1. home Home
  2. national
  3. 1328409

प्लास्टिक के कारण हो रही है पशुओं की मौत, सरकार गंभीर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : केंद्रीय मंत्री रतन लाल कटारिया ने बृहस्पतिवार को कहा कि लाखों पशु प्लास्टिक के कारण मर रहे हैं और सरकार ने उसका गंभीर संज्ञान लिया है . उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की जयंती दो अक्टूबर को पूरा देश खुले में शौच से मुक्त हो जाएगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मौके पर एकल उपयोग प्लास्टिक के विरूद्ध राष्ट्रव्यापी मुहिम छेड़ सकते हैं. उन्होंने एक कार्यक्रम के मौके पर कहा, ‘‘ बुधवार को मैं प्रधानमंत्री के साथ मथुरा में था. वहां लाखों पशु प्लास्टिक के कारण मर रहे हैं.

सरकार ने उसका गंभीर संज्ञान लिया है और उस दिशा में कदम उठाये जायेंगे.'' एकल उपयोग वाले प्लास्टिक का इस्तेमाल 2022 तक पूरी तरह समाप्त करने की कोशिश में जुटे प्रधानमंत्री दो अक्टूबर को कुछ चीजों पर पाबंदी की घोषणा कर सकते हैं. मोदी ने अपने स्वतंत्रता दिवस संबोधन में लोगों से प्लास्टिक थैलियों का उपयोग नहीं करने और तकनीशियनों एवं उद्यमियों से प्लास्टिक के पुनर्चक्रण के नवोन्मेषी तरीके इजाद करने की अपील की थी.
केंद्रीय जल शक्ति राज्यमंत्री कटारिया ने कहा कि मोदी के स्वच्छ भारत मिशन शुरू करने के पहले ‘‘संभवत: मैं भी स्वच्छता की जरूरत के बारे में वाकिफ नहीं था'' उन्होंने कहा, ‘‘शायद, कभी कभी मैं भी अपने घर के आसपास रद्दी फेंक देता हूं. लेकिन इस अभियान ने लोगों को जागरूक बनाया. जब मेरे एक परिचित विधायक कार में केला खा रहे थे तब उनकी पोती ने उनसे कहा था कि छिलके सड़क पर मत फेंकना, मोदी देख रहा है.'' मंत्री ने कहा कि सरकार अब 2024 तक देश में 17 करोड़ परिवारों को नल वाला पानी प्रदान करने को कटिबद्ध है.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें