कृषि मंत्री योगेंद्र साव पूर्व सीएस के घर जबरन घुसे, की पूजा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची: कृषि मंत्री योगेंद्र साव ने शुक्रवार को अपनी दबंगई दिखायी. पूर्व मुख्य सचिव एसके चौधरी के सेक्टर तीन स्थित आवास (एफ-44) में जबरन घुस गये और पूजा-पाठ (गृह प्रवेश) भी किया. बाहर से बुलाये गये पंडितों ने आवास के गेट को धक्का मार कर खोल दिया और आवासीय परिसर में घुस गये.

इसके बाद आवास के बाहरवाले एक कमरे में पूजा-पाठ किया. इस बीच बड़ी संख्या में मंत्री के समर्थक वहां पहुंच गये. इधर, पूर्व मुख्य सचिव श्री चौधरी अपनी पत्नी सेवानिवृत्त आइपीएस अधिकारी कुमुद चौधरी व बच्चे के साथ आवास के अंदर ही बंद रहे.

इस दौरान उन्होंने बार-बार आग्रह किया कि वे लोग आवास खाली कर रहे हैं. आधा से अधिक सामान ढोये जा चुके हैं. शेष सामान भी ढोये जा रहे हैं. वे लोग जल्द ही आवास छोड़ कर चले जायेंगे. इधर, इस आग्रह के बावजूद मंत्री गृह प्रवेश के लिए अड़े रहे. उनके समर्थकों ने कहा कि आज का दिन बहुत अच्छा है. इसलिए हर हाल में आज ही गृह प्रवेश अनुष्ठान होगा. पूजा-पाठ के बाद काफी देर तक मंत्री और उनके समर्थक वहां डटे रहे. प्रसाद आदि खाये. शाम में मंत्री अपने काफिले के साथ वहां से लौट गये.

उल्लेखनीय है कि यह आवास पूर्व में श्री चौधरी को मिला था. उनकी सेवानिवृत्ति के बाद मंत्री योगेंद्र साव को यह आवास दिया गया है. कुछ दिन पूर्व श्री साव आवास खाली कराने की मांग को लेकर श्री चौधरी को गुलाब सौंपने सेक्टर तीन स्थित आवास (एफ-44) पहुंचे थे. तब यह वाकया काफी चर्चा में रहा था. सूत्र बताते हैं कि तब आवास खाली कराने के मुद्दे पर बातचीत हुई थी. उसी आधार पर श्री चौधरी 10 नवंबर का लक्ष्य लेकर आवास से सामान हटा रहे थे. शुक्रवार (एक नवंबर) को भी सामान ढोने के लिए सुबह में वहां ट्रक के साथ लेबर पहुंचे.

इसी बीच मंत्री श्री साव के कुछ समर्थक पहुंचे. श्री चौधरी को यह संदेश दिया कि मंत्री गृह प्रवेश की पूजा करेंगे. श्री चौधरी की ओर से मंत्री को संदेश दिया गया कि वह आवास खाली कर रहे हैं. आधा से अधिक सामान ढोये जा चुके हैं. कुछ सामान बचे हुए हैं, वे इसे हटा कर खाली कर देंगे. जो सामान हटाये जाने हैं, वह अभी बिखरे हुए हैं. यह जानकारी दिये जाने के बाद भी मंत्री के समर्थक गृह प्रवेश पर अड़े रहे और कहा कि दिन अच्छा है, इसलिए हर हाल में पूजा होगी.

सुबह 10.35 बजे मंत्री के पीएस मुकेश अनुष्ठान के लिए पंडितों को लेकर पहुंचे. अनुष्ठान के लिए झारखंड के बाहर से भी पंडित बुलाये गये थे. पंडित कौलेश्वर मिश्र, पंडित शंभु नाथ शास्त्री, आचार्य दिवाकर पाठक और मंत्री के समर्थक क्वार्टर नंबर एफ-44 पहुंचे. गेट में अंदर से ताला बंद था. आवाज लगाने पर एक व्यक्ति अंदर से आया. उसने पंडितों और समर्थकों को बताया कि उसके पास चाबी नहीं है. इसके बाद वह व्यक्ति आवास के अंदर चला गया. मंत्री के समर्थक गेट के बाहर ही जमे रहे. इस बीच मंत्री के पीएस मोबाइल से एसडीओ सहित अन्य अधिकारियों से बातचीत करने लगे. सुबह 11.11 बजे आचार्य दिवाकर पाठक ने जोर से धक्का मार कर गेट खोल दिया. फिर सभी लोग अंदर प्रवेश कर गये.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें