1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. former pakistani skipper shahid afridi hit fastest century with sachin tendulkars bat cricket news rkt

सचिन तेंदुलकर के बल्ले से अफरीदी ने लगाया था वनडे का सबसे तेज शतक, 25 साल बाद पाकिस्तानी क्रिकेटर ने खोला राज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सचिन तेंदुलकर और अफरीदी
सचिन तेंदुलकर और अफरीदी
फोटो - ट्वीटर

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के भूतपूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी का नाम क्रिकेट की दुनिया में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाना जाता रहा. अफरीदी को उनकी धमाकेदार बल्लेबाजी के चलते ही बूम-बूम अफरीदी कहा जाता रहा. विस्फोटक दाएं हाथ के बल्लेबाज ने 1996 में केन्या के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया, लेकिन उन्हें पहले गेम में बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला.हालाँकि, अगले मैच में जो हुआ वह इतिहास की किताबों में दर्ज हो गया क्योंकि अफरीदी ने श्रीलंका के खिलाफ सिर्फ 37 गेंदों में उस समय का सबसे तेज शतक बनाया.

क्रिकेट लवर्स को अफरीदी की वह पारी याद होगी, पर आपको यह जानकर हैरानी होगी कि अफरीदी का सबसे तेज शतक क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर के बल्ले से निकला था. अभी हाल ही में एक यूट्यूब वीडियो में अपने घर का दौरा करते हुए अफरीदी ने बताया कि कैसे वकार यूनिस ने उन्हें बल्ला दिया था, जब उन्हें बताया गया था कि वह पाकिस्तान के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाजी करेंगे. अफरीदी ने बताया कि मैंने सुरक्षित रूप से वह बल्ला रखा है जिसके साथ मैंने अपनी पहली पारी खेली थी. इसी बल्ले ने इतिहास रच दिया था.

पाकिस्तानी खिलाड़ी ने आगे बताया कि यह सचिन का बल्ला था और वह मेरे पसंदीदा खिलाड़ियों में से एक है और मैंने उनके बल्ले से विश्व रिकॉर्ड बनाया. अफरीदी ने आगे कहा कि मैं वकार यूनिस के लिए आभारी हूं जब मैं मैच से पहले अभ्यास कर रहा था तो उसने मुझे बल्ला दिया था और मुझे उस बल्ले से खेल खेलने के लिए कहा था. बता दें कि वो बल्ला सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज वकार यूनुस को गिफ्ट में दिया था. वकार यूनुस ने वो बल्ला अफरीदी को बैटिंग करने के लिए दिया था.

अफरीदी ने कहा कि उनके करियर के शुरूआत में बल्ले की अहम भूमिका थी और यह उनके दिल के करीब है. मालूम हो कि तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए अफरीदी ने महज 37 गेंदों में शतक जड़ा और सिर्फ 40 गेंदों में 102 रन बनाए. वह सलामी बल्लेबाज सईद अनवर के साथ दूसरे विकेट के लिए 126 रनों की साझेदारी की, जिन्होंने 120 गेंदों पर 115 रन भी बनाए. साल यानी 2015 में दक्षिण अफ्रीका के स्टार बल्लेबाज़ एबी डिविलियर्स ने सिर्फ 31 गेंदो में शतक लगाकर इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें