1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. cbse 12th result 2020 87 percent students of jharkhand pass in cbse 12th exam 2020

CBSE 12th Result 2020 : झारखंड के 87 फीसदी विद्यार्थी 12वीं में पास

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
रिजल्ट देखने के बाद खुशी से उछल रहे हैं रांची के विद्यार्थी.
रिजल्ट देखने के बाद खुशी से उछल रहे हैं रांची के विद्यार्थी.
Prabhat Khabar

रांची : सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (Central Board of Secondary Education) ने सोमवार (13 जुलाई, 2020) को 12वीं का रिजल्ट जारी किया. झारखंड के 87 फीसदी विद्यार्थी सफल हुए हैं, जो पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर रिजल्ट है. वर्ष 2019 में झारखंड के 83.4 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए थे. इस बार झारखंड से 35,974 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी थी, जिसमें 30,992 सफल हुए हैं.

सीबीएसइ ने 15 फरवरी से 30 मार्च के बीच परीक्षा का आयोजन किया था. कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से 25 मार्च से देश भर में लॉकडाउन का एलान कर दिया गया है. इसकी वजह से बाकी परीक्षाएं नहीं हो पायीं. सीबीएसइ परीक्षा लेने की तैयारी कर चुका था, लेकिन बच्चों को कोविड19 से सुरक्षित रखने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने 26 जून को एक आदेश पारित किया. इसमें कहा कि बाकी विषयों की परीक्षा न ली जाये और परिणाम जारी किये जायें.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ही कुछ मानदंडों के साथ सीबीएसइ ने परीक्षा परिणाम जारी किये हैं. इसके तहत सीबीएसइ द्वारा जो विद्यार्थी तीन विषयों से अधिक परीक्षा में शामिल हुए हैं, उनका रिजल्ट तीन सर्वश्रेष्ठ विषयों में हासिल अंकों के औसत अंक को उन विषयों में जोड़ा गया है, जिनकी परीक्षाएं विद्यार्थी नहीं दे पाये हैं.

इस बार पिछले वर्ष की तुलना में करीब 5 फीसदी अधिक विद्यार्थी सफल हुए हैं. सीबीएसइ ने इस बाहर मेरिट लिस्ट जारी नहीं किया है. पूरे देश में सीबीएसइ 12वीं की परीक्षा में कुल 16 जोन में त्रिवेंद्रम अव्वल रहा, तो पटना सबसे निचले पायदान पर. त्रिवेंद्रम जोन के 97.67 प्रतिशत विद्यार्थी सफल हुए, जबकि पटना जोन के 74.57 प्रतिशत विद्यार्थी ही पास हुए.

पूरे देश में 88.78 प्रतिशत विद्यार्थी सफल रहे हैं. इनमें 92.15 प्रतिशत लड़कियां व 86.19 प्रतिशत लड़के हैं. सीबीएससी ने इस बार छात्र-छात्राअों के लिए डिजिटल मार्क्सशीट जारी किया है. विद्यार्थी अपना डिजिटल मार्क्सशीट अॉनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं. छात्र डिजिलॉकर से मार्क्स शीट प्राप्त कर सकते हैं.

सीबीएसइ ने विद्यार्थियों के मोबाइल पर भी एसएमएस से रिजल्ट भेजने की व्यवस्था की थी. सीबीएसइ ने इस बार मार्क्सशीट से अनुत्तीर्ण (फेल) शब्द को हटा दिया है. पहले एक या दो विषयों में फेल होने पर विद्यार्थियों को कंपार्टमेंटल परीक्षा में शामिल होना होता था.

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2019 में साइंस, आर्ट्स व कॉमर्स के स्टेट टॉपर्स को 98.2-98.2 प्रतिशत अंक आये थे. डीएवी स्कूल हजारीबाग के अक्षत अग्रवाल ने साइंस में टॉप किया था, तो डीएवी बोकारो की निकिता सिन्हा आर्ट्स और होली क्रॉस स्कूल बोकारो के तनिष्क बंसल कॉमर्स में अव्वल आये थे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें