1. home Hindi News
  2. national
  3. government of india announced everyone above the age of 18 to be eligible to get corona vaccine aml

देश के यूथ को बचाने के लिये पीएम मोदी का सबसे बड़ा फैसला, 1 मई से 18+ को Corona Vaccine

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Corona Vaccine
Corona Vaccine
twitter

नयी दिल्ली : कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर बड़ी खबर आई है. अब 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को भी कोरोना वैक्सीन लगायी जायेगी. इसकी शुरुआत 1 मई ये होगी. जल्द ही इसकी विस्तृत गाइडलाइन जारी कर दी जायेगी. केंद्र सरकार ने आज तीसरे फेज के वैक्सीनेशन ड्राइव के तहत इसकी घोषणा की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश के बड़े डॉक्टरों और फार्मा कंपनियों के साथ आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के साथ बैठक की है.

सरकार की ओर से बताया गया कि प्राइवेट अस्पतालों में एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन लगाया जायेगा. सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर पहले वाली व्यवस्था लागू रहेगी. निजी अस्पतालों को कोविड वैक्सीन की आपूर्ति भारत सरकार के चैनल के अलावा अन्य चैनल से 50 फीसदी प्राप्त करनी होगी. प्राइवेट टीका निर्माताओं को उनकी 50 प्रतिशत तक आपूर्ति पूर्व घोषित दाम पर राज्य सरकारों और खुले बाजार में बेचने का अधिकार दिया गया है.

केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को टीका निर्माताओं से अतिरिक्त खुराक सीधे खरीदने का अधिकार दे दिया है. केंद्र ने कहा कि टीका निर्माताओं को उत्पादन और बढ़ाने के लिए तथा नये राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय विनिर्माताओं को आकर्षित करने के लिए प्रोत्साहन दिये जा रहे हैं. विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण में टीकों की खरीद और टीका लगवाने की पात्रता में ढील दी जा रही है.

पीएम मोदी ने आज देश के प्रमुख डॉक्टरों के साथ बातचीत के दौरान बताया कि इस बार टियर 2 और टियर 3 शहरों में भी महामारी तेजी से फैल रही है. पीएम मोदी ने ऐसे स्थानों में संसाधनों के उन्नयन के प्रयासों में तेजी लाने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में टीकाकरण सबसे बड़ा हथियार है. उन्होंने डॉक्टरों से आग्रह किया कि वे अधिक से अधिक रोगियों को टीका लगाने के लिए प्रोत्साहित करें.

पीएम मोदी ने डॉक्टरों से कोविड के उपचार और रोकथाम पर कई अफवाहों के खिलाफ लोगों को शिक्षित करने का आग्रह भी किया. डॉक्टरों ने कोविड महामारी से निपटने के अपने अनुभव साझा किए. उन्होंने यह भी बताया कि वे हेल्थकेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर को कैसे बढ़ा रहे हैं. उन्होंने गैर-कोविड रोगियों के लिए स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को बनाए रखने के बारे में भी जोर दिया.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें