1. home Hindi News
  2. business
  3. reliance institutions right entitlement strongly demands on second day too

रिलायंस इंस्ट्रीज के ‘राइट एनटाइलमेंट' के लिये दूसरे दिन भी जोरदार मांग

By Agency
Updated Date
रिलायंस इंस्ट्रीज के ‘राइट एनटाइलमेंट' के लिये दूसरे दिन भी जोरदार मांग
रिलायंस इंस्ट्रीज के ‘राइट एनटाइलमेंट' के लिये दूसरे दिन भी जोरदार मांग
Twitter

मुंबई : शेयर बाजारों में रिलायंस इंडस्ट्रीज के ‘राइट एनटाइलमेंट' (आरआईएल-आरई) के डिमैट कारोबार में दूसरे दिन भी जोरदार मांग रही. यह 15.6 प्रतिशत के लाभ के साथ बंद हुआ. पेट्रोलियम से लेकर दूरंसचार तक विविध कारोबार करने वाली कंपनी आरआईएल ने 53,125 करोड़ रुपये के राइट इश्यू की घोषणा की है. यह राइट इश्यू बुधवार को शेयरधारकों की खरीदारी के लिये खुल गया है. यह पहला ऐसा राइट इश्यू है जिसमें पात्र शेयरधारकों को डिमैट रूप में ही शेयर पात्रता प्रमाण प्राप्त हुए हैं. इसका करोबार शेयर बाजारों में हो सकता है. शेयर बाजारों के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार आरआईएल-आरई कारोबार के दौरान 258.30 रुपये तक गया. यह पिछले बंद भाव के मुकाबले 27.8 प्रतिशत अधिक है.

भाषा के मुताबिक नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में बृहस्पतिवार को आरआईएल-आरई 212 पर खुला और 233.60 पर बंद हुआ. यानी इसमें 15.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई. रिलायंस के सभी आरई का बाजार मूल्य 9,805 करोड़ रुपये हैं. राइटट्स ऐंटाइटलमेंट का दाम रिलायंस शेयर के बाजार भाव और उसके राइट इश्यू मूल्य का अंतर है. बृहस्पतिवार को आरआईएल का शेयर मूल्य 1,444 रुपये पर बंद हुआ जबकि कंपनी ने राइट इश्यू के लिये 1,257 रुपये दाम रखा है. इस प्रकार आरई का भाव 187 रुपये रहा लेकिन जबर्दस्त मांग के चलते यह प्रीमियम पर बोला जा रहा है और भाव 233.60 रुपये तक पहुंच गया.

आरआईएल ने कंपनी के प्रत्येक 15 शेयरों के लिये एक शेयर राइट इश्यू के तहत देने की पेशकश की है. राइट इश्यू में मिलने वाले शेयर के लिये निवेशकों को 18 महीने में तीन किस्तों में भुगतान करना है. यह पहला ऐसा राइट इश्यू है जहां पात्र शेयरधारकों को राइट्स एंटाइटलमेंट यानी आरई डिमैट खाते में भेजा गया है और उसकी मुक्त रूप से खरीद फरोख्त की जा रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें