1. home Hindi News
  2. business
  3. investment scheme know about post office top small savings schemes nse time deposit and kisan vikas patra income tax free and guarantee return smb

पोस्ट ऑफिस के इन स्कीमों में करें निवेश, बेहतर रिटर्न के साथ ही आपका पैसा रहेगा सेफ

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पोस्ट ऑफिस की ये सेविंग स्कीम जो देंगी आपको बढ़िया रिटर्न
पोस्ट ऑफिस की ये सेविंग स्कीम जो देंगी आपको बढ़िया रिटर्न
Twitter

Post Office Small Savings Scheme आज के समय में निवेशकों के पास निवेश के लिए कई विकल्प मौजूद है. हालांकि, अभी भी ज्यादातर निवेशक फिक्स्ट डिपॉजिट को बेहतर विकल्प मानते है. ऐसे निवेशकों का आमतौर पर यह मामना है कि शेयर बाजार में निवेश सेफ नहीं है और ऐसे में अपनी मेहनत के कमाई को बाजार में निवेश नहीं किया जा सकता है. वहीं, सेफ इन्वेस्टमेंट की तलाश करने वाले निवेशकों के मन में निवेश की योजनाओं को लेकर कई तरह के सवाल उठते रहते है. ऐसे में डाकघर की स्‍माल सेविंग्‍स स्‍कीम के बारे में जानकारी आपके काम आ सकती हैं. दरअसल, इसे पूरी तरह से सुरक्षित माना जाता हैं. वहीं, पोस्ट ऑफिस के कुछ स्‍कीम में पैसे डबल होने की गारंटी भी रहती है. इनमें किसान विकास पत्र, पीपीएफ, एनएससी और टाइम डिपॉजिट जैसे स्‍कीम शामिल हैं.

किसान विकास पत्र

किसान विकास पत्र (KVP) के अंतर्गत एक साल में मौजूदा ब्याज दर 6.9 फीसदी है. वहीं, 124 महीनें में निवेश की गयी राशि दोगुनी हो जाती है. इस योजना के तहत निवेशक कभी भी अपनी राशि निकाल भी सकता है. लेकिन, अगर निवेशक एक साल के अंदर अपनी राशि को निकालता है तो उसे कोई ब्याज नहीं मिलेगा. साथ ही कुछ जुर्माना भी देना होगा. वहीं, अगर निवेशक ढाई साल के बाद निकासी करता है तो उसे मौजूदा 6.9 फीसदी वार्षिक की दर से ब्याज भी मिलेगा और जुर्माना भी नहीं लगेगा. इस स्कीम में कोई भी भारतीय नागरिक निवेश कर सकता है. हां कोई एनआरआई एस स्कीम का लाभ नहीं उठा सकता है. इस स्कीम में सिंगल अकाउंट के साथ ज्वॉइंट अकाउंट की सुविधा भी मिलती है. वहीं, दस साल से ज्यादा उम्र के माइनर के नाम भी अभिभावक की देखरेख में खाता खुल सकता है.

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट्स

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट्स (National Savings Certificates) यानी एनएससी (NSC) छोटी बचत योजनाओं में एक खास सेविंग स्कीम है. इसमें रिटर्न की गारंटी होती है. एनएससी में निवेश पर इनकम टैक्स कटौती का फायदा भी लिया जा सकता है. ब्याज दर की बात करें तो दूसरे स्मॉल सेविंग स्कीम में ब्याज दर की हर तिमाही समीक्षा की जाती है, लेकिन एनएससी में निवेश के समय ब्याज दर पूरे मेच्योरिटी पीरियड तक के लिए एक ही रहती है. नए निवेशकों के लिए एनएससी पर फिलहाल ब्याज दर 6.8 फीसदी सालाना है. एनएससी में न्यूनतम निवेश राशि एक हजार रुपये है और 100 के मल्टीपल में पैसे निवेश किया जा सकता है. इसमें निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है. एनएससी के पास पांच साल की लॉक-इन पीरियड है.

टाइम डिपॉजिट अकाउंट

पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खुलवाने के लिए आपको टाइम डिपॉजिट अकाउंट खुलवाना होता है. इस खाते को आप एक, दो, तीन और पांच साल के लिए खुलवा सकते हैं. पोस्ट ऑफिस में 1-3 साल के निवेश में टाइम डिपॉजिट पर 5.5 प्रतिशत तक का रिटर्न मिल रहा है. अगर पांच साल के लिए करते हैं तो आपको 6.7 फीसदी का रिटर्न मिलेगा. अगर आप मैच्योरिटी से पहले अपनी निवेश की हुई रकम को निकालते हैं तो आपको पोस्ट ऑफिस सेविंग्स खाते जैसे ब्याज ही मिलेंगे.

पोस्ट ऑफिस रेकरिंग डिपॉजिट

पोस्ट ऑफिस रेकरिंग डिपॉजिट (RD) एक स्मॉल सेविंग्स स्कीम है. इसे नौकरीपेशा और रिटायर हो चुके लोग काफी पसंद करते हैं. पांच वर्ष की अवधि के लिए आरडी एकाउंट खुलवाया जा सकता है. इसमें न्यूनतम 100 रुपये प्रति माह या 10 रुपये के मल्टीपल में कोई भी राशि जमा कराई जा सकती है. इसमें अधिकतम राशि जमा करने की कोई बंदिश नहीं है. पोस्ट ऑफिस के रेकरिंग डिपॉजिट में इंटरेस्ट प्रति तिमाही कंपाउंडेड आधार पर मिलता है. इसमें निवेश करने वालों को प्रति वर्ष कुल चार अवधियों के लिए प्रत्येक तीन महीनों में इंटरेस्ट मिलेगा. 30 जून, 2021 को समाप्त होने वाली तिमाही के लिए इस स्कीम का इंटरेस्ट 5.8 प्रतिशत है.

Upload By Samir

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें