1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. champaran west
  5. during 24 hours in west champaran 8 people died in suspicious condition some sick administration silent asj

24 घंटे के दौरान पश्चिमी चंपारण में 8 लोगों की संदिग्ध स्थिति में मौत, कुछ बीमार, प्रशासन चुप

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक
सांकेतिक
फाइल

लौरिया (पश्चिमी चंपारण). लौरिया व रामनगर थाना क्षेत्र के देवराज इलाके में 24 घंटे के भीतर आठ लोगों की संदिग्ध हालत में मौत से सनसनी फैल गयी है. बेतिया, गोरखपुर और लखनऊ के निजी अस्पतालों में भी इस इलाके के कुछ बीमार लोगों के भर्ती होने की खबर है.

मौत की वजह को लेकर फिलहाल कुछ स्पष्ट नहीं है. न तो गांव के लोग कुछ कह रहे और न प्रशासन की ओर से कुछ कहा जा रहा है. सभी मौतें बुधवार को हुई हैं. जब जहरीली शराब पीने से मौत की आशंका व्यक्त की जाने लगी तो डीएम कुंदन कुमार ने एसडीपीओ और एसडीएम को जांच करने को कहा. हालांकि, डीडीसी रवींद्र कुमार सिंह ने कहा कि दो मृतकों के परिजनों ने मौत की वजह हर्ट अटैक बताया है.

जानकारी के अनुसार, लौरिया थाने के देउरवा में एक साथ चार ग्रामीणों की मौत की खबर पूरे इलाके में फैली. इसके बाद बगल के गांव जोगिया देवराज (थाना- रामनगर) के भी दो ग्रामीणों की मौत की सूचना आयी. बगही व गौनाहा देवराज के भी एक-एक ग्रामीण की मौत का मामला आया.

मौत की वजह जहरीली शराब का सेवन है या कुछ और, इसे लेकर कोई भी सामने आकर बोलने को तैयार नहीं है. कुछ के घरवालों ने बताया कि उसके परिजन की मौत बीमारी के चलते हुई है. मामले ने तब तूल पकड़ा ,जब एक मृतक के परिजन भरत साह ने बताया कि उनके बहनोई ने शराब पी थी और इसके बाद उन्हें सिर में दर्द हुआ. आंख की रोशनी भी चली गयी.

लौरिया थानाध्यक्ष राजीव रजक ने बताया कि इतनी जानकारी है कि अलग-अलग गांवों में कुछ लोगों की मौत हुई है. लेकिन, किसी के भी घरवालों की तरफ से कोई भी जानकारी नहीं आयी है. अब एक दिन में मौत हुई है या बीते कुछ दिन में इसकी जानकारी पुलिस को नहीं है.

मामला सामने आने पर जांच की जायेगी. लौरिया पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अब्दुल गनी ने बताया कि इस तरह का मामला अस्पताल में नहीं आया है. आशा को भेजकर पता लगाया जायेगा.

मेरे बहनोई शराब पीकर आये थे : भरत साह

मृत सुरेश साह की पत्नी के भाई भरत साह ने बताया कि उसके बहनोई सुरेश साह मछली बेचते थे. मंगलवार को देउरवा में शराब पीकर घर आये, तो उनके सिर में दर्द होने लगा.

रामनगर के निजी क्लीनिक में ले जाने पर वहां से रेफर कर दिया गया. बेतिया ले जाने पर रास्ते में मौत हो गयी. भरत ने बताया कि शराब पीने के बाद उनकी दोनों आंख की रोशनी चली गयी थी. मुंह से लार टपक रहा था.

कई अस्पताल में भर्ती

ग्रामीण सूत्रों की मानें तो मृतकों के परिजनोंं ने आनन-फानन में अंतिम संस्कार कर दिया. एक दर्जन लोग अलग-अलग निजी अस्पतालों में भर्ती बताये जा रहे हैं. कई की हालत गंभीर है. कुछ लोग रामनगर से रेफर होने के बाद गोरखपुर व लखनऊ के अस्पताल में चले गये हैं.

अलग-अलग दावे

परिजन ने कहा : शराब पीने के बाद मेरे बहनोई के सिर में दर्द हुआ.आंख की रोशनी चली गयी.

डीडीसी ने कहा : जांच टीम गांव में भेजी गयी है. दो मृतकों के परिजनों ने कहा है कि हर्ट अटैक से मौत हुई है.

पश्चिम चंपारण के डीएम कुंदन कुमार ने कहा कि मीडियाकर्मियों के माध्यम से जानकारी हुई है. स्थानीय एसडीएम व एसडीपीओ को जांच के लिए भेजा रहा है. यदि इतनी मौतें एक साथ हुई हैं तो यह गंभीर मामला है. इसके बारे में पता लगाया जायेगा.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें