27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

अज्ञात अपराधियों ने शिक्षक की गोली मारकर की हत्या

जमीन विवाद का बताया जा रहा मामला, छोटे भाई की भी पिछले साल हो गयी थी मौत,पत्नी के आवेदन पर मामला दर्ज

जमीन विवाद का बताया जा रहा मामला, छोटे भाई की भी पिछले साल हो गयी थी मौत,पत्नी के आवेदन पर मामला दर्ज कहरा. सदर थाना व बनगांव थाना के सीमा पर स्थित रहुआ नहर के समीप पूर्व से घात लगाये दो अज्ञात अपराधियों ने सहरसा से बरियाही जा रहे एक शिक्षक की गोली मारकर हत्या कर दी. मृतक बरियाही निवासी बालमुकुंद गुप्ता का बड़ा पुत्र 48 वर्षीय सरोज गुप्ता बताया जा रहा है. जो सहरसा में ही रहकर बरियाही अध्यापन कार्य के लिए रोज आया जाया करता था. शुक्रवार को रोज की तरह सुबह अपने विद्यालय अनुसूचित जाति प्राथमिक विद्यालय साफाबाद के लिए बाइक से सहरसा से बरियाही जा रहा था. जहां बनगांव थाना और सहरसा थाना क्षेत्र की सीमा रेखा पर पूर्व से ही घात लगाये दो अपराधियों ने दो गोली मारकर हत्या कर दी. घटना के बाद लोगों ने लूटपाट के उद्देश्य से गोली मारने की आशंका जाहिर की, लेकिन मृतक के पास रखे 45 हजार नगदी सहित मोबाइल और बाइक को अपराधियों ने छुआ तक नहीं. जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि अज्ञात अपराधी सिर्फ उसके हत्या के लिए पूर्व से घात लगाये हुए थे. थाना क्षेत्र के विवाद के कारण घटना के एक घंटा बाद सदर थाना पुलिस और बनगांव थाना की पुलिस पहुंची. घटना लगभग सुबह 6 बजे होने के बाद राहगीरों द्वारा आसपास के लोगों को घटना होने की जानकारी दी गयी. इसके बाद स्थानीय लोगों ने घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की सूचना सबसे पहले 112 नंबर पर दी. उसके बाद सदर थाना पुलिस और बनगांव थाना पुलिस को भी दी, लेकिन दोनों थाना की पुलिस सीमा विवाद के कारण ससमय घटनास्थल पर नहीं पहुंची. लगभग एक घंटा बाद सदर थाना व बनगांव थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंच बनगांव थाना पुलिस द्वारा सदर थाना पुलिस का मामला बताते हुए शव को सदर थाना पुलिस के हवाले कर दिया. मौके से बरामद दो गोली का खोखा भी साथ लेकर गयी. सदर थाना पुलिस एवं बनगांव थाना पुलिस शव को सहरसा ले गयी. उसके बाद घटनास्थल का निरीक्षण करने डीएसपी आलोक कुमार पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे व घटना होने की जगह का मुआयना किया. विवादों में रहा है मृतक का परिवार बरियाही निवासी बालमुकुंद गुप्ता के चार पुत्रों में तीन पुत्र घर पर ही रहते थे. मृतक सबसे बड़ा पुत्र सरोज गुप्ता था. जो सहरसा में ही अपने एक महिला मित्र के साथ रहता था. कहा जाता है कि उसने महिला मित्र रुपा कुमारी से शादी भी कर ली थी. लेकिन उसके परिवार वाले इसको मानने के लिए तैयार नहीं थे. जिसके कारण वह सहरसा में ही रह अपने विद्यालय बरियाही आया जाया करता था. पिछले वर्ष भी बालमुकुंद गुप्ता के छोटे पुत्र नीरज कुमार की भी सड़क दुघर्टना में मौत हो गयी थी. उसमें भी पारिवारिक जमीन विवाद को लेकर घटना होने की बात बतायी जा रही थी. इस मामले में सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आलोक कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया प्रॉपर्टी विवाद को लेकर हत्या का मामला सामने आ रहा है. पत्नी के आवेदन पर मामला दर्ज कर लिया गया है. मामले का उद्भेदन जल्द ही कर लिया जायेगा.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें