झारखंड के रामगढ़ में लव जेहाद, लड़के के पिता व मौसे ने रची साजिश, गैंगरेप व हत्या पर भड़के मंत्री सीपी सिंह

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रामगढ : झारखंड में एक बार फिर लव जिहाद का मामला सामने आया है.रामगढजिले के भदानीनगर ओपी क्षेत्र के महुआटोला निवासी किरण कुमारी की कथित रूप से सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या कर दी गयी थी. कुछ दिनों पूर्व किरण का शव बोकारो जिले के गरगा नदी के पास से बरामद हुआ था. परिवार वालों ने किरण के प्रेमी आदिल अंसारी पर हत्‍या का आरोप लगाया था. साथ ही मामले को लव जिहाद से जोड़ा था.

आपको बता दें कि 06 नवंबर से लापता किरण का शव 23 दिसंबर को बोकारो के गरगा नदी से बरामद किया गया था. शव का हाथ-पैर बंधा था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या से पहले लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म की बात सामने आयी है. इसके बाद बोकारो जिले के बालीडीह थाना पुलिस ने किरण के कथित प्रेमी आदिल अंसारी को रविवार शाम गिरफ्तार कर लिया.

इस हत्‍या के खुलासे के बाद भुरकुंडा को माहौल गर्म है. हत्‍या और लव जिहाद के विरोध में कई हिंदू संगठन के लोग आगे आये हैं. सोमवार को हिन्दू जागरण मंच रांची, रामगढ़, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, युवा वाहिनी आदि संगठनों के अधिकारियों व लोगों ने भदानीनगर महुआ टोला स्थित मृतिका किरण कुमारी के घर जाकर उसके परिजनों से मुलाकात की. हिन्दू संगठन के लोगों ने परिजनों को सांत्वना देते हुए पूरे मामले की जानकारी ली. संगठन के लोगों ने बैठक कर रणनीति बनायी.

क्‍या कहना है आदिल का

पुलिस से पूछताछ में आदिल ने बताया कि किरण के साथ भागकर उसने किरण के साथ शादी की थी. शादी के बाद वे दोनों बोकारो स्थित मौसा के घर पहुंचे. मौसा ने फोन कर आदिल के पिता असगर अली को बुला लिया. आदिल ने बताया, 'फिर अब्बा और मौसा ने हम दोनों से कहा- दोनों का अलग धर्म है. इस लड़की को पहले इस्लाम में दाखिल कराओ फिर शादी कर सकते हो. ऐसा नहीं कर सकते तो लड़की को छोड़ दो.

आदिल का कहना है कि हमदोनों ने अपने परिवार वालों को बता दिया कि हमदोनों बिना धर्म परिवर्तन किये ही एक साथ रहेंगे. ऐसा सुनकर आदिल के पिता ने दोनों को रांची भेजने के लिए स्‍टेशन छोड़ने की पेशकश की. आदिल के पिता और मौसा किरण और आदिल को लेकर जंगल के रास्‍ते राजाबेड़ा हाल्‍ट की ओर निकल पड़े.

जब किरण ने पूछा के हमें जंगल के रास्‍ते क्‍यों ले जा रहे हैं. सड़क के रास्‍ते गाड़ी से चलिए. तब आदिल के पिता ने कहा कि अभी ही घबरा गयी, अभी तो बहुत कुछ देखना बाकी है. इसके बाद किरण ने वापस जाना चाहा तो आदिल का मौसा उसे पकड़कर घसीटता हुआ झाडि़यों की ओर ले गया. आदिल के पिता ने आदिल को पकड़कर बांध दिया. आदिल ने बताया कि मौसा के साथ कुछ और भी लोग वहां मौजूद थे. सभी ने मिलकर किरण को मार डाला.

क्‍या कहना है नगर विकास मंत्री सीपी सिंह का

राज्‍य के नगर विकास मंत्री चंदेश्‍वर प्रसाद सिंह नेमंगलवार को एक न्यूज चैनल से कहा कि इस तरह के कई मामले जानने सुनने में आये हैं. सरकार अपनी ओर से प्रयास कर रही है कि इस प्रकार के अपराधों पर लगाम लगे. जबरन धर्म परिवर्तन कराना कानूनन गलत है, साथ ही झारखंड में धर्मांतरण कानून भी लागू है. ऐसे में किसी की हत्‍या इसलिए कर देना वह अपना धर्म नहीं बदलना चाहता, माफी के काबिल नहीं. श्री सिंह ने कहा कि बच्‍चों के अभिभावकों को भी अपने बच्‍चों पर ध्‍यान देना चाहिए कि वह क्‍या कर रहे हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें