Advertisement

calcutta

  • Nov 5 2019 2:31AM
Advertisement

युवा पीढ़ी को विज्ञान से जोड़ना है लक्ष्य : डॉ हर्षवर्धन

भारत की पहली वैश्विक मेगा विज्ञान प्रदर्शनी ‘विज्ञान समागम’ कोलकाता में शुरू 

कोलकाता : भारत का पहला वैश्विक  मेगा विज्ञान प्रदर्शनी ‘विज्ञान समागम’ का सोमवार को कोलकाता के साइंस सिटी में उद्घाटन किया गया. दो महीने तक चलने वाली यह प्रदर्शनी 31 दिसंबर को समाप्त होगी. केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण एवं विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से सभा को संबोधित करते हुए कहा कि विज्ञान समागम का उद्देश्य युवा पीढ़ी को विज्ञान के क्षेत्र में विश्वभर में हो रहे कार्यों की जानकारी देना है, जिससे युवा विज्ञान से जुड़ सकें. साइंस का अर्थ सिर्फ डॉक्टर या इंजीनियर तक सीमित नहीं है. विज्ञान का क्षेत्र बहुत बड़ा है. 
 
 श्री हर्षवर्धन ने कहा कि उन्हें यकीन है कि देश के वैज्ञानिक इस परियोजना प्रबंधन अनुभव से लाभान्वित होंगे. उन्होंने यह भी कहा  कि हमारे प्रधानमंत्री इस तरह के विशाल वैज्ञानिक उपक्रमों का  बहुत समर्थन करते हैं. उन्होंने  फ्रांस में आइटीइआर परियोजना में  हमारे देश के योगदान के बारे में बात की. विज्ञान व प्रौद्योगिकी विभाग के केंद्रीय सचिव प्रोफेसर आशुतोष शर्मा ने कहा कि विज्ञान समागम के माध्यम से भारत ने पिछले कुछ वर्षों में कई वैज्ञानिकों को गढ़ा है. 
 
 उन्होंने कहा कि उनका प्राथमिक लक्ष्य ब्रह्मांड के रहस्यों व उसके विकास के विभिन्न पहलुओं से युवाओं को परिचित कराना है, ताकि वे विज्ञान को एक करियर विकल्प के रूप में चुन कर देश के विकास में योगदान दे सकें. विज्ञान समागम के मुंबई और बेंगलुरु में सफल रहने के बाद अब इसका आयोजन कोलकाता में किया गया है. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement