1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. herd of elephants arrived again in jugra village of barkagaon furious 2 youth injured sam

बड़कागांव के जुगरा गांव में दोबारा पहुंचा हाथियों का झुंड, मचाया उत्पात, 2 युवक हुए घायल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : जुगरा गांव में हाथियों द्वारा खड़ी फसलों को पहुंचाया गया नुकसान.
Jharkhand news : जुगरा गांव में हाथियों द्वारा खड़ी फसलों को पहुंचाया गया नुकसान.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Hazaribagh news : बड़कागांव (संजय सागर) : हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव प्रखंड के जुगरा एवं झरना में हाथियों का उत्पात जारी है. हाथियों का झुंड जुगरा गांव में दोबारा उत्पात मचाया. हाथियों के उत्पात के कारण 2 युवक जितेंद्र कुमार एवं उमेश कुमार घायल हो गये. बता दें कि पिछले दिनों जुगरा गांव में हाथियों के झुंड ने जहां 4 घरों को क्षतिग्रस्त किया, वहीं कई खड़ी फसलों को बर्बाद भी किया.

जानकारी के अनुसार, 25 हाथियों का झुंड 11:00 बजे रात्रि में टावर जंगल से आकर जुगरा एवं झरना के पास पहुंचे. हाथियों ने धान के खेतों को नुकसान पहुंचाना शुरू किया था. हाथियों की आहट सुनकर जुगरा गांव के दर्जनों ग्रामीण मशाल लेकर दौड़ पड़े. इसी दौरान हाथियों का झुंड उमेश कुमार एवं जितेंद्र कुमार के धान के खेतों में भी नुकसान पहुंचा रहे थे. अपने धान को बचाने के लिए दोनों युवक हाथी को भगाने लगे. दोनों युवकों द्वारा भगाये जाने से हाथी कुछ दूर भाग गये.

आगे-आगे हाथियों का झुंड एवं पीछे- पीछे जितेंद्र कुमार एवं उमेश कुमार दौड़ रहे थे. अचानक हाथियों ने पलट कर इन दोनों युवकों को दौड़ाने लगा. जान बचाने के लिए दोनों युवक गिरते हुए बस्ती की ओर भागे. गांव की ओर हाथियों को आते देख ग्रामीणों ने मशाल, पटाखे और ढोल मंजीरा बजा कर हाथियों को भगाने लगे. हाथी तो भाग गया, लेकिन हाथियों से जान बचाने के लिए भागने के दौरान उमेश कुमार एवं जितेंद्र कुमार को काफी चोटें आयी. इससे दोनों घायल हो गये.

हाथियों के उत्पात की जानकारी मिलने पर रेंजर उदय चंद्र झा के नेतृत्व में सिपाहियों ने हाथियों को भगाने में सफल रहे. हाथियों के झुंड को भगाने में मुखिया प्रतिनिधि शंकर भुईयां, पंचायत समिति सदस्य के प्रतिनिधि राजेश रजक, महादेव साहू, अशोक साव, राजकुमार महतो, टेकलाल महतो, तुलसी राणा आदि लोगों ने भी मुख्य भूमिका निभायी.

पंचायत प्रतिनिधि राजेश रजक ने बताया कि हाथियों के डर से हम सभी ग्रामीणों को रात भर जाग कर समय बिताना पड़ता है. हमलोग रात भर एक- दूसरे को सचेत करते रहते हैं. हमें हमेशा डर सताते रहता है कि हाथियों का झुंड कब और किधर से आ जाये पता नहीं. रात में हाथियों को भगाने के दौरान हाथी काफी गुस्से में दिखते हैं. उन्होंने आशंका जतायी कि जुगरा गांव में दोबार हाथियों के झुंड के आने और उत्पात मचाने से डर बना हुआ है. इसलिए अब हमें पहले की अपेक्षा अधिक सचेत रहना होगा. जगह- जगह मशाल जलाकर एवं आतिशबाजी करते रहना होगा.

Poasted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें