1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. roopa tirkey death case fir registered against 4 including ranchi city sp smj

रूपा तिर्की मौत मामले में रांची सिटी एसपी समेत 4 के खिलाफ दर्ज होगा FIR, ST-SC स्पेशल कोर्ट ने दिया आदेश

साहिबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की मामले में एससी-एसटी की स्पेशल कोर्ट ने रांची सिटी एसपी व तत्कालीन साहिबगंज डीएसपी समेत 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दिया है. वायरल ऑडियो के बाद केस दर्ज नहीं करने को लेकर कोर्ट ने यह आदेश दिया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: रूपा तिर्की मौत मामले में रांची सिटी एसपी समेत 4 के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश.
Jharkhand news: रूपा तिर्की मौत मामले में रांची सिटी एसपी समेत 4 के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश.
फाइल फोटो.

Jharkhand news: साहेबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की मौत मामले में वायरल ऑडियो मामले को लेकर SC-ST के विशेष न्यायाधीश मनीष रंजन ने रांची सिटी एसपी सौरभ, तत्कालीन साहेबगंज डीएसपी प्रमोद कुमार मिश्रा, विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्र और रांची एसटी व एससी थाना प्रभारी राधिका रमन मिंज के खिलाफ केस दर्ज करने आदेश दिया है. इस मामले में 26 नवंबर को सुनवाई हुई थी. बहस के बाद आदेश सुरक्षित रख लिया गया था.

इस मामले में न्यायाधीश श्री रंजन ने कहा है कि CRPF-153(3) के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाये. ऑडियो वायरल हाेने के बाद एसटी, एससी थाना में केस दर्ज नहीं करने पर रूपा तिर्की की मां पद्मावती उरांइन ने इस संबंध में कोर्ट कंप्लेन केस किया था. केस नहीं दर्ज करने के कारण रांची सिटी एसपी और एसटी, एससी थाना प्रभारी रांची को आरोपी बनाया गया है. यह जानकारी अधिवक्ता प्रशांत श्रीवास्तव ने दी.

क्या है मामला

3 मई, 2021 को रूपा तिर्की की मौत हुई थी. साहेबगंज के पुलिस लाइन स्थित गंगा भवन सरकारी क्वार्टर यूएस-वन में रूपा का शव बरामद किया गया था. रूपा तिर्की मौत मामले में दो ऑडियो वायरल हुआ था. पहला ऑडियो रूपा तिर्की व उनके पुरुष मित्र शिव कुमार कनौजिया का था, जबकि दूसरा आॅडियो डीएसपी प्रमोद कुमार मिश्रा और एक अन्य व्यक्ति का था. जिसमें डीएसपी प्रमोद कुमार मिश्रा द्वारा रूपा तिर्की के खिलाफ गाली-गलौज की करते हुए कई भद्दे-भद्दे व अश्लील शब्दों का इस्तेमाल किया गया था.

यह ऑडियो उसके घर वालों को मिला था. ऑडियो घरवालों के पास आने के बाद रांची के रातु निवासी रूपा तिर्की की मां पद्मावती उरांइन आरोपियों पर केस कराने रांची के एसटी, एससी थाना पहुंची थी. इस मामले में झारखंड हाइकोर्ट ने एक सितंबर को केस को टेकओवर कर अविलंब जांच करने का आदेश दिया था. सीबीआइ ने इस मामले साहेबगंज से लेकर रांची तक जांच की है.

कई मामलों की जांच कर रही थी रूपा तिर्की

रूपा तिर्की महिला थाना प्रभारी बनने के बाद 11 केस देख रही थी. जिसमें पांच केस हाई प्रोफाइल थे. जानकारी के अनुसार, गत 10 मार्च को स्टाइल कपड़ा दुकान के जमीन विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई थी. जिसमें एक पक्ष सिद्धार्थ शर्मा, उसके पिता प्रदीप शर्मा और पशुपति यादव का था.

वहीं, दूसरा पक्ष महिला रिद्धि तंबाकूवाला का था. रिद्धि तंबाकूवाला ने अपने साथ हुए बेइज्जती व दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए सिद्धार्थ शर्मा, प्रदीप शर्मा और पशुपति यादव के खिलाफ महिला थाना में शिकायत दर्ज करायी थी. यह केस काफी हाई प्रोफाइल था, क्योंकि आरोपी, प्रदीप शर्मा और पशुपति यादव का इलाके में काफी दबादबा था और रसुखदार थे.

सीबीआई की टीम ने दूसरे पक्ष की महिला रिद्धि तंबाकूवाला के ससुर भगवान टिबरेवाल से पूछताछ की थी. इससे पहले जमीन विवाद से जुड़े पहला पक्ष सिद्धार्थ शर्मा और मामले की जांच कर रहे आइओ प्रमोद कुमार मिश्रा से भी पूछताछ की गयी थी.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें