1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. jdu mla gopal mandal brother beaten by mukhiya supporters in bhagalpur news today skt

जदयू MLA गोपाल मंडल के भाई को मुखिया समर्थकों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, जानिए पूरा मामला...

इस्माइलपुर थाना क्षेत्र के छोटी परवत्ता गांव में गोपालपुर विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल के चचेरे भाई महेश मंडल उर्फ नागे मंडल को गांव के ही मुखिया समर्थकों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. मुखिया प्रतिनिधि ने बताया कि विधायक के चचेरे भाई ने उनके साथ मारपीट की.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जदयू MLA गोपाल मंडल के भाई को मुखिया समर्थकों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा
जदयू MLA गोपाल मंडल के भाई को मुखिया समर्थकों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा
social media

इस्माइलपुर थाना क्षेत्र के छोटी परवत्ता गांव में गोपालपुर विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल के चचेरे भाई महेश मंडल उर्फ नागे मंडल को गांव के ही मुखिया समर्थकों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. मुखिया प्रतिनिधि सह राजद के जिला सचिव मनोज मंडल उर्फ महेश फौजी ने बताया कि विधायक के चचेरे भाई ने उनके साथ मारपीट की. मोबाइल तोड़ दिया. बाइक का शीशा फोड़ दिया और पांच लाख रुपये रंगदारी मांगी.आक्रोशित ग्रामीणों ने उनकी पिटाई कर दी और पुलिस के हवाले कर दिया.

अनुमंडल अस्पताल में कराया इलाज

घायल महेश मंडल उर्फ नागे मंडल का इलाज नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में कराया गया. इलाज के क्रम में नवगछिया के थानाध्यक्ष भरत भूषण और परवत्ता के थानाध्यक्ष रामचंद्र यादव दल बल के साथ मौजूद थे.

नागे मंडल ने लगाया मारपीट का आरोप:

घायल महेश मंडल उर्फ नागे मंडल ने कहा कि उसने मुखिया से बाढ़ पीड़ितों के लिए पॉलीथीन की मांग की थी. इसके बाद मुखिया प्रतिनिधि महेश फौजी और उनके बेटा समेत अन्य लोगों ने उसे दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. इस क्रम में वह घर के दो मंजिला तक भाग कर गये, पर वहां भी आ कर आरोपितों ने पीटा. उनकी पत्नी बचाने आयी, तो आरोपियों ने उनके साथ भी मारपीट की. नागे मंडल ने आरोप लगाया कि महेश फौजी ने उनके मुंह में बंदुक घुसा दिया. साथ ही बोला- बुलाओ कहां है तुम्हारा गोपाल मंडल.

नागे को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, मनबढू है महेश फौजी :विधायक गोपाल मंडल

घायल नागे मंडल के साथ नवगछिया अनुमंडल अस्पताल पहुंचे गोपालपुर विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपल मंडल ने कहा कि नागे मंडल ने मुखिया पुत्र को बोला कि हमलोगों को राशन नहीं देते हैं. सूखा में जो लोग हैं उन्हें ही राशन देते हैं. इस पर मुखिया पुत्र और नागे मंडल के बीच मारपीट हुई. इसके बाद मुखिया पुत्र ने महेश फौजी को फोन कर दिया और महेश फौजी, उसके भाई और उसका बेटा मिल कर नागे को दौड़ा-दौड़ा कर पीटने लगे. विधायक ने कहा कि महेश फौजी मनबढ़ू है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें