1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. electricity pole is feasting on death in gumla somewhere with the help of a rope the pole rests on wood and iron smj

गुमला में मौत को दावत दे रहा बिजली पोल, कहीं रस्सी के सहारे तो कहीं लकड़ी व लोहे पर टिका है पोल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गुमला के कई क्षेत्र में रस्सी और लोहे के पाइप के सहारे टिका कर रखा गया है बिजली पोल.
गुमला के कई क्षेत्र में रस्सी और लोहे के पाइप के सहारे टिका कर रखा गया है बिजली पोल.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (दुर्जय पासवान, गुमला) : बिजली विभाग लोगों की जान से खेल रहा है. टूटे हुए व टेढ़ा पोल हटाया नहीं गया है जो गुमला के लोगों के लिए जानलेवा बना हुआ है. लोगों द्वारा समस्या बताने के बाद भी विभाग नहीं सुन रहा है. गुमला शहर का हाल-ए-स्थिति यह है कि कई मुहल्ले व सड़क में बिजली पोल टेढ़ा है या टूटा हुआ है. कहीं रस्सी के सहारे, तो कहीं लकड़ी व लोहे के पाइप के सहारे टिका कर बिजली पोल को रखा गया है, ताकि पोल गिर न जाये. सभी पोल पर बिजली तार है. अगर यह गिरेगा तो बड़ा हादसा हो सकता है. विभाग को इन सब पोलों की स्थिति की जानकारी है, लेकिन विभाग समस्या नहीं दूर कर रहा है. बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता सत्यनारायण पातर ने तीन माह पहले कहा था कि कुछ दिन में पोल हटा देंगे. परंतु अभी तक हटा नहीं है.

बड़ाइक मुहल्ला : रस्सी के सहारे खड़ा है पोल

गुमला शहर के बीच में बड़ाइक मुहल्ला है. यहां एक बिजली पोल टेढ़ा हो गया है. कभी भी गिर सकता है. हालांकि लोगों ने पोल को गिरने से बचाने के लिए रस्सी से बांधकर रखा है. लेकिन, लोगों को डर है. कहीं तेज आंधी तूफान आया तो यह पोल गिर सकता है. जिससे बड़ी घटना हो सकती है. लोगों ने प्रशासन को इसकी जानकारी दी है. परंतु बिजली विभाग ने पोल को दुरुस्त नहीं कराया.

घोड़लता आश्रम : तेज हवा से पोल टेढ़ा हो गया

पालकोट प्रखंड के ऐतिहासिक घोड़लता बाबा आश्रम जाने वाला पथ के किनारे बिजली का खंभा गिरने के कगार पर है. जिससे कभी भी यहां किसी बड़ी दुर्घटना से इंकार नहीं किया जा सकता है. पोल के झुकने से आने जाने वाले राहगीरों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है. वहीं, झुके हुए बिजली के पोल में विद्युत सप्लाई जारी है. जो बिजली विभाग की घोर लापरवाही है.

दुंदुरिया मुहल्ला : पोल टूटा है, कभी भी गिर सकता है

गुमला शहर के दुंदुरिया पार्क के ठीक सामने बिजली पोल टूट गया है. टूटकर टेढ़ा हो गया है. मुहल्ले के लोगों ने पाइप लगाकर पोल को गिरने से रोके रखा है. मिशन बदलाव ने पोल को बदलने की मांग की थी. जेबीभीएनएस ने 15 मार्च को संज्ञान में लेते हुए गुमला बिजली विभाग को पोल हटाने के लिए कहा था. लेकिन, नहीं हटाया गया. जो अब लोगों के लिए परेशानी का कारण बना हुआ है.

पालकोट रोड : तीन माह से लोहे का पोल सड़क पर है

गुमला शहर के पालकोट रोड एनएच-78 के ठीक किनारे जनार्दन प्रसाद साहा के घर के सामने लोहे का बिजली पोल टूटकर गिरा हुआ है. आये दिन इससे हादसे हो रहे हैं. कई बार विभाग को पोल हटाने के लिए आवेदन सौंपा गया है. परंतु विभाग की लापरवाही देखिये. अभी तक पोल को हटाया नहीं गया है. लोगों ने बताया कि एक गाड़ी के धक्के से पूरा ट्रांसफार्मर का पोल टूटकर गिर गया था. तीन महीने से सड़क से पोल हटाया नहीं गया है.

बिजली विभाग जल्द पोल को दुरुस्त करे : राजेश सिंह

इस संबंध में समाजसेवी राजेश सिंह ने कहा कि बड़ाइक मुहल्ला का पोल कभी भी गिर सकता है. कब तक वह रस्सी के सहारे टिका रह सकता है. यह मुहल्ले व राहगीरों के लिए खतरनाक है. विभाग इसमें तत्परता दिखाते हुए जल्द पोल को दुरुस्त करे.

जानलेवा बना शहर में कई बिजली पोल : मिशन बदलाव

वहीं, मिशन बदलाव के राज कुमार ने कहा कि गुमला शहर में कई बिजली पोल जानलेवा बना हुआ है. बिजली विभाग अविलंब पोल को ठीक कराये. नहीं तो अगर हादसा हुआ तो विभाग के इंजीनियरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने को विवश होना पड़ेगा.

तीन माह से पोल टूटकर गिरा, पर सुध लेने वाला कोई नहीं : जनार्दन साहा

गुमला के स्थानीय निवासी जनार्दन साहा ने कहा कि मेरे घर के सामने तीन महीने से बिजली पोल टूटकर गिरा हुआ है. विभाग को कई बार मौखिक सूचना दी. फिर लिखित आवेदन भी दिया, लेकिन पोल को हटाया नहीं गया है. इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें