1. home Hindi News
  2. business
  3. sail fy 22 results sail declares financial results for fy22 revenue crosses rupees one lakh crore smb

SAIL FY 22 Results: सेल का वित्तीय परिणाम जारी, एक लाख करोड़ रुपये से भी अधिक का किया कारोबार

सार्वजनिक क्षेत्र की इस्पात कंपनी सेल (SAIL) ने 31 मार्च, 2022 को समाप्त बीते वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वार्षिक वित्तीय परिणाम घोषित कर दिए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
SAIL FY 22 Results: revenue crosses rupees one lakh crore
SAIL FY 22 Results: revenue crosses rupees one lakh crore
File Pic

SAIL FY 22 Results: सार्वजनिक क्षेत्र की इस्पात कंपनी सेल (SAIL) ने 31 मार्च, 2022 को समाप्त बीते वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वार्षिक वित्तीय परिणाम घोषित कर दिए हैं. वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान, स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड ने अब तक का सर्वश्रेष्ठ उत्पादन और विक्रय दर्ज किया है. इसके अलावे कंपनी ने अब तक का सर्वाधिक 1,03,473 करोड़ रुपये का कारोबार करने के साथ ही 22,364 करोड़ रुपये का EBITDA दर्ज किया है.

अब तक का सर्वाधिक 1,03,473 करोड़ रुपये का कारोबार

सेल ने यह शानदार प्रदर्शन स्टील की मांग में बढ़ोत्तरी और सकारात्मक बिजनेस के माहौल के चलते किया है, जो बाजार में उभरते हुए अवसरों को हासिल करने के लिए उत्पादन बढ़ाने और तकनीकी-आर्थिक मापदंडों को बेहतर करने की दिशा में सामूहिक और ठोस प्रयासों का नतीजा है. वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान कंपनी को बेहतरीन ऑपरेशनल परफार्मेंस के कारण वित्तीय प्रदर्शन में उल्लेखनीय सुधार हुआ है. सेल ने प्रचालन से अब तक का सर्वाधिक 1,03,473 करोड़ रुपये का कारोबार किया है. कंपनी की ओर से उधारी कम करने को लेकर भी अभियान जारी है, जो 31 मार्च 2022 में 13,400 करोड़ रुपये से नीचे आ गई.

प्रति शेयर 2.25 डिविडेंड की घोषणा

इसके साथ ही सेल ने हितधारकों के साथ सक्रिय भागीदारी पर अपना ध्यान केंद्रीत किया है. इसके तहत, शेयरधारकों के साथ लाभ का बंटवारा करते हुए कंपनी ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 2.25 रुपया अंतिम लाभांश की घोषणा की है. सेल ने वित्त वर्ष 2021-22 में अब तक का सबसे अधिक लाभांश यानी 8.75 रुपया प्रति शेयर घोषित किया है, जिसमें वित्त वर्ष 2021-22 के लिए पहले से भुगतान किए गए दो अंतरिम लाभांश शामिल हैं.

कार्मिकों के लिए वेज रिविजन लागू

सेल ने राष्ट्रीय महत्व की विभिन्न परियोजनाओं जैसे सेंट्रल विस्टा दिल्ली, मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल, दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस, पोलावरम सिंचाई परियोजना, कालेश्वरम सिंचाई परियोजना, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, देश भर में कई मेट्रो रेल परियोजनाओं आदि के लिए स्टील की आपूर्ति की है. मुख्य रूप से कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान सेल ने 1.3 लाख टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति की. सेल संयंत्रों ने अलग जंबो कोविड केयर फेसिलिटीज की स्थापना की, जिससे कोविड-19 डेडीकेटेड बेड्स की संख्या बढ़ी. वहीं, सेल ने अपने कार्मिकों के लिए वेज रिविजन लागू किया है.

कंपनी इस योजना पर कर रही काम

वित्त वर्ष 2021-22 का यह रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन संगठन के आपसी सुचारु तालमेल का नतीजा है. हालांकि, चौथी तिमाही के नतीजों को इनपुट लागतों में अभूतपूर्व वृद्धि, विशेष रूप से विभिन्न कारणों से आयातित कोकिंग कोल की कीमतों में बढ़ोत्तरी के चलते पूरी तरह से अछूता नहीं रखा जा सका. चुनौतियों के बावजूद, कंपनी ने लागत को नियंत्रित करने के लिए कई सक्रिय कदम उठाए हैं. कंपनी आगे बढ़ते हुए अपनी प्रक्रियाओं और प्रोडक्ट बास्केट में निरंतर सुधार के लिए विभिन्न उपाय के जरिये अधिक इनपुट लागत और बाजार मूल्य अस्थिरता की दोहरी चुनौतियों का सामना करने करने के लिए योजना पर कार्य कर रही है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें