1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. jharkhand news zilla parishad vice president rajkumar singh who won zilla parishad election by record votes will not contest the election now read what was announced grj

Jharkhand News : जिला परिषद का चुनाव रिकॉर्ड वोटों से जीतने वाले जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह अब क्यों नहीं लड़ेंगे चुनाव, पढ़िए क्या किया ऐलान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : दिव्यांग को ह्वील चेयर देते जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह
Jharkhand News : दिव्यांग को ह्वील चेयर देते जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह
प्रभात खबर

Jharkhand News, Jamshedpur News, जमशेदपुर न्यूज : जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने घोषणा की है कि वे जिला परिषद का चुनाव नहीं लड़ेंगे. ये पहले जिला परिषद सदस्य होंगे, जिन्होंने जिला परिषद का चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान किया है. पत्रकारों से शनिवरार को बाचतीत करते हुए उन्होंने कहा कि जनसेवा एक जज्बा है. राजनीति भी जनसेवा का एक माध्यम है. वे राजनीति में इसलिए आये कि राजनीति एक बड़ा फलक देती है. यह ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने का, उनकी समस्याओं को नजदीक से देखने, जानने तथा समझने का अवसर देती है. इनके समाधान के रास्ते तलाशने की बेहतर समझ प्रदान करती है. इसलिए उन्होंने फैसला किया है कि वे अब जिला परिषद का चुनाव नहीं लड़ेंगे.

उन्होंने कहा कि सिर्फ वे ही नहीं, उनके परिवार का कोई भी सदस्य जिला परिषद चुनाव में उम्मीदवार नहीं होगा. वे चाहते हैं कि नयी पीढ़ी को चुनाव में मौका मिलना चाहिए. नये लोग आयेंगे, तो ज्यादा उत्साह और जोश से काम करेंगे. जिप उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने कहा कि वे पिछले दो दशक से अधिक समय से सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में हैं. लोगों ने उन्हें उम्मीद से ज्यादा प्यार दिया है. उनका प्यार, उम्मीद और भरोसा ही है, जिसकी बदौलत वे विगत 10 वर्षों से जिला परिषद में रिकॉर्ड वोटों से जीत दर्ज करते आये हैं, लेकिन उनका मानना है कि सोच व्यापक होनी चाहिए. किसी पद को पाने और उसे हमेशा बरकरार रखने की लालसा इंसान को स्वार्थी और लालची बना देती है.

जिप उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने शनिवार को सरजामदा डोकाटोला की बहामनी टुडू को व्हील चेयर प्रदान किया. बहामनी टुडू चलने-फिरने में असमर्थ हैं. दो-तीन दिन पहले कुछ लोग राजकुमार सिंह के पास आये और उनकी स्थिति की जानकारी दी. व्हील चेयर से बहामनी को चलने में मदद मिलेगी. श्री सिंह ने कहा कि उनके दरवाजे हमेशा की तरह दीन, दुखियों, जरूरतमंदों और बेसहारों के लिए खुले रहेंगे. वे अब पूरा समय समाज को देना चाहते हैं. उनके क्षेत्र की जनता ने उन्हें जो प्यार और सम्मान दिया है, उसके लिए वे हृदय से आभारी हैं. जिला परिषद की चुनावी राजनीति के सफर को विराम देते हुए वे एक भाई-बेटे की तरह जनता के बीच रहेंगे.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें