1. home Hindi News
  2. religion
  3. kaal sarp dosh nuskan nivaran lakshan puja vidhi in hindi these 8 remedies for prevention including sight of snakes in dreams are symptoms of this defect smt

Kaal Sarp Dosh से हैं ग्रसित तो जानें निवारण के ये 8 उपाय, सपने में सांप देखना समेत ये है इस दोष के लक्षण, जीवन में कई दिक्कतों का करना पड़ता है सामना

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Kaal Sarp Dosh, Nuskan, Nivaran, Lakshan, Puja Vidhi
Kaal Sarp Dosh, Nuskan, Nivaran, Lakshan, Puja Vidhi
Prabhat Khabar Graphics

Kaal Sarp Dosh, Nuskan, Nivaran, Lakshan, Puja Vidhi: काल सर्प योग (Kaal Sarp Yog) एक ऐसा दुर्योग है जो किसी जातक के कुंडली में हो तो यह तो तय है कि उसका जीवन संघर्ष वाला गुजरता है. कुंडली विशेषज्ञों की मानें तो जो व्यक्ति बार-बार सपने में पूवर्जों, सांप, घोंघे व पानी के अंदर की चीजें देखता है उन्हें काल सर्प दोष हो सकता है. ऐसे व्यक्तियों को अपने कर्म के अनुसार फल नहीं मिलता है. इस दुर्योग से ग्रसित लोग (Kaal Sarp Dosh Ke Nuksan) जॉब गंवाने, संबंधों में टकराव, व्यापार में हानि, बुखार, विवाह के बंधन लायक जोड़े मिलने में दिक्कतें समेत अन्य समस्याओं से परेशान रहते हैं. ऐसे में आइए जानते हैं काल सर्प दोष से निवारण के उपाय व लक्षण...

दरअसल, ज्योतिष विशेषज्ञों की मानें तो जिस व्यक्ति के कुंडली में काल सर्प दोष होता है. उन्हें त्र्यंबकेश्वर मंदिर में शांति पूजा करने की सलाह दी जाती है. आपको बता दें कि त्र्यंबकेश्वर मंदिर 12 ज्योतिर्लिंगों में से है और यह काफी प्रतापी है.

काल सर्प दोष निवारण पूजा भगवान शिव को समर्पित होता है. इस दौरान जातक के लिए महा मृत्युंजय जाप करवाया जाता है.

काल सर्प दोष वाले जातक का कैसा होता है व्यवहार

ज्योतिष विशेषज्ञों की मानें तो जो लोग काल सर्प योग से पीड़ित होते हैं. वे अपने परिवार के प्रति काफी केयरिंग होते है. व्यवहार में उदारवादी होते है. वे अक्सर सांप के सपने देखते हैं.

काल सर्प दोष क्यों होता है

इसके कई कारण हो सकते है. प्रमुख ज्योतिषाचार्यों की मानें तो इसका मुख्य कारण हो सकता है पिछले जन्म का असर. यदि पूर्व के जन्म में जातक ने किसी जानवर या सांप को मारा हो, ऐसे लोग इस जन्म में काल सर्प दोष से पीड़ित हो सकते है.

काल सर्प दोष के निवारण के तरीके

  • श्राद्ध या सर्व पितृ अमावस्या के अवसर पर विशेष श्राद्ध पूजा कराया जाना चाहिए.

  • नासिक स्थित त्र्यंबकेश्वर मंदिर में आप प्रमुख पूजारी से मिल सकते हैं.

  • इस दौरान करीब 2100 से 5100 रुपये के मामूली से चार्ज पर आपके लिए वरिष्ठ पंडित काल सर्प दोष निवारण पूजा करवाएंगे.

  • इन सबके अलावा जिस व्यक्ति को काल सर्प दोष हुआ हो वे 108 बार महामृत्युंजय का प्रतिदिन जाप कर सकते हैं.

  • इसके अलावा 108 बार बीज या राहु मंत्र का भी जाप कर सकते हैं.

  • वहीं, इसके निवारण हेतु पीपल के पेड़ पर प्रतिदिन सुबह सूर्योदय समय या शाम में सूर्यास्त समय पानी भी डाल सकते हैं.

  • इसके अलावा जातक को नाग पंचमी पर व्रत रखने और नाग देवता की पूजा करने की भी सलाह दी जाती है.

  • यही नहीं काल सर्प गायत्री मंत्र का जाप करते हुए तांबे के नाग-नागिन की पूजा भी नदी में 108 बार करना लाभदायक हो सकता है.

  • हर सोमवार आप शिवजी का रूद्राभिषेक करके और नाग पंचमी के दिन दूध और 11 नारियल फोड़कर भी इस दोष से मुक्ति पा सकते हैं.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें