयारियों और जन स्वास्थ्य सुविधाओं पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक बुलाई जाएगी.

मालूम हो कि कोरोना मामलों में तेजी आने के साथ ही, देश में स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक आयु के मरीजों को एहतियाती तौर पर टीकों की बूस्टर खुराक दिए जाने के अभियान की शुरुआत हो गई है.

प्रधानमंत्री मोदी अक्सर इस बात पर जोर देते रहे हैं कि टीकाकरण कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सबसे प्रभावी हथियार है. 2020 में महामारी की शुरुआत होने के बाद से वह अक्सर मुख्यमंत्रियों के साथ बैठकें कर स्थिति की समीक्षा करते रहे हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें