20.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

टेलीकॉम कंपनियां फिर बढ़ानेवाली हैं आपके मोबाइल का बिल! जियो यूजर्स को मिल सकती है राहत

Reliance Jio, Bharti Airtel, Vi Telecom Tariff Hike News - भारत की दो बड़ी टेलीकॉम कंपनियां- एयरटेल और वीआई (वोडाफोन आइडिया) ने फिर से मोबाइल टैरिफ बढ़ाने की मांग की है, कितनी बढ़त होगी ये अभी तक साफ नहीं है. इसी बीच जियो की तरफ से बयान आया है कि वह टैरिफ रेट बढ़ाने के पक्ष में नहीं है.

Reliance Jio, Bharti Airtel, Vi Telecom Tariff Hike : भारत की दो बड़ी टेलीकॉम कंपनियां- एयरटेल और वीआई (वोडाफोन आइडिया) ने फिर से मोबाइल टैरिफ बढ़ाने की मांग की है, कितनी बढ़त होगी ये अभी तक साफ नहीं है. इसी बीच जियो की तरफ से बयान आया है कि वह टैरिफ रेट बढ़ाने के पक्ष में नहीं है.

बढ़ती महंगाई से तंग लोगों की परेशानी और बढ़ने वाली है. देश की दो बड़ी टेलीकॉम कंपनियां एक बार फिर मोबाइल टैरिफ के दामों में इजाफा करने की तैयारी में हैं. इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, एयरटेल और वीआई (वोडाफोन आइडिया) चाहती हैं कि एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) में बढ़ोतरी हो. लेकिन देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम जायंट रिलायंस जियो इस सुझाव के पक्ष में नहीं है.

जियो का कहना है कि उसे टैरिफ में बढ़ोतरी मंजूर नहीं है. जियो का मानना है कि देश में अभी बहुत से लोग 2जी तक ही सीमित है. ऐसे में अगर मोबाइल टैरिफ में और बढ़ोतरी की गई, तो इन ग्राहकों को 5जी की ओर खींचना और मुश्किल होगा. आपको बता दें कि देश भर में अब भी लगभग 25 करोड़ लोग 2जी सिम का इस्तेमाल करते हैं.

भारती एयरटेल के सीईओ गोपाल विट्टल ने कहा, हम इंडस्ट्री के लिए ग्रेटर फाइनेंशियल हेल्थ चाहते हैं क्योंकि इसमें बहुत पूंजी खर्च हो रही है, इसलिए एआरपीयू में बढ़ोतरी जरूरी है. उनके मुताबिक एआरपीयू 200 रुपये से बढ़ कर 300 रुपये तक होना चाहिए. बता दें कि एयरटेल देश की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है, जिसके पास 24 करोड़ से भी अधिक उपभोक्ता हैं.

Also Read: Jio के इस प्लान के साथ सालभर रीचार्ज से छुटकारा; 2GB डेली डेटा, अनलिमिटेड कॉल के साथ फ्री OTT सब्सक्रिप्शन

एवरेज रेवेन्यू पर यूजर क्या है?

एवरेज रेवेन्यू पर यूजर किसी भी टेलीकॉम कंपनी की फाइनेंशियल हेल्थ को आंकने का एक जरिया होता है. इसके जरिये हम यह जान सकते हैं कि कंपनी मुनाफे में है या घाटे में चल रही है. अगर हम देश की बड़ी टेलीकॉम कंपनियों के एआरपीयू की बात करें, तो सबसे अच्छी स्थिति में भारती एयरटेल है. एयरटेल का एआरपीयू इस तिमाही में 203 रुपये रिकाॅर्ड किया गया. वहीं, जियो का एआरपीयू इस तिमाही में 181.7 रुपये पर जाकर रुका. बड़ी टेलीकॉम कंपनियों में सबसे खराब हालत वीआई (वोडाफोन आइडिया) की बतायी जा रही है, जिसने इस तिमाही में मात्र 142 रुपये का एआरपीयू दर्ज किया.

2जी यूजर्स को डिजिटली सशक्त बनाना चाहता है जियो

रिलायंस जियो के प्रेसीडेंट मैथ्यू ऊमन का कहना है कि जियो अपने प्लान में टैरिफ में कोई बढ़ोतरी नहीं करेगा. कंपनी का पूरा फोकस उन ग्राहकों पर है, जो 2जी से आगे बढ़ कर डेटा प्लान्स की ओर आना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी और रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी का यही लक्ष्य है. उन्होंने आगे कहा कि देश में अब भी 20 करोड़ ऐसे ग्राहक हैं, जो 2जी का इस्तेमाल करते हैं और उन्हें डिजिटली सशक्त बनाने की जिम्मेदारी टेलीकॉम इंडस्ट्री की है.

Also Read: Reliance JIO ने उत्तराखंड सुरंग में फंसे श्रमिकों के लिए रिकॉर्ड समय में दी कनेक्टिविटी

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें