1. home Home
  2. national
  3. india railways tender for 58 new vande bharat trains 102 vande bharat express deliver by 2024

वंदे भारत की नई 58 ट्रेनों के लिए भारतीय रेलवे ने जारी किया टेंडर, जानें क्या है 2024 तक का प्लान

Indian Railway IRCTC Vande Bharat Trains भारतीय रेलवे ने 58 नई वंदे भारत ट्रेनों के उत्पादन के लिए टेंडर जारी किया है. साथ ही अगले वर्ष 23 अगस्त तक 75 वंदे भारत ट्रेनों की आपूर्ति करने का लक्ष्य रखा गया है. अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Vande Bharat Trains Latest News Updates
Vande Bharat Trains Latest News Updates
social media

Indian Railway IRCTC Vande Bharat Trains भारतीय रेलवे ने 58 नई वंदे भारत ट्रेनों के उत्पादन के लिए टेंडर जारी किया है. साथ ही अगले वर्ष 23 अगस्त तक 75 वंदे भारत ट्रेनों की आपूर्ति करने का लक्ष्य रखा गया है. अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है. हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, इस साल की शुरुआत में 44 वंदे भारत ट्रेनों के लिए टेंडर और 58 नए टेंडर के साथ हमारे पास 2024 तक 102 वंदे भारत ट्रेनें तैयार हो जाएंगी.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर 75 वंदे भारत ट्रेन चलाने की घोषणा की है. आजादी के अमृत महोत्सव (Azadi Ka Amrit Mahotsav) के 75 हफ्तों में देश के विभिन्न हिस्सों को जोड़ने के लिए ऐसी 75 ट्रेनें चलाई जाएंगी. वंदे भारत ट्रेन के लिए नए कोचों का निर्माण चेन्नई स्थित इंटीग्रल कोच फैक्टरी, रायबरेली स्थित माडर्न कोच फैक्टरी और कपूरथला स्थिति रेल कोच फैक्टरी में किया जाएगा. टेंडर की अंतिम तिथि 20 अक्टूबर, 2021 है. प्री-बिड मीटिंग (Pre Bid Meeting) 21 सितंबर को आयोजित की जाएगी. जबकि, प्री-बिड क्वैरीज (Pre Bid Queries) 14 सितंबर, 2021 को जमा करने की कट-ऑफ तारीख होगी.

58 नई वंदे भारत ट्रेनों के लिए टेंडर 28 अगस्त को जारी किया गया था. इसके निर्माण के लिए डिजाइन, विकास, निर्माण, एकीकरण और परीक्षण के लिए बोलियां आमंत्रित की गईं. भारतीय रेलवे ने बीते वर्ष सितंबर महीने में 44 सेमी-हाई स्पीड वंदे भारत ट्रेनों की खरीद के लिए एक संशोधित टेंडर जारी किया था, जिसमें 75 फीसदी स्वदेशी कलपुर्जो के इस्तेमाल को अनिवार्य बनाया गया था. बाद में सरकार ने इस परियोजना के लिए तीन वैश्विक टेंडरों को रद कर दिया था. एक अधिकारी ने बताया कि 28 अगस्त को नए टेंडर जारी होने के बाद अब मार्च, 2024 तक रेलवे को ऐसी 102 ट्रेनों की आपूर्ति की जाएगी. इनमें से 75 ट्रेनें 15 अगस्त, 2023 तक उपलब्ध होंगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 फरवरी, 2019 को नई दिल्ली-वाराणसी मार्ग पर वंदे भारत ट्रेन के पहले रन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था. वंदे भारत अडवांस फीचर्स से लैस लोकोमोटिव इंजन के बिना दौड़ने वाली देश की पहली ट्रेन है. नई दिल्ली और श्री माता वैष्णोदेवी कटरा के बीच इस तरह की दूसरी ट्रेन सेवा को 3 अक्टूबर को गृह मंत्री अमित शाह ने हरी झंडी दिखाई थी. वर्तमान में वंदे भारत ट्रेन की अधिकतम गति 110 किमी प्रति घंटे है. इसे आगे चलकर इसकी अधिकतम गति 130 किमी प्रति घंटे की जाएगी.

आने वाली नई वंदे भारत ट्रेनें आधुनिक सुविधाओं से लैस होंगी. इसमें आपात स्थिति में लोगों को बचाने में मदद के लिए मॉडर्न फीचर्स को शामिल किया गया है. नई आने वाली वंदे भारत ट्रेनों में जीपीएस-आधारित यात्री सूचना प्रणाली, सीसीटीवी कैमरे, स्वचालित स्लाइडिंग डोर तथा वैक्यूम आधारित बायो टॉयलेट समेत अन्य सुविधाएं शामिल हैं. वंदे भारत ट्रेनों में आपात स्थितियों में यात्रियों को निकालने के लिए चार आपातकालीन खिड़कियां लगाई जाएंगी. ट्रेनों में पुशबटन को बढ़ाकर दो से चार किया जाएगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें