1. home Home
  2. national
  3. increasing number of chinese soldiers on lac is a big concern army chief pkj

LAC पर चीन के सैनिकों की बढ़ती संख्या बड़ी चिंता, भारत हर हालत से निपटने को तैयार : सेना प्रमुख

इस विषय पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा, चीन ने पूर्वी लद्दाख में भारी संख्या में सैनिकों को तैनात कर दिया है. यह तैनाती ना सिर्फ पूर्वी लद्दाख में बल्कि उत्तरी फ्रंट पर भी बढ़ रही है. फॉरवर्ड एरियाज में उनकी तैनाती में लगातार हो रही वृद्धि हमारे लिए चिंता का विषय है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भारतीय सेना प्रमुख जनरल जनरल एमएम नरवणे
भारतीय सेना प्रमुख जनरल जनरल एमएम नरवणे
file

भारतीय सेना प्रमुख जनरल जनरल एमएम नरवणे ने LAC पर बढ़ती चीनी सैनिकों की संख्या को लेकर चिंता जाहिर की है. सेना प्रमुख ने कहा है कि यह चिंता का विषय है. भारत चीन के सैनिकों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रख रहा है.

इस विषय पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा, चीन ने पूर्वी लद्दाख में भारी संख्या में सैनिकों को तैनात कर दिया है. यह तैनाती ना सिर्फ पूर्वी लद्दाख में बल्कि उत्तरी फ्रंट पर भी बढ़ रही है. फॉरवर्ड एरियाज में उनकी तैनाती में लगातार हो रही वृद्धि हमारे लिए चिंता का विषय है.

उन्होंने कहा, हम चीन के सैनिक और उनकी बढ़ते इंफ्रास्ट्रक्चर का जवाब दे रहे हैं. हम किसी भी तरह के खतरे से निपटने के लिए तैयार हैं. हम इस समय किसी भी घटना से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं

सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कहा है कि हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि इस मामले को बातचीत से हल कर सकें. भारत अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में चीन के साथ 13 वें दौर की वार्ता कर सकता है.

एलएसी पर दोनों देशों ने पिछले छह महीने तक हालात सामान्य बना कर रखें हैं. दोनों देश इस मसले के सामाधान की कोशिश में लगे हैं. 12वें दौर की वार्ता 31 जुलाई को वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के चीनी हिस्से के मोल्दो में आयोजित किया गया था.

सेना प्रमुख ने चीन के साथ- साथ पाकिस्तान और अफगानिस्तान का भी जिक्र करते हुए कहा, पाकिस्तान की तरफ सीजफायर का उल्लंघन होता रहा है पिछले 10 दिनों में दो बार सीजफायर का उल्लंघन हुआ है. हाल ही में घुसपैठ के प्रयासों में वृद्धि हुई है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें