1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. mumbai to host ipl 2021 despite growing cases of corona in maharashtra bcci indicated aml

IPL 2021: महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद भी मुंबई से नहीं छिनेगी मेजबानी, BCCI ने दिये संकेत

By Agency
Updated Date
IPL 2021
IPL 2021
Twitter

मुंबई : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) को मुंबई में कोविड-19 मामलों में तेजी से बढ़ोतरी के बावजूद 10 से 25 अप्रैल के बीच इस शहर में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) मैचों के आयोजन का भरोसा है. बोर्ड का कहना है कि इतने कम समय में वैकल्पिक स्थल पर ‘बायो-बबल' (Bio Bubble) बनाना संभव नहीं होगा. दिल्ली कैपिटल्स के अक्षर पटेल और वानखेड़े स्टेडियम के 10 कर्मचारियों तथा बीसीसीआई द्वारा नियुक्त किये गये प्रतियोगिता प्रबंधन से जुड़े छह सदस्यों को इस घातक वायरस से पॉजिटिव पाया गया है. इससे नौ अप्रैल से शुरू होने वाली आईपीएल में पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़ती जारी रही है.

कोरोना वायरस की स्थिति यदि नियंत्रण से बाहर चली जाती है तो फिर इंदौर और हैदराबाद को आईपीएल के ‘स्टैंड बाई' स्थान के रूप में रखा गया है लेकिन बीसीसीआई को ये मैच मुंबई में कराने का भरोसा है. मुंबई को इस धनाढ्य लीग के 10 मैचों की मेजबानी करनी है. बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने शनिवार को पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हां, हैदराबाद एक ‘स्टैंड बाई' स्थलों में से एक है लेकिन सभी व्यावहारिक कारणों को देखते हुए हम अब भी मुंबई से मैच शिफ्ट करने के बारे में नहीं सोच रहे हैं. इतने कम समय में एक और ‘बायो-बबल' बनाना मुश्किल होगा.'

इसके अलावा आयोजक वानखेड़े स्टेडियम के कर्मचारियों के कोविड-19 के लिए पॉजिटिव पाये जाने से भी चिंतित हैं. शुक्रवार शाम तक इनकी संख्या आठ थी जो अब बढ़कर 10 हो गयी है. यही नहीं प्रतियोगिता प्रबंधन दल के छह सदस्यों का परीक्षण भी पॉजिटिव आया है और उन्हें भी पृथकवास पर भेज दिया गया है. मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘जहां तक मैदानकर्मियों की बात है तो कल तब आठ पॉजिटिव मामले थे. आज दो अन्य मामले पॉजिटिव पाये गये. इससे इनकी संख्या बढ़कर 10 हो गयी. सभी को घर भेज दिया गया है और वे अलग थलग रह रहे हैं.'

उन्होंने कहा, ‘हम तैयारियों के लिए कांदिवली से मुंबई क्रिकेट संघ के दूसरे मैदानकर्मियों को ला रहे हैं. इसके अलावा बीसीसीआई के प्रतियोगिता प्रबंधन के छह से सात कर्मचारियों का परीक्षण पॉजिटिव आया है.' महाराष्ट्र में शुक्रवार को 47000 मामले दर्ज किये गये और वहां संभावित लॉकडाउन की स्थिति नजर आ रही है जिसका संकेत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया है. उन्होंने कहा, ‘अगर मौजूदा स्थिति बनी रही तो मैं लॉकडाउन लगाने की आशंका से इनकार नहीं सकता.' मुख्यमंत्री ने कहा, ‘राज्य में 2.2 लाख पृथकवास बिस्तर हैं जिनमें से 62 फीसदी भरे हुए हैं. 20,519 आईसीयू बिस्तरों में से 48 फीसदी पर मरीज भर्ती हैं जबकि ऑक्सीजन की उपलब्धता वाले 62,000 बिस्तरों में से 25 फीसदी पर मरीज हैं. इसी तरह 9,347 वेंटिलेटर में से 25 फीसदी पर मरीज हैं.'

बोर्ड अधिकारी ने कहा, ‘देखिये, यदि लॉकडाउन होता है तो टीमें जैव सुरक्षित वातावरण में हैं और वैसे भी दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति नहीं है. इसलिए हमें अब भी मुंबई में पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आईपीएल मैचों के आयोजन की उम्मीद है.' उन्होंने कहा, ‘लेकिन यदि स्थिति नियंत्रण से बाहर चली आ जाती है तो हैदराबाद और इंदौर को स्टैंड बाई रखा गया है. लेकिन अगर लॉकडाउन होता है, तो मैचों का आयोजन और भी आसान हो जायेगा क्योंकि स्थल के बाहर और अन्य जगहों पर दर्शकों पर नियंत्रण लगा होगा.'

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें