17.1 C
Ranchi
Wednesday, February 28, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

अरब सागर में मालवाहक जहाज एमवी रुएन को अगवा करने की कोशिश, भारतीय नौसेना ने ऐसे की त्वरित कार्रवाई

भारतीय नौसेना ने कहा है कि इंडियन नेवी ने क्षेत्र में निगरानी करने वाले अपने नौसेना समुद्री गश्ती विमान को एमवी रुएन का पता लगाने और सहायता करने के लिए अदन की खाड़ी में एंटी पाइरेसी गश्ती पर अपने युद्धपोत को भेज दिया है. विमान ने 15 दिसंबर 23 की सुबह अपहृत जहाज के ऊपर से उड़ान भरी.

अरब सागर में समुद्री लुटेरों के चंगुल में फंसे माल्टा के जहाज को भारतीय नौसेना रेस्क्यू करने में जुटी है. दरअसल भारतीय नौसेना को 14 दिसंबर को अलर्ट मिला था. इसके बाद नौसेना ने एक्टिव होते हुए अपना युद्धपोत अदान की खाड़ी में हाईजैक हुए जहाज एमवी रुएन की मदद के लिए भेज दिया.  जानकारी के मुताबिक छह अज्ञात लोगों ने जहाज को हाइजैक कर लिया है, जिसमें 18 चालक दल मौजूद हैं. नौसेना ने बताया कि जानकारी मिलने के बाद नौसेना के त्वरित कार्रवाई की है. फिलहाल नौसेना का ऑपरेशन जारी है.

भारतीय नौसेना कर रही है निगरानी

भारतीय नौसेना ने कहा है कि इंडियन नेवी ने क्षेत्र में निगरानी करने वाले अपने नौसेना समुद्री गश्ती विमान और एमवी रुएन का पता लगाने और सहायता करने के लिए खाड़ी अदन में एंटी पाइरेसी गश्ती पर अपने युद्धपोत को भेज दिया है. विमान ने 15 दिसंबर 23 की सुबह अपहृत जहाज के ऊपर से उड़ान भरी और आईएन विमान लगातार जहाज की गतिविधि की निगरानी कर रहे हैं, जो अब सोमालिया के तट की ओर बढ़ रहा है. रतीय नौसेना के युद्धपोत, जिसे समुद्री डकैती रोधी गश्त के लिए अदन की खाड़ी में तैनात किया गया था, ने 16 दिसंबर 23 के शुरुआती घंटों में एमवी रुएन को भी रोक दिया है.

सोमालिया की ओर बढ़ रहा है जहाज
जिस कार्गो शिप को हाईजैक किया गया है, उस पर माल्टा का झंडा लगा हुआ है.भारतीय नौसेना ने घटना को लेकर कहा है कि स्थिति पर तेजी से प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय नौसेना ने क्षेत्र में निगरानी करने वाले अपने गश्ती जहाज को एमवी रुएन का पता लगाने और सहायता करने के लिए भेज दिया है. खबर मिल रही है कि एमवी रुएन सोमालिया के तट की ओर बढ़ रहा है.

भारतीय नौसेना की स्थिति पर नजर

घटना को लेकर बताया जा रहा है कि अपहृत जहाज ने यूकेएमटीओ पोर्टल पर 14 दिसंबर को संदेश भेजा था. संदेश में कहा गया था कि 6 अज्ञात लोगों के जहाज पर सवार होने का संकेत मिल रहा है. इसपर भारतीय नौसेना ने तेजी से प्रतिक्रिया देते हुए इलाके में निगरानी करने वाले अपने नौसेना समुद्री गश्ती विमान को अपहृत जहाज का पता लगाने के लिए भेज दिया. इसके बाद एमवी रुएन की खोजबीन के लिए अदन की खाड़ी से अपने युद्धपोत को भेज दिया.

Also Read: ‘वादियों के लिए हमेशा खुले रहने चाहिए अदालत के दरवाजे’ विदाई समारोह में बोले सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस कौल

इसी कड़ी में रक्षा मंत्रालय की ओर से बयान आया कि 15 दिसंबर को अपहृत जहाज के ऊपर से एक जहाज ने उड़ान भरी. इसके बाद आईएन विमान लगातार अपहृत जहाज की निगरानी कर रहे हैं. नौसेना ने कहा है कि जहाज पर सोमालिया के तट की ओर बढ़ रहा है. पूरी स्थिति पर भारतीय नौसेना नजर बनाये हुए है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें