विधान परिषद चुनाव: पटना स्नातक से जदयू के नीरज कुमार विजयी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना: बिहार विधान परिषद की आठ सीटों का अंतिम परिणाम गुरुवार को जारी हो गया. चुनाव 23 मार्च को हुआ था. पटना शिक्षक व स्नातक क्षेत्र से जहां नवल किशोर यादव व नीरज कुमार विजयी रहे, वहीं तिरहुत शिक्षक व स्नातक क्षेत्र से क्रमश: संजय कुमार सिंह व देवेश चंद्र ठाकुर ने बाजी मारी. दरभंगा शिक्षक व स्नातक क्षेत्र से मदन मोहन झा व विनोद चौधरी विजेता बने. कोसी स्नातक से एनके यादव व सारण शिक्षक से केदार नाथ पांडे को जीत मिली.

विधान परिषद चुनाव में पटना स्नातक क्षेत्र से जदयू प्रत्याशी नीरज कुमार ने भाजपा के वेंकटेश शर्मा डब्लू को 4,495 मतों से हराया. नीरज कुमार को 16,562 व वेंकटेश को 12,067 मत मिले. तीसरे स्थान पर राजद के आजाद गांधी रहे, जिन्हें 10,774 मत मिले. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के उम्मीदवार नागेश्वर सिंह स्वराज को 3,880 मत मिले.

3531 वोट अवैध घोषित : कुल 44,615 मत पड़े. इनमें 3,531 मत अवैध घोषित हुए. बुधवार की सुबह आठ बजे शुरू हुई मतगणना गुरुवार की अहले सुबह सवा तीन बजे पूरी हुई. सुबह सवा 5 बजे जदयू प्रत्याशी नीरज कुमार को निर्वाची पदाधिकारी सह प्रमंडलीय आयुक्त इ एलएसएन प्रसाद ने जीत का प्रमाणपत्र सौंपा.

दूसरी वरीयता के मतों की हुई गिनती : चुनाव आयोग के अनुसार जीतनेवाले प्रत्याशी को कुल वैध मतों के आधे से एक अधिक होना चाहिए. लेकिन, किसी प्रत्याशी को इतने मत नहीं मिलने के कारण दूसरी वरीयता प्राप्त वोट को लेकर गिनती का काम हुआ. इसके बाद परिणाम घोषित किया गया. आठवें राउंड के बाद बुधवार की देर रात में मतगणना स्थल के बाहर जदयू प्रत्याशी समर्थकों ने एक-दूसरे को अबीर गुलाल लगाना शुरू कर दिया था. लेकिन, देर रात में चुनाव परिणाम के नियम प्रक्रिया को लेकर फिर से वोट की गिनती का निर्णय लिये जाने के बाद समर्थक पसोपेश में पड़ गये. गुरुवार की अहले सुबह प्रमाणपत्र मिलने के बाद जदयू प्रत्याशी समर्थकों में खुशी आयी. दरभंगा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के सुरेश प्रसाद राय सबसे कम 260 मतों से पराजित हुए हैं. दरभंगा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार डॉ मदन मोहन झा को 2557 मत मिले, जबकि श्री राय को 2297 मत हासिल हुआ.

बौद्धिक जनादेश मिला
जीत के बाद नीरज कुमार ने कहा कि उन्हें बौद्धिक जनादेश मिला है. धन बल, बाहु बल के खिलाफ इंसानियत की जंग लड़ी गयी. चुनाव में समाज के सभी तबके का सहयोग व समर्थनमिला.अपने कार्यकर्ताओं व शुभ चिंतकों के प्रति आभार व्यक्त किया. उन्हें इस बात की पीड़ा है कि चुनाव में निरक्षर व्यक्ति ने हस्तक्षेप करने की खतरनाक कोशिश की.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें