1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. coronavirus in jharkhand if the pace remains the same then 35 lakhs will be infected in the next 31 days only in april 48114 people infected srn

Coronavirus In Jharkhand : अगर रफ्तार यही रही, तो अगले 31 दिनों में 3.5 लाख होंगे संक्रमित, सिर्फ अप्रैल भर में मिल चुके हैं इतने संक्रमित

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
झारखंड में अगर कोरोना इसी गति से बढ़ता रहे तो जल्द ही आंकड़ा साढ़े तीन लाख के पार जायेगा
झारखंड में अगर कोरोना इसी गति से बढ़ता रहे तो जल्द ही आंकड़ा साढ़े तीन लाख के पार जायेगा
प्रतीकात्मक तस्वीर

Jharkhand Corona Update, Corona Doubling Rate In Jharkhand रांची : झारखंड में संक्रमितों के मिलने की यही रफ्तार रही, तो अगले 31 दिनों में 1.72 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो सकते हैं. स्वास्थ्य विभाग का अनुमान है कि झारखंड में कोरोना का डबलिंग रेट 31.60 दिनों का है. यानी राज्य में अब तक 1,72,315 संक्रमित मिल चुके हैं, तो अगले 31 दिनों में इसकी संख्या दोगुनी हो जायेगी. यानी तब राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 3,44,630 हो जायेगी. विभाग इसे लेकर चिंता जता रहा है.

इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस प्रोग्राम (आइडीएसपी) के अधिकारी निरंतर आकलन कर राज्य सरकार को रिपोर्ट दे रहे हैं. आइडीएसपी का अनुमान है कि यदि जल्द ही संक्रमण पर रोक नहीं लगी, तो स्थिति और खतरनाक हो सकती है.

158 दिनों में जितने संक्रमित मिले थे, उतने अप्रैल के 21 दिनों में ही मिले : पिछले वर्ष की तुलना करें, तो राज्य में सबसे पहला केस 31 मार्च 2020 को मिला था. इधर, एक अप्रैल से लेकर 21 अप्रैल की सुबह नौ बजे तक पूरे राज्य में कुल 48,114 संक्रमित मिले हैं.

यानी प्रतिदिन 2291 के करीब संक्रमित मिल रहे हैं. वर्ष 2020 में इतने ही केस 158 दिनों में मिले थे. यानी चार सितंबर 2020 तक कुल 48,039 संक्रमित मिल चुके थे. उस दौरान 158 दिनों में कुल 447 की मौत हो चुकी थी. लेकिन, वर्ष 2021 के अप्रैल माह के 21 दिनों में ही 434 कोरोना संक्रमितों ने अपनी जान गंवा दी है. यानी प्रतिदिन 20 से अधिक लोगों की मौत हो रही है.

एक्टिव केस भी 21.41 गुना अधिक बढ़े :

चार सितंबर 2020 को राज्य भर में कुल एक्टिव केस 1549 थे. तब न बेड की मारामारी थी और न ही इलाज की. पर, अप्रैल के 21 दिनों में ही जितनी तेजी से मरीज मिले हैं, उसकी तुलना में अस्पतालों में बेड के लिए मारामारी हो रही है. इस समय राज्य में एक्टिव केस की कुल संख्या 33,178 है. जिसके कारण न तो बेड मिल रहा है और न ही इलाज के लिए समुचित दवा मिल पा रही है.

रांची में 12379 एक्टिव केस :

राज्य के सर्वाधिक एक्टिव केस रांची में 12,379 हैं. इतने एक्टिव केस केवल अप्रैल के 21 दिनों में हो गये हैं. जबकि, वर्ष 2020 के 158 दिनों में रांची में एक्टिव केस 4425 थे. तब कोरोना पीक पर था. उस समय रांची में कुल 67 मौतें हुई थीं. वहीं, अप्रैल के 21 दिनों में रांची में 137 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है.

घर में रहें, सुरक्षित रहें

31.60 दिनों का है कोरोना का डबलिंग रेट झारखंड में, स्वास्थ्य विभाग के अनुसार

1,72,315 संक्रमित मिल चुके हैं अब तक राज्य में कोरोना की शुरुआत से लेकर

31 दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या दोगुना होने का जताया जा रहा अनुमान

48,114 संक्रमित मिले हैं राज्य में एक से 21 अप्रैल की सुबह नौ बजे तक

434 संक्रमितों ने अपनी जान गंवा दी, औसतन प्रतिदिन 20 से अधिक लोगों की हो रही मौत

आज से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह, करें पालन

कोरोना संक्रमण की यह रफ्तार बेहद खतरनाक है. बीते वर्ष 2020 को कोरोना संक्रमण के लिहाज से खतरनाक माना जा रहा था. लेकिन, 2021 के अप्रैल माह के 21 दिनों के आंकड़े डरानेवाले हैं. स्वास्थ्य विभाग ने जो अनुमान जताया है, उसे देखते हुए लग रहा है कि इस बार कोरोना संक्रमण की रफ्तार बेहद तेज है. राज्य सरकार ने इस खतरे को भांपते हुए आज से (22 अप्रैल) से राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का ऐलान किया है. आप भी जिम्मेवार बनें और इस खतरे को भांपते हुए, घरों में ही रहें.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें