1. home Hindi News
  2. health
  3. unwanted organs in human body there are 8 organs including gallbladder appendix kidney without which we can live easily see latest health news hindi smt

Unwanted Organs In Human Body: शरीर में Appendix, Gallbladder समेत होते है 8 ऐसे अंग जिनके बिना भी जी सकते है हम

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Unwanted Organs In Human Body, Health News, Life Without Organs
Unwanted Organs In Human Body, Health News, Life Without Organs
Prabhat Khabar Graphics

Unwanted Organs In Human Body, Health News, Life Without Organs: हमारे शरीर में करीब 600 से ज्यादा मांसपेशियां, 206 हड्डियां और हजारों नसें होती है जो शरीर के अंगों को फंक्शन करने में मदद करती हैं. शरीर के प्रमुख अंग इन्हीं के वजह से कार्य करते हैं. लेकिन, शरीर में कुछ ऐसे अंग भी होते है जिनके रहने या न रहने से कोई फर्क नहीं पड़ता है. इंसान इनके बिना भी जींदा रह सकता है. आइए जानते हैं...

गॉलब्लैडर (Gallbladder Use In Body): गॉलब्लैडर हमारे शरीर का ऐसा अंग होता है. जो पाचन तंत्र को सुचारू रूप से चलाने में मददगार होता है. हालांकि, कई बार लोग इसे निकलवा भी देते हैं. दरअसल, जो रोगी किडनी स्टोन या पथरी की समस्या से जूझ रहे होते है उनके शरीर से गॉलब्लैडर हटा दिया जाता है और उन्हें ज्यादा फैट वाले फूड नहीं खाने की सलाह दी जाती है. आपको बता दें कि इंसान गॉलब्लैडर के बिना भी बिल्कुल साधारन जिंदगी जीता है.

अपेंडिक्स (Appendix Use In Body): एक रिपोर्ट की मानें तो शरीर में इम्यूनोग्लोबुलिंस को प्रोड्यूस करने वाले अपेंडिक्स को निकलवाकर भी इंसान नार्मल लाइफ जी सकता है. दरअसल, अपेंडिक्स एक प्रकार का प्रोटीन होता है जो इम्यून सिस्टम को इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है. ऐसे में इसका रहना न रहना कोई दिक्कत वाली बात नहीं होती है. समय रहते इसे निकाल देना चाहिए.

किडनी (Kidney Use In Body): हमारे शरीर में दो किडनियां होती हैं. इनका काम होता है खून को फिल्टर कर विषैले पदार्थ को मल-मूत्र के जरिए शरीर से बाहर निकालना. डॉक्टरों की मानें तो एक किडनी के बिना भी इंसान जिंदा रह सकता है. यही नहीं दोनों किडनी खराब हो जाने की स्थिति में भी इंसान डायलिसिस के जरिए जिंदा रह सकता है. हालांकि, दिक्कतें काफी बढ़ सकती हैं.

स्प्लीन (Spline): गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए खून बनाने और कोशिकाओं की सुरक्षा करने वाली तिल्ली पसलियों अर्थात स्प्लीन को शरीर से निकलवाकर भी महिलाएं जिंदा रह सकती हैं. आपको बता दें कि बच्चे के जन्म के बाद स्प्लीन ब्लड प्लेटलेट्स स्टोर, एंडीबॉडी बनाने और खून में मौजूद कोशिकाओं जो आसामान्य हो जाती हैं उसे नष्ट करने का काम करती हैं. डॉक्टर कई बार इसे सर्जरी कर निकाल देते हैं जब यह शरीर में तेजी से बढ़ने लगती है. दरअसल इससे इंटरनल ब्लीडिंग शुरू होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

फेफड़े (Use Of Lungs In The Body): फेफड़े हमारे बाहर से आने वाले ऑक्सीजन को श्वास नली के जरिए खून तक पहुंचाने का कार्य करती है. साथ ही साथ कोशिकाओं को जिंदा रखने का कार्य भी करती हैं. साथ ही साथ ये अनावश्यक कार्बन डाईऑक्साइड को शरीर से बाहर करने के साथ बॉडी के कई अहम फंक्शन के लिए जरूरी होते हैं. आपको बता दें कि हमारे शरीर में दो फेफड़ें होते हैं. जिनमें एक का रहना बेहद जरूरी है. दुनिया में कई लोग एक फेफड़े पर जीवित हैं.

अमाशय (Use Of Stomach In The Body): ग्रास नली और छोटी आंत के बीच पेट का एक हिस्सा होता है जिसे अमाशय भी कहा जाता है. इंसान इसके बिना भी आसानी से जीवित रह सकता है. दरअसल, कैंसर और जेनेटिक डिसॉर्डर जैसी बीमारियों के कारण डॉक्टर इसे शरीर से निकाल देते हैं.

रीप्रोडक्टिस ऑर्गेन्स (Reproductis Organisms In Body): रीप्रोडक्टिस ऑर्गेन्स बॉडी की ऐसी प्राकृतिक प्रणाली है जिसके जरिए महिलाएं बच्चे कंसीव करती हैं. हालांकि, विशेषज्ञों की मानें तो इसके बिना भी जिंदा रहा जा सकता है. कई केस में देखने को मिला है कि महिलाओं के गर्भाशय में यूटेरिन फाइब्रॉइड और एंडोमीटरॉइसिस जैसे कंडीशन उत्पन्न हो जाते हैं जिसके कारण हाइटोरेक्टोमीस सर्जरी करनी पड़ती है. ऐसे में महिलाओं में मेंस्ट्रुअल साइकिल को क्षति पहुंचती है. जिसके वजह से उन्हें सर्जिकल मेनोपॉज करवाना पड़ता है. इस कंडीशन में प्राकृतिक प्रेग्नेंसी नामुमकिन हो जाती है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें