1. home Hindi News
  2. national
  3. india china tension live updates border dispute lac galwan valley pm modi defence minister rajnath singh america russia china pakistan

India-China Tension Live Updates, LAC : लेह में बौद्धिस्‍टों ने चीन के खिलाफ किया प्रदर्शन, वीर सपूतों की याद में निकाला कैंडल मार्च

By amitabh kumar
Updated Date

India-China Tension Live Updates: लद्दाख के गलवान घाटी में चीन के ‘धोखे’ से देशभर में भारी आक्रोश है. देश के हर हिस्से में भारतीय सैनिकों की शहादत का बदला लेने की मांग उठी है. सरकार चीन को उसकी हिमाकत का मुंहतोड़ जवाब (India-China Ladakh Faceoff) देने की तैयारी में है. पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने साफ तौर पर कहा है कि शहीदों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी. इधर भारत-चीन के बीच (india china war) झड़प पर वाइट हाउस (india-china, america)का बयान भी सामने आया है जिसमें कहा गया है कि हमें इस बारे में जानकारी मिली है. हमारी इसपर नजर है. एलएसी (LAC) से जुड़ी हर खबर के लिए बनें रहें हमारे साथ...

email
TwitterFacebookemailemail

लेह में बौद्धिस्‍टों ने चीन के खिलाफ किया प्रदर्शन, वीर सपूतों की याद में निकाला कैंडल मार्च

लेह में लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन ने चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. बौद्धिस्‍टों ने हाथ में बैनर-पोस्‍ट लेकर चीन का विरोध किया और 20 भारतीय सैनिकों की शहादत को श्रद्धांजलि देने के लिए एक कैंडल मार्च निकाला.

email
TwitterFacebookemailemail

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घोषणा की कि गलवान घाटी में शहीद हुए जवान गणेश राम कुंजाम के नाम पर रखा स्‍कूल का नाम रखा जाएगा. साथ ही उन्‍होंने शहीद के परिजन को 30 लाख और एक सदस्‍य को सरकारी नौकरी देने की भी घोषणा की.

email
TwitterFacebookemailemail

भारत और चीन के बीच 6 घंटे तक चली मेजर जेनरल स्‍तर की बातचीत

15-16 जून को गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद भारत और चीन के बीच आज मेजर जेनरल स्‍तर की बातचीत हुई. बैठक करीब 6 घंटे तक चली, जिसमें सीमा पर तनाव को लेकर चर्चा हुई.

email
TwitterFacebookemailemail

शहीद नायब सूबेदार सतनाम सिंह का पार्थिव शरीर लाया गया घर, श्रद्धांजलि के लिए उमड़ा जनसैलाब

गलवान घाटी में जान गंवाने वाले नायब सूबेदार सतनाम सिंह का पार्थिव शरीर गुरदासपुर स्‍थित उनके घर लाया गया. उन्हें अंतिम श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों का जमावड़ा लग गया.

email
TwitterFacebookemailemail

चीन के खिलाफ देश में गुस्‍सा, लगा गो बैक चाइना के नारे, तोड़े गये मोबाइल फोन

लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में 20 जवानों की शहादत के बाद देश में गुस्‍सा बढ़ता जा रहा है. लोगों ने चीनी राष्‍ट्रपित शी जिनपिंग के पोस्‍ट को जलाया और चाइनीज मोबाइल फोन को सड़क पर तोड़ा. कोलकाता से खबर है कि शिवसेना समर्थकों ने चीनी कॉन्सुलेट के सामने चीन के विरोध में चीनी कंपनियों द्वारा बनाए गए मोबाइल तोड़े और 'गो बैक चाइना' के नारे लगाकर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के पोस्टर जलाए.

email
TwitterFacebookemailemail

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की शव यात्रा

कानपुर के लोगों ने प्रतीकात्मक रूप से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की शव यात्रा निकाली. गलवान घाटी में भारत-चीन के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गये थे, इसके विरोध में यहां लोगों ने शव यात्रा निकाली. इधर, बिहार के पटना में जन अधिकार पार्टी के पप्पू यादव और उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने चीन की मोबाइल कंपनी के होर्डिंग पर 'नो चाइना' और क्रास के निशान बनाए.

email
TwitterFacebookemailemail

तनाव के बीच चीन के सुर नरम

तनाव के बीच चीन के सुर नरम पड़ते नजर आ रहे हैं. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि दोनों देश तनाव कम करने के पक्ष में है. हालांकि उसने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा है कि भारत एलएसी क्रॉस कर रहा है, जिसकी वजह से हिंसक झड़प हुई.

email
TwitterFacebookemailemail

‘हथियार के बिना' सैनिकों को खतरे की ओर किसने भेजा, कौन जिम्मेदार है: राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने को लेकर बृहस्पतिवार को फिर से सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि ‘हमारे सैनिकों को हथियार के बिना खतरे की ओर से किसने भेजा और इसके लिए कौन जिम्मेदार है.' उन्होंने एक वीडियो जारी कर कहा, ‘‘चीन ने शस्त्रहीन भारतीय सैनिकों की हत्या करके बहुत बड़ा अपराध किया हैं.मैं पूछना चाहता हूं कि इन वीरों को बिना हथियार के खतरे की ओर से किसने भेजा? क्यों भेजा? कौन जिम्मेदार है?''

email
TwitterFacebookemailemail

1962 वाले हालात अब भारत के नहीं

अमेरिका की जानी-मानी वेबसाइट सीएनएन ने भारत-चीन तनाव पर एक रिपोर्ट दी है जिसके अनुसार यदि युद्ध हुआ तो भारत का पलड़ा भारी रह सकता है. रिपोर्ट में यह साफ कहा गया है कि 1962 वाले हालात अब भारत के नहीं हैं. अब भारत की ताकत बहुत बढ़ गई है.

email
TwitterFacebookemailemail

आखिरी सलामी देने सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंचे

शहीद हवलदार सुनील कुमार का पार्थिव शरीर गुरुवार को बिहार में उनके गांव मनेर पहुंचा. शहीद को आखिरी सलामी देने के लिए सैकड़ों की संख्या में नम आंखों के साथ लोग पहुंचे. कोरोना महामारी के बीच भीड़ को नियंत्रित करना पुलिस के लिए काफी मशक्कत भरा काम होता नजर आया.

email
TwitterFacebookemailemail

आज शाम आएगा शहीद जवान गणेश हांसदा का पार्थिव शरीर

झारखंड के बहरागोड़ा के शहीद जवान गणेश हांसदा का पार्थिव शरीर शाम 4 बजे रांची एयरपोर्ट आ सकता है. राज्यपाल और मुख्यमंत्री श्रद्धांजलि दे सकते हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

फिर होगी बातचीत

गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच बातचीत का दौर जारी है. न्यूज़ एजेंसी ANI की मानें तो, अब से कुछ देर बाद मेजर जनरल लेवल की बातचीत दोबारा शुरू होगी.

email
TwitterFacebookemailemail

सूबेदार मनदीप सिंह के घर पहुंच रहे हैं लोग

पटियाला: भारत-चीन के बीच हुई झड़प में जान गंवाने वाले नायब सूबेदार मनदीप सिंह के घर पर लोग लगातार पहुंच रहे हैं और उनके अंतिम दर्शन कर रहे हैं. मंदीप सिंह के एक रिश्तेदार ने बताया कि मंदीप सिंह एक बहुत ही बहादुर लीडर थे जिन्होंने हमारे देश के लिए लड़ते-लड़ते अपनी जान न्यौछावर कर दी.

email
TwitterFacebookemailemail

कर्नल संतोष बाबू को गार्ड ऑफ ऑनर

सूर्यपेट: 16 बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. गलवान घाटी में भारत-चीन के बीच हुई झड़प में कर्नल संतोष बाबू शहीद हुए थे.

email
TwitterFacebookemailemail

चीन ने दिया एक बार शर्मनाक बयान

चीन ने एक बार शर्मनाक बयान दिया है. गलवान घाटी पर देर रात फिर उसने अपना दावा किया जिसका भारत ने जवाब दिया है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि दोनों देशों के बीच 6 जून को हुई कमांडर स्तर की बातचीत में बॉर्डर पर तनाव कम करने और जिम्मेदारी के साथ आगे बढ़ने पर बात हुई थी. अब इस तरह के बयान से समझौते को ठेस पहुंचेगी.

email
TwitterFacebookemailemail

सैनिकों की छुट्टियां कैंसिल, गांव कराए जा रहे हैं खाली

एलएसी पर भारतीय सैनिकों की शहादत के बाद मोदी सरकार एक्शन में आ गयी है. सारे सैनिकों की छुट्टियां कैंसिल कर दी गयी है जबकि देमचोक और पैंगॉन्ग लेक के आसपास के गांव खाली कराने का काम किया जा रहा है. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 जून को सर्वदलीय बैठक बुलाया है.

BSNL का आग्रह

भारत-चीन के बीच जारी तनाव के बीच टेलिकॉम ​डिपार्टमेंट सरकारी टेलिकॉम कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) से 4G अपग्रेडेशन सुविधा में चीनी इक्विमेंट्स का इस्तेमाल नहीं करने का आग्रह किया है.

email
TwitterFacebookemailemail

सुनील कुमार का अंतिम संस्कार

पटना में हवलदार सुनील कुमार के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जा रहा है. गलवान वैली में भारत-चीन में हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के हवलदार सुनील कुमार शहीद हुए हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

वाइट हाउस का बयान

लद्दाख में भारत-चीन के बीच झड़प पर वाइट हाउस का बयान सामने आया है. वाइट हाउस ने कहा है कि हमें इस बारे में जानकारी मिली है. हमारी इसपर पैनी नजर है. झड़प की वजह से 20 जवानों की मौत वाला भारतीय सेना का बयान हमने देखा है. इसपर शोक व्यक्त करते हैं. भारत-चीन के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा मध्यस्थता के सवाल पर वाइट हाउस की प्रेस सचिव का कहना है कि ऐसी कोई औपचारिक योजना फिलहाल नहीं है.

protest
protest
prabhat khabar
email
TwitterFacebookemailemail

वे मारते-मारते शहीद हुए : नरेंद्र मोदी

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ‘भारत शांति चाहता है, लेकिन उकसाने पर हर हाल में यथोचित जवाब देने में सक्षम में है. जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा. हमें अपने जवानों पर गर्व है, वे मारते-मारते शहीद हुए हैं.’ इधर, दिल्ली में बुधवार को गहमागहमी तेज रही. दिन में सीडीएस व सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की बैठक हुई. रात में प्रधानमंत्री आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक हुई. इस दौरान सैन्य तैयारियों पर भी चर्चा हुई. ठोस कार्रवाई की तैयारी के बीच पीएम मोदी ने शुक्रवार को सभी दलों की बैठक बुलायी है. यह तो तय है कि भारत ठोस कदम उठायेगा.

email
TwitterFacebookemailemail

आइटीबीपी की चौकियों की कमान सेना ने संभाली

लद्दाख में सेना ने अपनी ऑपरेशनल तैयारियों को तेजी देते हुए आइटीबीपी की अग्रिम निगरानी चौकियों का कार्यभार अपने पास ले लिया है. हालांकि, रक्षा मंत्रालय ने इसकी पुष्टि नहीं की है. यह जानकारी जम्मू से प्रभात खबर के प्रतिनिधि सुरेश एस डुग्गर ने दी है. शुक्रवार को कश्मीर से सेना के जवानों की अतिरिक्त टुकड़ियां साजो -सामान के साथ पूर्वी लद्दाख के लिए रवाना हुईं.

email
TwitterFacebookemailemail

ऑस्ट्रेलिया, भारत स्थापित व्यवस्था के नियमों का करते हैं पालन, लेकिन चीन नहीं : ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया के दूत बैरी ओ फरेल ने कहा कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद नियम और तकाजे को लेकर स्थापित व्यवस्था का भारत और ऑस्ट्रेलिया पालन कर रहे हैं लेकिन चीन ऐसा नहीं कर रहा. ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त ने जोर दिया कि दक्षिण चीन सागर में चीन एकतरफा तरीके से यथास्थिति बदलने का प्रयास कर रहा है. यह इस विषय पर बनी आम सहमति और वार्ता के मुताबिक नहीं है.

email
TwitterFacebookemailemail

भारत, चीन की सेनाओं के बीच मेजर जनरल स्तरीय वार्ता बेनतीजा रही : सूत्र

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हिंसक झड़प वाले स्थान के पास भारत और चीन की सेनाओं के डिविजनल कमांडरों के बीच बैठक बेनतीजा रही. सैन्य सूत्रों ने इस बारे में बुधवार को जानकारी दी. मेजर जनरल स्तरीय बातचीत में गलवान घाटी से सैनिकों के पीछे हटने की प्रक्रिया को लागू करने पर चर्चा हुई. छह जून को दोनों पक्षों के बीच उच्च स्तरीय सैन्य वार्ता में इसी पर सहमति बनी थी. लेह स्थित 3 इन्फेंट्री डिविजन के कमांडर मेजर जनरल अभिजीत बापट ने वार्ता में भारतीय प्रतिनिधित्व का नेतृत्व किया. मंगलवार को भी दोनों पक्षों के बीच मेजर जनरल स्तरीय बातचीत हुई.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें