32.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

UP News : बेटी के लिये खूनी बना पिता, युवक को पहले बीड़ी फिर शराब पिलायी, गला दबाने के बाद धड़ से अलग किया सिर

बरेली के एक थाना क्षेत्र में 13 मार्च को सौरभ पुरी का शव खेत में मिला था. सिर और धड़ अलग-अलग पड़े थे. पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस ने गुमशुदगी में दर्ज मामले को हत्या के कांड में दर्ज कर जांच शुरू की थी. घटना के खुलासे के लिए थाना पुलिस के साथ सर्विलांस टीम भी लगायी गयी थी.

बरेली: एक पिता ने बेटी पर बुरी नजर रखने वाले युवक को सबक सिखाने के लिये कानून हाथ में ले लिया. उसने युवक को पहले बहाने से पास बुलाकर शराब पिलायी. फिर गला दबा दिया. इसके बाद फावड़े के प्रहार से युवक का सिर धड़ से अलग कर दिया. शव को खेत में फेंक दिया. खौफनाक तरीके से की गयी हत्या का यह मामला बरेली देहात का है. सिरौली थाना की पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर सौरभपुरी हत्याकांड का खुलासा कर दिया है. पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त फावड़ा, मफलर और सौरभ का मोबाइल भी बरामद कर लिया.

होली की रात को खेत पर आया सौरभ सिंह फिर नहीं लौट सका

होली की रात 7 मार्च की शाम को अपने खेत के लिये निकला बरेली देहात के सिरौली थाना क्षेत्र के धनौरा गौरी गांव निवासी सौरभ पुरी (25 वर्ष) घर नहीं लौटा था. तलाश के बाद 8 मार्च को परिजनों ने सिरौली थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी. साथ ही उसकी खोजबीन जारी रखी. 13 मार्च को सौरभ का शव गांव के एक व्यक्ति के खेत में मिला. सिर और धड़ अलग-अलग पड़े थे. पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस गुमशुदगी को हत्या के कांड में दर्ज कर जांच शुरू कर दी. घटना के खुलासे के लिए थाना पुलिस के साथ सर्विलांस टीम भी लगायी गयी थी.

सौरभ के मोबाइल की कॉल डिटेल से हत्यारोपी तक पहुंची पुलिस

पुलिस को पहला सबूत सौरभ के मोबाइल की कॉल डिटेल से मिला. पुलिस को पता चला कि सौरभ गांव की लड़की से बात करता था. पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ की तो शक लड़की के पिता धनौरा गौरी गांव के ही तेजपुरी पर गया. शक और सबूत मिलने पर तेजपुरी को हिरासत में ले लिया गया. मामले से खुद को अनभिज्ञ बता रहे तेजपुरी के सामने पुलिस ने सख्ती के साथ- साथ उसकी संलिप्तता के सबूत रखे तो वह टूट गया और अपना जुर्म कबूल कर लिया.

तेजपुरी ने हत्याकर शव खेत में फेंका फिर काटा था फावड़े से सिर

तेजपुरी ने पुलिस को बताया कि सौरभ को नलकूप पर बुलाया. वहां शराब पिलायी. नशा होने पर नलकूप की कोठरी के अंदर ही उसका गला दबा कर हत्या कर दी. हत्या के बाद शव अरविंद पांडे के गेहूं के खेत में फेंक दिया. इससे भी मन नहीं भरा तो सिर पर फावड़े से तब तक प्रहार किये जब तक सिर क्षतिग्रस्त होकर शरीर से अलग नहीं हो गया. कटे हुए सिर को दूसरे के खेत में फेंक दिया. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी तेजपुरी रात में अपने घर जाकर सो गया.

होली के बहाने हालचाल की बातों में उलझाकर मार डाला युवक 

हत्यारोपी तेजपुरी ने पुलिस को बताया कि सौरभ पुरी मेरी बेटी पर बुरी नजर रखता था. उसको कई बार समझाया लेकिन नहीं माना. वह नहीं माना तो सौरभ की हत्या करने की ठान ली. एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि 7 मार्च को होली के दिन सौरभ पुरी अपने खेत पर गया था.आरोपी तेजपुरी भी उसके साथ खेत पर गया. इसके बाद आरोपी तेजपुरी ने कहा कि सौरभ और क्या चल रहा है, सब ठीक हैं, होली कैसी मन रही है.इसके बाद कहा कि आ जा बीड़ी लगा ले. सौरभ को पहले बीड़ी पिलवाई.इसके बाद सौरभ से कहा कि ले होली भी मन जाएगी, और पैग लगा ले.

रिपोर्ट – मुहम्मद साजिद

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें