धनबाद : मतदान की सभी तैयारियां पूरी, 66.85 लाख मतदाता करेंगे 67 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

238 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की जायेगी
धनबाद : धनबाद समेत झारखंड में लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 12 मई को गिरिडीह, जमशेदपुर और सिंहभूम में सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक मतदान होगा. इसके लिए 67 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं. कुल मतदाता 66,85,401 हैं, जिसमें 35,05,565 पुरुष मतदाता हैं, जबकि 31,79,720 महिला और 116 थर्ड जेंडर मतदाता हैं. उपायुक्त सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी ए दोड्डे ने कहा है कि 12 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए तैयारी पूरी हो गयी है. शनिवार को मतदानकर्मी सभी बूथों पर पहुंच जायेंगे.

शुक्रवार को समाहरणालय में पत्रकार सम्मेलन में डीसी ने कहा कि धनबाद जिला में 2378 मतदान केंद्र हैं. 11 मई को दोपहर तक सभी केंद्रों पर मतदान कर्मी पहुंच जायेंगे. सखी एवं मॉडल केंद्रों पर विशेष व्यवस्था की गयी है. निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए छह सुपर जोनल, 20 जोनल दंडाधिकारी, 260 सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा 145 माइक्रो ऑब्जर्वर की प्रतिनियुक्ति की गयी है. 238 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की जायेगी.

425 वीडियो ग्राफर तथा 914 फोटोग्राफर भी मतदान के दिन बूथ पर जाकर वीडियोग्राफी एवं फोटोग्राफी करेंगे. यहां प्रचार शांतिपूर्ण रहा. प्रचार के बाद ऐसे राजनीतिक कार्यकर्ता जो यहां के मतदाता नहीं हैं, वे क्षेत्र को छोड़कर चले जायेंगे. बताया कि बाजार समिति, निरसा तथा धनबाद पॉलिटेक्निक में डिस्पैच सेंटर स्थापित किया गया है. बाजार समिति से बाघमारा एवं टुंडी, निरसा से सिंदरी एवं निरसा तथा धनबाद पॉलिटेक्निक से झरिया एवं धनबाद विधानसभा क्षेत्र के मतदान दल चुनाव सामग्री लेकर प्रस्थान करेंगे. पत्रकार वार्ता में ग्रामीण एसपी अमन कुमार, अपर जिला दंडाधिकारी (विधि व्यवस्था) राकेश कुमार दुबे, उप निर्वाचन पदाधिकारी मृत्युंजय पांडेय भी मौजूद थे.

13 मतदान केंद्र ज्यादा उपद्रव की आशंका वाले : डीसी ने बताया कि 111 मतदान भवन को अतिसंवेदनशील की श्रेणी में चिह्नित है. 156 मतदान केंद्र अतिसंवेदनशील हैं. संवेदनशील मतदान भवनों की संख्या 929 है तथा 1731 मतदान केंद्र संवेदनशील चिह्नित किये गये हैं. 13 मतदान केंद्र को वल्नरेबल (ज्यादा उपद्रव की आशंका वाले) बूथ घोषित किये गये हैैं. बताया कि सेक्टर मैजिस्ट्रेट के पास ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम लगी दो रिजर्व इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन रहेगी. इसके लोकेशन को कभी भी जीपीएस से ट्रैक किया जा सकेगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें