1. home Home
  2. state
  3. up
  4. mahant narendra giri death petition filed in allahabad high court seeking a cbi inquiry into case acy

Mahant Narendra Giri Death: मामले की CBI से जांच कराने की मांग को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है. याचिका में मामले की CBI से जांच कराने की मांग की गई है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Allahabad High Court
Allahabad High Court
Twitter

Mahant Narendra Giri Suicide Case: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़ा के सचिव महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है. याचिका में मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है. यह याचिका अधिवक्ता सुनील चौधरी की तरफ से दायर की गई है.

मामले में पुलिस के उच्च अधिकारी भी शामिल

इलाहाबाद हाई कोर्ट में दायर याचिका में सुनील चौधरी ने कहा है कि मांग की है कि महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले की सीबीआई से जांच करायी जाए. याचिका में कहा गया है कि मामले में यह बात निकलकर सामने आ रही है कि कोई उच्च पुलिस अधिकारी भी इसमें शामिल हैं, जिसके चलते पूरे मामले की निष्पक्ष जांच होना संभव नहीं है.

महंत नरेंद्र गिरि का फंदे से लटका मिला शव

बता दें, महंत नरेंद्र गिरि की सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी. उनका शव सोमवार को बाघम्बरी मठ आश्रम के कमरे में फंदे से लटका हुआ मिला था. उनके कमरे से 6-7 पेज का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें आनंद गिरि और दो अन्य लोगों का जिक्र था. नोट में आनंद गिरि पर परेशान करने का आरोप है.

लेटे हनुमान मंदिर के दो पुजारी हिरासत में

पुलिस ने मामले में लेटे हनुमान मंदिर के दो पुजारियों को भी हिरासत में लिया है. अब पुलिस तीन अन्य लोगों से भी पूछताछ करने की तैयारी में हैं, जिनमें दो नेता और एक अफसर हैं. ये तीनों महंत नरेंद्र गिरि और आनंद गिरि के बीच हुए समझौते के दौरान मौजूद थे.

आनंद गिरि के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले में आनंद गिरि को हिरासत में लेने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है. आनंद गिरि के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. यह प्राथमिकी एक अन्य शिष्य अमर गिरी पवन महाराज द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर दर्ज की गई है.

गुरुजी की हत्या की गई है, मामले की हो गहन जांच

वहीं, आनंद गिरि का कहना है कि गुरुजी की हत्या की गई है. इस मामले की गहन जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कुछ लोग हमारे और गुरुजी के बीच दरार पैदा करने की कोशिश में लगे हुए थे. वे नरेंद्र गिरि को घुन की तरह खाने का काम कर रहे थे. आनंद गिरि ने कहा कि जब मेरी बात हुई थी तो गुरुजी पूरी तरह स्वस्थ थे और कोरोना तक को मात दे चुके थे.

फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए

महंत नरेंद्र गिरि की मौत पर मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि जांच जारी है. इसलिए हम सभी को रिपोर्ट और विशेष रूप से फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए. उसके आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी और जिन लोगों को गिरफ्तार करने की जरूरत है, उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा. इसके अलावा, जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी जांच होगी.

Posted by: Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें