कुछ खास है ये दीपावली . . .

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

-शौर्य पुंज श्रीवास्तव-


रोशनी का त्योहार दीपावली मनाया जा रहा है. इस दिन को खास बनाने की हर कोई कोशिश कर रहा है. बच्चे पटाखे और मिठाइयां खरीदने के लिए उत्साहित हैं, तो घर की महिलाएं घर की साफ सफाई करने, स्वादिष्ट पकवान बनाने और पूजा की तैयारी करने में व्यस्त हैं. शाम के वक्त घर को रोशन करने और बिजली की लाइटों को लगाने का जिम्मा घर के पुरुषों और लड़कों को सौंप दिया गया है. घर का हर सदस्य व्यस्त है. वैसे तो दीपावली का त्योहार हर किसी के लिए खास है पर कुछ ऐसे लोग भी हैं जिनके के लिए ये दीपावली जरा हट के है. कुछ नयी है कुछ अलग है. आइए जानें ऐसे ही कुछ लोगों की दीपावली के बारे में कि वह अलग कैसे है . . .

जॉब हो जाने की खुशी है, पर पहली बार घर से दूर मनाऊंगा दीपावली: अरविंद कुमार

कुछ खास है ये दीपावली . . .

अरविंद कुमार को हाल ही में बैंक पीओ की परीक्षा में सफलता मिली है, फिलहाल वे कर्नाटक में एक में बैंक सेवारत हैं. खलारी निवासी अरविंद ने बताया की वे पहली बार घर से दूर दीपावली मना रहे हैं. नौकरी पाने के बाद पहली दीपावली मनाने की खुशी तो है अरविंद को, पर घर वालों से दूर रहने पर उनकी कमी भी खलती है. अरविंद इस दीपावली को अपने कर्नाटक के दोस्तों के साथ मना रहे हैं.

अपने नये घर में पहली बार दीपावली मना रही हूं : पूनम

कुछ खास है ये दीपावली . . .

पूनम के लिए ये दीपावली इसलिए खास है क्योंकि वो पहली बार अपने नये घर में दीपावली मना रही हैं. अगस्त महीने में गृहप्रवेश कर अपने नये घर में रहने आयीं पूनम ने अपने घर को शानदार तरीके से सजाया है. उनके पति भी इसमें उनका साथ दे रहे हैं. पूनम के तीन बच्चे हैं. तीनों बाहर रहते हैं. बड़े बेटे की शादी हो गयी है और दो बेटे पढ़ाई करते हैं. वह बताती हैं कि बच्चों के घर पर नहीं रहने से रौनक कम लगती है. पहले बच्चों के साथ पूनम और उनके पति पटाखे जलाते थे, बच्चे घर को सजाने में

कुछ खास है ये दीपावली . . .

लगे रहते थे, पर आज सब पढ़ाई और नौकरी को लेकर व्यस्त है इसलिए थोड़ा बदलाव आया है.

शादी के बाद पहली दीपावली: तृप्ति सुमन

तृप्ति की शादी इसी साल जुलाई माह में हुई है. शादी के बाद उनकी ये पहली दीपावली है इसलिए वह उत्साहित हैं.

तृप्ति इस दीपावली को यादगार बनाने में लगी हुईं हैं. तृप्ति पहली बार हजारीबाग स्थित अपने ससुराल में दीपावली मनायेंंगी. तृप्ति पर नयी जिम्मेवारियां हैं, तृप्ति ने अपने घर को सजाने के लिए फूल के मालाओं का प्रयोग कर रही हैं.तृप्ति ने बताया कि उनके पति संतोष भी उनका काफी सहयोग कर रहे हैं. घर की सजावट और खाने के समानों की शॉपिंग दोनों ने साथ में ही की है.

अद्विका की पहली दीपावली मनाऊंगी : नीतू सिंह

कुछ खास है ये दीपावली . . .

नीतू की बेटी अद्विका का जन्म पिछले साल दिसंबर में हुआ है. अद्विका के साथ नीतू और उनके पति मनीष भी दीपावली की तैयारी में लगे हुए हैं. नीतू की अद्विका अब एक साल की होने जा रही है और उसके लिए ये सब नया है तो उसके लिए ये दीपावली काफी खास होने जा रही है. नीतू और मनीष अपने घर को सजाने में लगे हुए हैं. नीतू ने बताया कि पटाखों का शोर सुनकर अद्विका के कान खड़े हो जाते हैं और वह गौर से पटाखों की आवाज को सुनने लगती है.

कुछ खास है ये दीपावली . . .

तीन साल के बाद मम्मी-पापा के साथ दीपावली मनाऊंगी : शिवांगी
भुवनेश्वर से लॉ की पढ़ाई कर रही शिवांगी तीन सालों के बाद अपने मम्मी पापा के साथ दीपावली मना रहीं हैं. ओडिशा में हाल में आये फैलिन तूफान के कारण शिवांगी के कॉलेज में छुट्टी हो गयी है. शिवांगी काफी खुश हैं क्योंकि उनके पापा का एक कॉस्मेटिक्स शॉप है, जो खुद उनके नांम से है. कॉस्मेटिक्स शॉप को खुले एक साल होने को हैं. शिवांगी इस दीपावली अपने दूकान की पूजा में हिस्सा लेंगी. शिवांगी को पटाखे जलाना काफी पसंद हैं इसलिए उनके पापा ने उनके लिए पहले से ही पटाखों की खरीदारी कर रखी है. शिवांगी ने बताया कि उनके हॉस्टल में सीमित साधनों के साथ हर साल दीपावली मनाने का मौका मिलता था, पर इस साल उन्हें पूरी छूट है और वो दीपावली पर धमाल मचाने वाली हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें