1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. kcc mafi yojana jharkhand camp will be held in all the blocks cm hemant soren to be start with latehar srn

Jharkhand News: झारखंड के सभी प्रखंडों में कल से लगेगा KCC शिविर, सीएम हेमंत लातेहार से करेंगे शुरुआत

झारखंड के हर ब्लॉक में कल से किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए शिविर लगाया जाएगा. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन लातेहार से इसकी शुरुआत करेंगे. इस शिविर में आने के लिए किसानों को जरूरी दिशा निर्देश दे दिये गये हैं

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीएम हेमंत सोरेन
सीएम हेमंत सोरेन
फाइल फोटो

रांची : कृषि सचिव अबु बकर सिद्दीख ने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) बनाने के लिए 23 जून को राज्य के सभी प्रखंडों में शिविर लगाया जायेगा. इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन लातेहार में आयोजित प्रमंडलीय सम्मेलन में करेंगे. कार्यक्रम में कृषि मंत्री बादल और जिला प्रभारी मंत्री जोबा मांझी के अतिरिक्त स्थानीय सांसद और विधायकों को भी आमंत्रित किया गया है. इससे पूर्व आठ जून को भी अभियान चलाया गया था.

मंगलवार को नेपाल हाउस स्थित सभागार में पत्रकारों से बात करते हुए कृषि सचिव ने कहा कि इसमें सुयोग्य किसानों को ऑन स्पॉट किसान क्रेडिट कार्ड स्वीकृत किया जायेगा. किसानों को जरूरी दस्तावेज के साथ शिविर में आने को कहा गया है. राज्य में 29 लाख से अधिक किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत सूचीबद्ध हैं.

इसमें से 15 लाख किसानों का केसीसी स्वीकृत है. शेष 14 लाख का बनाया जा रहा है. इसमें नौ लाख आवेदन बैंक के पास थे. उसमें तीन लाख से अधिक स्वीकृत हो गये हैं. जो आवेदन तकनीकी कारणों से फंसे हुए हैं, उसे दुरुस्त किया जा रहा है. उन्होंने नव निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों से भी इस अभियान में शामिल होकर किसानों को केसीसी के लिए प्रोत्साहित करने का आग्रह किया.

कृषक मित्रों को मिलेगी प्रोत्साहन राशि

कृषि निदेशक निशा उरांव ने बताया कि जो कृषक मित्र किसानों का केसीसी आवेदन तैयार करने में सहयोग करेंगे, उन्हें प्रति कार्ड 100 रुपये मिलेंगे. आवेदन तैयार कराने पर 50 रुपये और आवेदन बैंक से स्वीकृत होने पर प्रति केसीसी 50 रुपये दिये जायेंगे. इसके लिए विभाग से राशि का आवंटन प्राप्त हो चुका है.

7% ब्याज पर मिलता है ऋण, छह फीसदी होता है माफ

कृषि सचिव ने बताया कि राज्य में केसीसी के तहत सात फीसदी दर से किसानों को ब्याज दिया जाता है. समय पर पैसा लौटाने पर तीन फीसदी केंद्र और तीन फीसदी राज्य सरकार माफ कर देती है. एक फीसदी ब्याज पर किसानों को ऋण चुकाना पड़ता है. समय पर ऋण चुकाने वाले किसानों को ऋण का लिमिट भी बढ़ाया जाता है.

Posted By: Sameer Oraon

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें