छात्रों को जिम्मेदार नागरिक बनने का पढ़ाया जायेगा पाठ

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बक्सर : जिले के छात्र-छात्राओं को एक जिम्मेदार नागरिक बनाने, नागरिक सुरक्षा तथा शांति के लिए पुलिस एवं छात्र के बीच मित्रवत संबंध को व्यवस्थित करने को लेकर जिले में स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा, जिससे पुलिस एवं समाज के बीच अच्छे संबंध बन सके. जिले में इसके लिए शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है.

कार्यक्रम संचालन को लेकर 30 उत्क्रमित उच्च विद्यालयों को इसमें शामिल किया गया है. चयनित स्कूलों के 8वीं कक्षा के प्रति विद्यालय 22 बालक एवं 22 बालिका वर्ग से छात्र-छात्राओं का चयन किया गया है, जिन्हें विशेष रूप से प्रशिक्षण देकर समाज का एक सजग नागरिक बनाया जायेगा.
यह केंद्र सरकार की बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है. योजना को जिले में मूर्त रूप देने के लिए चयनित विद्यालयों के 2-2 शिक्षकों एवं 10 पुलिस पदाधिकारियों को जिला स्तर पर प्रशिक्षित किया जायेगा. शिक्षा विभाग से गैर आवासीय प्रशिक्षण जिला मुख्यालय स्थित एमपी उच्च विद्यालय परिसर में 23 एवं 24 दिसंबर को किया जायेगा.
केंद्र सरकार की है महत्वाकांक्षी योजना
केंद्र सरकार के गृह विभाग से संचालित होने वाली यह महत्वाकांक्षी योजना है. योजना को सफल बनाने के लिए राज्य स्तर पर तीन मास्टर ट्रेनरों को प्रशिक्षित किया जा चुका है. जिनमें दो शिक्षक एवं एक पुलिस अधिकारी शामिल है.
तीनों मास्टर ट्रेनर जिले के चयनित 30 उत्क्रमित विद्यालयों के 60 शिक्षकों एवं 10 पुलिस पदाधिकारियों को प्रशिक्षित करेंगे. प्रशिक्षण नगर के एमपी उच्च विद्यालय के परिसर में आयोजित होगा. जिला स्तर पर प्रशिक्षण प्राप्त ट्रेनर अपने विद्यालय के बालक एवं बालिका वर्ग से कुल 44 विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करेंगे.
जिनमें दो विद्यालय के शिक्षकों के साथ ही एक प्रशिक्षित पुलिस पदाधिकारी शामिल रहेंगे. प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को विसिल, टोपी एवं बैच प्रदान किया जायेगा. इसको लेकर प्रति विद्यालय शिक्षा विभाग से 47 हजार की राशि उपलब्ध करायी जा रही है.
30 उत्क्रमित विद्यालयों के छात्र-छात्राओ को दिया जायेगा प्रशिक्षण
दो दिवसीय जिला स्तरीय ट्रेनिंग 23 एवं 24 दिसंबर को शामिल होंगे प्रति स्कूल 2 शिक्षक व 10 पुलिस अधिकारी
इन विद्यालयों का किया गया है चयन
जिन विद्यालय के छात्र-छात्राओं को स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के तहत शामिल किया गया है. उसमें ब्रह्मपुर के उत्क्रमित उच्च विद्यालय महुआर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय बराढ़ी ब्रह्मपुर, अपग्रेड एससी उच्च विद्यालय ब्रह्मपुर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय नदांव बक्सर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय कृतपुरा बक्सर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय मझरिया बक्सर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय जासो बक्सर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय अरक चक्की, उत्क्रमित उच्च विद्यालय लिलाधरपुर चक्की, उत्क्रमित उच्च विद्यालय बनारपुर चौसा, उत्क्रमित उच्च विद्यालय पवनी चौसा, उत्क्रमित उच्च विद्यालय सघारा चौसा, उत्क्रमित उच्च विद्यालय कनझरूआं डुमरांव, उत्क्रमित उच्च विद्यालय रामपुर मठिया डुमरांव, उत्क्रमित उच्च विद्यालय बैरी इटाढ़ी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय बैकुंठपुर इटाढ़ी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय बिझौरा इटाढ़ी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय परमानपुर नावानगर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय धनबखरा नावानगर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय बरूना नावानगर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय गोविंदपुर नावानगर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय परसागंडा नावानगर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय भादार नावानगर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय खिरी राजपुर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय मंगरांव राजपुर, उत्क्रमित उच्च विद्यालय ढाकाइच सिमरी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय धनंजयपुर सिमरी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय खरहाटाड़ सिमरी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय एकौना सिमरी, उत्क्रमित उच्च विद्यालय छोटका सिंहनपुरा सिमरी विद्यालय शामिल हैं.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें