1. home Home
  2. national
  3. mumbai cruise drugs case nawab malik calls sameer wankhede a puppet will send him jail ncb officer reacts ready for any probe mtj

नवाब मलिक के आरोपों का समीर वानखेड़े ने दिया जवाब, कहा- किसी भी जांच को तैयार

चंकी पांडे की बेटी अनन्या पांडे की एनसीबी के समक्ष पेशी के दिन एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने एक बार फिर समीर वानखेड़े पर हमला बोला.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Mumbai Cruise Drugs Case: मुंबई में नवाब मलिक बनाम समीर वानखेड़े
Mumbai Cruise Drugs Case: मुंबई में नवाब मलिक बनाम समीर वानखेड़े
Prabhat Khabar

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की ड्रग्स केस (Mumbai Cruise Drugs Case) में गिरफ्तारी के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के खिलाफ शुरू हुआ एनसीपी नेता नवाब मलिक का हमला लगातार बढ़ता जा रहा है. वहीं, NCB की ओर से लगातार प्रेस विज्ञप्ति जारी करके या प्रेस कॉन्फ्रेंस करके उनके दावों को सिरे से खारिज किया जा रहा है. वहीं, समीर वानखेड़े ने कहा है कि मैं एक सरकारी सेवक हूं. वो मंत्री हैं. अगर ईमानदारी से अपना काम करने के लिए वे मुझे जेल भेजना चाहते हैं, तो मैं उसका स्वागत करता हूं.

चंकी पांडे की बेटी अनन्या पांडे की एनसीबी के समक्ष पेशी के दिन राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने एक बार फिर समीर वानखेड़े पर हमला बोला. नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े को कठपुतली करार दिया. कहा कि वह लोगों के खिलाफ झूठे मामले तैयार कर रहे हैं.

महाराष्ट्र के मंत्री ने कहा कि एक साल के अंदर समीर वानखेड़े को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि वह मुझे जेल भेजने आया था. लेकिन, देश की जनता देखेगी कि तुम्हें खुद सलाखों के पीछे जाना होगा. एनसीपी नेता मलिक ने कहा कि हमारे पास सबूत हैं कि बोगस मामले दर्ज किये जा रहे हैं.

नवाब मलिक ने पूछा कि हमें बताएं कि आपके आका कौन हैं, जो आप पर दबाव डाल रहे हैं? नवाब मलिक किसी के बाप से नहीं डरता. आप मुझ पर चाहे जितना भी दबाव डालने की कोशिश कर लें. आज मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मैं तब तक दम नहीं लूंगा, जब तक तुम्हें जेल न भेज दूं.

महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद एनसीबी ने एक स्पेशल ऑफिसर को काम पर लगाया. सीबीआई सुशांत सुसाइड केस की जांच कर रही थी. सुशांत की मौत की गुत्थी आज तक नहीं सुलझी. लेकिन, फिल्म इंडस्ट्री में एनसीबी की दखलंदाजी बढ़ गयी.

नवाब मलिक ने कहा कि रिया चक्रवर्ती और अन्य लोगों को फंसाने की कोशिशें शुरू हो गयीं. कोरोना के समय पूरी फिल्म इंडस्ट्री मालदीव में थी. समीर वानखेड़े और उनका परिवार भी वहीं था. समीर वानखेड़े को अपने दुबई और मालदीव की यात्रा के बारे में स्पष्टीकरण देना चाहिए. मलिक ने कहा कि हमारे पास पुख्ता सबूत हैं कि मालदीव और दुबई यात्रा के दौरान ‘उगाही’ हुई. हम जल्द ही उसके फोटोग्राफ्स जारी करेंगे.

नवाब मलिक के आरोपों को समीर वानखेड़े ने किया खारिज

समीर वानखेड़े ने नवाब मलिक के दावों को गलत बताया. कहा कि ये सूचनाएं गलत हैं. दिसंबर में मैं मुंबई में था. मैं दुबई गया ही नहीं. इसकी जांच की जा सकती है. देश को झूठी जानकारी देने वाले बयानों की मैं निंदा करता हूं. ‘वसूली’ शब्द एक घृणित शब्द है. मैं संबंधित अधिकारियों से अनुमति लेकर मालदीव गया था. मैं अपने बच्चों और परिवार के सदस्यों के साथ सरकार की अनुमति से गया था. यदि वे इसे उगाही कहते हैं, तो मैं इसे बर्दाश्त नहीं करूंगा.

समीर वानखेड़े ने कहा कि मैं कभी दुबई नहीं गया. इसकी जांच करने के लिए एक तंत्र है. मैं अपनी बहन के साथ कभी दुबई नहीं गया. जो फोटो जारी किये गये हैं, वे मुंबई के मैं. मैं मुंबई में था. सच्चाई को कोई चीज की आंच नहीं. आप जांच करवा लें कि मैं कहां था. एयरपोर्ट से जानकारी ले सकते हैं. मेरे पासपोर्ट और वीजा से भी आप मामले की तफ्तीश कर सकते हैं.

एनसीबी मुंबई के जोनल डायरेक्टर ने कहा कि पिछले 15 दिनों से मेरे और मेरे परिवार पर व्यक्तिगत हमले हो रहे हैं. मेरी दिवंगत मां, मेरी बहन और रिटायर्ड पिता के बारे में गलतबयानी हो रही है. मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं. यह पूछे जाने पर कि क्या वह नवाब मलिक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे, समीर वानखेड़े ने कहा इसके लिए मुझे सरकार और अपने सीनियर अधिकारियों से अनुमति लेनी होगी. उसके बाद ही मैं कोई कानूनी कार्रवाई करूंगा.

नवाब मलिक के दावों पर एनसीबी का पलटवार

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक के दावों और सोशल मीडिया में वायरल हो रही कुछ सूचनाओं पर एनसीबी ने भी सफाई दी है. एक प्रेस नोट जारी करके एनसीबी ने समीर वानखेड़े की नियुक्त के बारे में स्पष्टीकरण दिया है. इसमें कहा गया है कि सोशल मीडिया में जो भी बातें वायरल हो रही हैं, वह तथ्यों से परे है.

प्रेस नोट में कहा गया है कि वर्ष 2019 में जोनल डायरेक्टर और डिप्टी डायरेक्टर की नियुक्ति का सर्कुलर जारी हुआ था. समीर वानखेड़े ने 28 नवंबर 2019 को एनसीबी के जोनल डायरेक्टर के पद पर प्रतिनियुक्ति के लिए डीआरआई के डीजी के माध्यम से आवेदन किया. सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेज एंड कस्टम्स ने 27 अक्टूबर 2020 को इस आवेदन को एनसीबी को अग्रेसित कर दिया.

इसके बाद 31 अगस्त 2020 को लोन बेसिस पर 6 महीने के लिए आईआरएस ऑफिसर समीर वानखेड़े को मुंबई का जोनल डायरेक्टर नियुक्त किया गया. एनसीबी मुंबआ का जोनल डायरेक्टर बनने के बाद उन्होंने दुबई जाने के लिए कोई आवेदन नहीं दिया. हां, परिवार के साथ मालदीव जाने की अनुमति उन्होंने संबंधित प्राधिकार से ली थी.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें