मणिशंकर अय्यर Returns, बोले - मोदी के खिलाफ ‘नीच'' वाली टिप्पणी पर अब भी कायम, कांग्रेस ने पल्ला झाड़ा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : महीनों की खामोशी के बाद कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर मंगलवार को उस वक्त फिर सुर्खियों में आ गये जब उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपनी ‘नीच' वाली पुरानी टिप्पणी को सही ठहराया और दावा किया कि मोदी अब तक के सबसे ज्यादा ‘ऊटपटांग' बयान देने वाले प्रधानमंत्री हैं.

इस संबंध में ‘राइजिंग कश्मीर' और ‘द प्रिंट' में प्रकाशित अय्यर के लेख पर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए उन्हें ‘एब्यूजर-इन-चीफ' करार दिया है. कांग्रेस ने हालांकि कहा है कि लेख में अय्यर ने जो कहा है कि वह उनकी निजी राय है. अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया रैलियों के बयानों का हवाला देते हुए लेख में कहा है, देश की जनता की किसी भी सूरत में 23 मई को मोदी को सत्ता से हटा देगी. अब तक के सबसे ज्यादा ऊटपटांग बयान देने वाले प्रधानमंत्री की यह माकूल विदाई होगी. याद है 2017 में मैंने मोदी को क्‍या कहा था? क्‍या मैंने सही भविष्‍यवाणी नहीं की थी? दरअसल, अय्यर ने 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री मोदी को 'नीच किस्म का आदमी' कहा था. इस बयान पर खासा बवाल मचा था और बाद में कांग्रेस नेता को माफी मांगनी पड़ी थी. कांग्रेस ने उन्हें निलंबित कर दिया था, हालांकि कुछ महीनों के बाद निलंबन निरस्त हो गया था.

भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने ट्वीट कर कहा, एब्यूजर-इन-चीफ अय्यर एक बार फिर आ गये हैं और 2017 की अपनी ‘नीच' वाली टिप्पणी को सही ठहराया है. उन्होंने कहा, अय्यर ने माफी मांगी और कमजोर हिंदी का बहाना बना दिया. अब वह कहते हैं कि उन्होंने भविष्यवाणी की थी. कांग्रेस ने पिछले साल उनका निलंबन निरस्त किया था. इससे कांग्रेस की दोहरी जुबान और अहंकार का पता चलता है. कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने अय्यर के लेख के बारे में पूछे जाने पर कहा कि खुद लेख में कहा गया है कि ये लेखक के निजी विचार हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें