एनटीपीसी ब्वॉयलर ब्लास्ट की जांच के लिए कमेटी गठित, मृतकों के परिजन को 20 लाख : आरके सिंह

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रायबरेली :केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने आज उत्तरप्रदेश के रायबरेली के ऊच्चाहार में एनटीपीसी के पॉवर प्लांटकादौरा किया. कल इस पॉवर प्लांट में ब्यॉयलरफट जाने के कारण अबतक 30 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि दर्जनों लोगगंभीरहैं. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने आज घटना स्थल का जायजा लेने के बाद कहा कि ब्लास्ट के कारणों की जांच के लिए एक कमेटी का गठन कियागया है और उसके आधार पर आवश्यक रक्षात्मक कदम उठाये जायेंगे, ताकि भविष्य में ऐसा नहीं हो. आरके सिंह ने मीडिया से कहा कि दुर्घटना में मारे गये लोगाें के निकट परिजनों को 20-20 लाख रुपये दिये जायेंगे, जबकि गंभीर रूप से घायल लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये एवं सामान्य रूप से घायल लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये मुआवजा दिया जायेगा.



इससे पहले उत्तरप्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी पीड़ितों के लिए मुआवजे का एलान किया था. राज्य सरकार ने कहा था कि मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये एवं कम गंभीर घायलों को 25-25 हजार रुपये दिये जायेंगे.



उधर, आज सुबह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज रायबरेली का दौरा किया. उनके साथ गुलाम नबी आजाद सहित कांग्रेस के कई प्रमुख नेता थे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने दुर्घटना को गंभीर चूक बताया है और मामले की न्यायिक जांच की मांग की है. गुलाम नबी के कहा कि रायबरेली में एनटीपीसी की जिस यूनिट में ब्लास्ट हुआ है, उसका संचालन हड़बड़ी में आरंभ किया गया था. बुधवार दोपहर 3.40 बजे 500 मेगावट की यूनिट नंबर छह का ब्वॉयलर स्टीम पाइप धमाके के साथ फट गया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें