17.1 C
Ranchi
Wednesday, February 28, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

UPMSP: इंटरमीडिएट के प्रैक्टिकल आज से शुरू, पहले चरण में ये 10 मंडल हैं शामिल, कंट्रोल रूम से की जाएगी निगरानी

यूपी बोर्ड के परीक्षा कार्यक्रम के मुताबिक आज पहले चरण में 10 मंडलों में प्रायोगिक परीक्षाएं शुरू होंगी. इनमें आगरा, सहारनपुर, बरेली, लखनऊ, झांसी, चित्रकूट, फैजाबाद, आजमगढ़, देवीपाटन और बस्ती मंडलों में आज से 28 जनवरी तक प्रैक्टिकल एग्जाम होंगे.

Prayagraj: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) की इंटरमीडिएट परीक्षा 2023 के लिए प्रैक्टिकल एग्जाम आज से शुरू हो रहे हैं. बोर्ड ने विभिन्न परीक्षाओं के 16496 परीक्षकों को प्रैक्टिकल की जिम्मेदारी सौंपी है. इस बार इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए 2750913 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं.

यूपी बोर्ड के परीक्षा कार्यक्रम के मुताबिक आज पहले चरण में 10 मंडलों में प्रायोगिक परीक्षाएं शुरू होंगी. इनमें आगरा, सहारनपुर, बरेली, लखनऊ, झांसी, चित्रकूट, फैजाबाद, आजमगढ़, देवीपाटन और बस्ती मंडलों में आज से 28 जनवरी तक प्रैक्टिकल एग्जाम होंगे.

दूसरे चरण में 9 मंडलों में प्रायोगिक परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी. इनमें अलीगढ़, मेरठ, मुरादाबाद, कानपुर, प्रयागराज, मीरजापुर, वाराणसी और गोरखपुर मंडलों में दूसरे चरण में 29 जनवरी से 5 फरवरी तक प्रैक्टिकल एग्जाम कराए जाएंगे.

माध्यमिक शिक्षा परिषद के निर्देशों के मुताबिक इस बार प्रैक्टिकल परीक्षा की निगरानी पहली बार कंट्रोल रूम से की जाएगी. यही नहीं प्रायोगिक परीक्षाओं की शुचिता बनाए रखने के लिए पहली बार सेक्टर मजिस्ट्रेट भी तैनात किए जा रहे हैं. यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ला ने जिला विद्यालय निरीक्षकों को प्रयोगात्मक परीक्षाएं सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में कराने और उसकी संपूर्ण रिकॉर्डिंग डीवीआर में सुरक्षित रखने के निर्देश दिए हैं. बोर्ड की ओर से इसे मांगे जाने पर उपलब्ध कराना होगा.

Also Read: UPMSP: 12वीं के प्रैक्टिकल एग्जाम में कैसे प्राप्त करें अच्छे अंक, हेल्पलाइन नंबर पर मिलेगा हर सवाल का जवाब
आंसर शीट्स बदल नहीं सकेंगे परीक्षार्थी

यूपी बोर्ड एग्जाम में इस बार 10वीं कक्षा के लिए 31 लाख और 12वीं कक्षा के लिए 27.5 लाख से अधिक छात्रों ने पंजीकरण कराया है. राज्य के 75 जिलों में बनाए जा रहे विभिन्न बोर्ड परीक्षा केंद्रों पर इस परीक्षा का आयोजन कराया जाएगा. यूपी बोर्ड परीक्षा में आमतौर पर परीक्षार्थी आंसर शीट्स आपस में बदल लेते थे. लेकिन, इस बार ऐसा नहीं हो पाएगा. बोर्ड ने इस परीक्षा सत्र से एक नया नियम लागू किया है. जिसके अनुसार हर छात्र को मिलने वाली आंसर शीट्स स्टिच्ड होंगी, ताकि उसके पेज अलग नहीं किए जा सकें या छात्र उसे आपस में बदल न सकें. इसके अलावा बोर्ड परीक्षा 2023 में दी जाने वाली आंसर शीट्स पर बारकोड और मोनोग्राम भी लगा होगा. बताया जा रहा है इस बार बोर्ड परीक्षा में तीन करोड़ से ज्यादा आंसर शीट्स की जरूरत होगी.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें