38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

‘ये लोकतंत्र की हत्या है…’, चंडीगढ़ मेयर चुनाव मामले पर बिफरे CJI, दिया यह निर्देश

चंडीगढ़ मेयर चुनाव पर विवाद में सुप्रीम कोर्ट की ओर से सख्त टिप्पणी आई है. कोर्ट ने कहा कि चुनाव अधिकारी स्पष्ट रूप से मतपत्रों को विकृत कर रहे थे. कोर्ट ने मतपत्रों को विकृत करने का वीडियो देखा, कहा कि वह चुनाव अधिकारी के व्यवहार से हैरान है.

चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के आरोप में आम आदमी पार्टी का विरोध प्रदर्शन जारी है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने चंडीगढ़ मेयर चुनाव को लेकर पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल के माध्यम से मतपत्र, वीडियोग्राफी और अन्य सामग्री सहित चुनाव प्रक्रिया के पूरे रिकॉर्ड को संरक्षित करने का आदेश दिया है. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिया है कि चंडीगढ़ निगम की आगामी बैठक को सुनवाई की अगली तारीख तक के लिए टाल दिया जाए. वहीं चंडीगढ़ मेयर चुनाव पर बोले सीजेआई जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा है कि यह लोकतंत्र की हत्या है.

जारी है आम आदमी पार्टी का विरोध प्रदर्शन
इधर, चंडीगढ़ महापौर चुनाव में कथित धांधली के विरोध में बीजेपी के खिलाफ आम आदमी पार्टी का विरोध प्रदर्शन जारी है. विरोध कर आप कार्यकर्ताओं ने पुलिस के साथ भी बहस की. बता दें, कथित रूप में चुनाव में धांधली के आरोप में आम कार्यकर्ता नगर निगम कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल पर बैठे हैं. वहीं पुलिस ने एक पार्षद समेत पांच आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने मौके से हटा दिया. इसके बाद पुलिस ने धरने पर बैठे सभी प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया.

AAP कर रही है कार्रवाई की मांग

इससे पहले नगर निगम कार्यालय के बाहर आम आदमी पार्टी के चंडीगढ़ सह-प्रभारी सन्नी अहलूवालिया की अगुवाई में आप पार्षदों ने बीजेपी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. आप कार्यकर्ताओं ने महापौर के चुनाव के दौरान मतपत्रों में कथित छेड़छाड़ करने वाले अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. इसके बाद गुस्साए कार्यकर्ताओं ने नगर निगम कार्यालय में प्रवेश करने की कोशिश की, जिसके बाद उनकी पुलिस से बहस हो गई.

बीजेपी ने जीता मेयर चुनाव
गौरतलब है कि चंडीगढ़ में हुए मेयर चुनाव में बीजेपी ने कांग्रेस और आप गठबंधन के खिलाफ जीत हासिल की थी. बीजेपी के मनोज सोनकर ने महापौर पद के चुनाव में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुलदीप कुमार को हरा दिया था. कुलदीप कुमार को चुनाव में 12 वोट मिले थे, जबकि मनोज सोनकर को 16 वोट मिले थे. चुनाव में आठ वोट अवैध घोषित कर दिए गए थे. भाषा इनपुट के साथ

Also Read: सप्ताह में एक दिन बीमार पत्नी से मिल पाएंगे मनीष सिसोदिया, कोर्ट ने दी इजाजत

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें