1. home Hindi News
  2. national
  3. budget 2021 baba ramdev happy with budget give challenge show me better budget and loot everything avd

Budget 2021 : बजट से खुश बाबा रामदेव, दे डाली चुनौती - इससे बेहतर बजट बनाकर दिखा दो, सब कुछ लुटा दूंगा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बजट से खुश बाबा रामदेव
बजट से खुश बाबा रामदेव
twitter

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को 2021-22 के लिए आम बजट पेश किया. मोदी सरकार के नये बजट को जहां भाजपा ने सराहा है, तो विपक्ष ने बजट की आलोचना की है और कहा है कि इससे आम लोगों को कोई लाभ नहीं होगा. अब योग गुरु बाबा रामदेव का भी बजट को लेकर प्रतिक्रिया आया है. बाबा रामदेव ने बजट को सराहा है और कहा है कि यह आत्म निर्भर भारत को और मजबूती देगा.

बाबा रामदेव ने बजट की सराहना करते हुए विपक्ष को बड़ी चुनौती भी दे डाली है. उन्होंने विपक्ष पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि अगर इससे बेहतर बजट कोई पेश कर दे तो वे अपना सब कुछ लुटा देंगे. बाबा रामदेव ने कहा, ऐसी बजट की आवश्यकता थी, जिससे दिर्घकालिक आधारशिला तैयार की जा सके. बाबा रामदेव ने बजट को शानदार बताया और कहा, इससे आने वाले 10 साल में भारत और भी मजबूत होगा.

बाबा रामदेव ने बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अगर कोई नेता ऐसी स्थिति में इससे बेहतर बजट बनाकर दिखा दे तो मैं 2024 में उसको जिताने के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने को तैयार हूं.

बाबा रामदेव ने बजट को लेकर कहा, सरकार नीतियां बना सकती है, लेकिन किसानों को भी अपनी आय दोगुनी करने की दिशा में काम करना होगा. उन्होंने किसानों को सलाह दी है कि आय दोगुनी करने के लिए किसान डेयरी उद्योग पर ध्यान दे. रही बात इन्फ्रास्ट्रक्चर की तो सरकार इसपर पूरा ध्यान दे रही है.

गौरतलब है कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को कहा कि सरकार किसानों के कल्याण के लिये प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि उत्पादन लागत की तुलना में कम से कम 1.5 गुना कीमत सुनिश्चित करने के लिये न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की व्यवस्था में व्यापक बदलाव आया है. इसके साथ ही किसानों से अनाजों की खरीद और उनको किया जाने वाला भुगतान तेजी से बढ़ा है. वित्त मंत्री ने बजट भाषण में कहा कि पिछले छह साल में धान, गेहूं, दालों और कपास जैसी फसलों की खरीद कई गुना बढ़ी है.

उन्होंने कहा, हमारी सरकार किसानों के कल्याण के लिये प्रतिबद्ध है. सभी जिंसों के लिये उत्पादन की लागत से कम से कम डेढ़ गुना कीमत सुनिश्चित करने के लिये एमएसपी व्यवस्था में व्यापक बदलाव किये गये हैं. सीतारमण ने कहा, किसानों से खरीद लगातार बढ़ रही है. इससे किसानों को किया जाने वाला भुगतान भी काफी बढ़ा है.

Posted By - Arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें