1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. suvendu adhikari on fresh fir in security guard death case i defeated mamata banerjee at nandigram if have to go to jail on tmc chiefs will am ready mtj

ममता बनर्जी को नंदीग्राम में हराया, उनकी इच्छा पर कुछ दिन जेल जाना होगा, तो मैं तैयार हूं, बोले शुभेंदु

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सुुरक्षाकर्मी की मौत के मामले में नया केस दर्ज हुआ, तो शुभेंदु ने ममता पर साधा निशाना
सुुरक्षाकर्मी की मौत के मामले में नया केस दर्ज हुआ, तो शुभेंदु ने ममता पर साधा निशाना
File Photo

कोलकाताः मैंने ममता बनर्जी को नंदीग्राम में हराया. उनकी इच्छा पर यदि मुझे कुछ दिन के लिए जेल जाना होगा, तो मैं इसके लिए भी तैयार हूं. मेरे खिलाफ राजनीति से प्रेरित होकर केस दर्ज कराये जा रहे हैं. मुझे डराने की कोशिश न करें. ये बातें भारतीय जनता पार्टी के नेता शुभेंदु अधिकारी ने शुक्रवार को कहीं.

शुभेंदु के पूर्व सुरक्षा गार्ड के कथित आत्महत्या मामले में उनका नाम आने के बाद तृणमूल छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाले अधिकारी ने यह प्रतिक्रिया दी. दरअसल, भाजपा विधायक एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी के सुरक्षाकर्मी की संदिग्ध परिस्थिति में हुई मौत की जांच के लिए उसकी पत्नी ने पूर्वी मेदिनीपुर जिला के कांथी थाना में शिकायत दर्ज करायी है.

सुपर्णा कांजीलाल चक्रवर्ती ने आशंका जतायी है कि उसके पति शुभ्रव्रत चक्रवर्ती की हत्या की गयी थी. उसने हत्या का आरोप शुभेंदु अधिकारी पर लगाया है. यह शिकायत सुरक्षाकर्मी की मृत्यु के करीब ढाई वर्ष बाद दर्ज करायी गयी है. बता दें कि शुभ्रव्रत करीब सात वर्ष तक शुभेंदु का सुरक्षाकर्मी रहा था.

सुपर्णा ने अपनी शिकायत में कहा कि 13 अक्टूबर 2018 को उसके पति ने रात करीब 10 बजे फोन करके घर आने की बात कही. उसी रात करीब 11:20 बजे फोन आया कि शुभ्रव्रत अस्पताल में भर्ती हैं. उनके दो भाई अस्पताल पहुंचे, तो पता चला‌ कि उन्हें गोली लगी है. बेहतर इलाज के लिए उन्हें कोलकाता स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन घटना के अगले ही दिन उनकी मौत हो गयी.

सुरक्षाकर्मी की पत्नी बोली- शुभेंदु के डर से कुछ नहीं किया

सुपर्णा का कहना है कि वह आज तक नहीं जान‌ पायी कि उसके पति को गोली कैसे लगी? उस वक्त शुभेंदु मंत्री थे. फिर उनके सुरक्षाकर्मी को अस्पताल ले जाने में एंबुलेंस के आने में देर क्यों हुई? सुपर्णा ने कहा कि शुभेंदु काफी प्रभावशाली थे. इस कारण उसने तब इस बारे में कुछ नहीं किया.

उसने कहा है कि अब हालात बदल गये हैं. इसलिए उसने अपने पति की मृत्यु की सत्यता जानने के लिए थाने में शिकायत दर्ज करायी है. शिकायत में शुभेंदु के साथ राखाल बेरा नामक एक व्यक्ति के नाम का भी उल्लेख है. बेरा‌ को पुलिस नौकरी दिलाने का झांसा देने के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें