ग्रामीण बैंक में लिंक की समस्या से ग्राहक परेशान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

सोनो : प्रखंड के खपरिया चौक पर स्थित दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक की शाखा में प्रायः लिंक नहीं रहने से ग्राहकों को काफी परेशानी हो रही है. बुधवार को भी लिंक की समस्या से जूझ रहे इस शाखा में दर्जनों ग्राहक परेशान हो गए. राशि निकासी के लिए आए बेहद जरूरतमंद लोग राशि नहीं मिलने से आक्रोशित भी हुए. ग्राहकों का आरोप था कि बीते कुछ महीने से ऐसा प्रायः हो रहा है.

लिंक नहीं रहने से बैंक के पदाधिकारी व अन्य कर्मी भी लाचार होकर जमाकर्ताओं के आक्रोश को झेलना पड़ता है. इस बैंक के शाखा प्रबंधक सुबोध रजक बताते है कि यहां आर एफ टावर नहीं लग पाने से अक्सर लिंक की समस्या हो रही है. दरअसल जब बिहार ग्रामीण बैंक पंजाब नेशन बैंक से जुड़ा तब इसके कार्यप्रणाली में भी बदलाव आया. व्यवस्थाओं को अपडेट किया गया.
शाखा प्रबंधक बताते है कि दो ढाई माह पूर्व जब आर एफ टावर लगाने की प्रक्रिया शुरू हुई तब बैंक जिस मकान में है उसके मालिक ने टावर लगाने की इजाजत नहीं दिया जिस कारण आरएफ टावर लगाने वाले वापस चले गए. वैकल्पिक व्यवस्था के तहत यहां दो वी-सेट लगाया गया बावजूद इसके लिंक की समस्या बनी रहती है. वी-सेट से लिंक की स्पीड भी काफी धीमा मिलता है.
हालांकि अब बैंक जिस मकान में है उसका मालिक आरएफ टावर लगवाने की इजाजत दे दिया है बावजूद इसके आरएफ टावर लगने में विलंब हो रहा है. दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक के रीजनल मैनेजर आर के लाल ने इस संदर्भ में जानकारी देते हुए बताया कि शुरू में जब मकान मालिक द्वारा आरएफ टावर लगाने की इजाजत नहीं दिया गया था तब एक निजी कंपनी से वी-सेट लगवाया गया था जिसका बैंक के साथ एग्रीमेंट भी हुआ था.
अब जबकि दो-दो वी-सेट लगाया गया है तब फौरन आरएफ टावर लगवाना आम तौर पर संभव नहीं होता है लेकिन लिंक की समस्या और ग्राहकों की परेशानी को देखते हुए वरीय पदाधिकारियों को आरएफ टावर शीघ्र लगवाने हेतु पत्र लिखा गया है. वरीय पदाधिकारी की स्वीकृति मिलते ही इस बैंक को आरएफ टावर लगाकर उससे जोड़ दिया जाएगा. आरएम श्री लाल ने बताया कि बहुत शीघ्रता के बावजूद कुछ समय तो लग ही जाएगा.
उन्होंने तकनीकी तौर पर बैंक की परेशानी को रखते हुए कहा कि जब हमारे ग्राहक परेशान होते है तो हमें खुद काफी बुरा लगता है. बता दें कि एयरटेल का आरएफ टावर लगने से बैंक में न सिर्फ लिंक की समस्या खत्म हो जाएगी बल्कि इंटरनेट और कम्प्यूटर के स्पीड में भी काफी तेजी आएगी जिससे ग्राहकों की परेशानियां दूर हो जाएगी.
अब देखना यह है कि परेशान ग्राहकों की लाचारी और आक्रोश को बैंक कितना गंभीरता से लेता है. बैंकिंग व्यवस्था, इंटरनेट और आरएफ टावर की व्यवस्था से अनिभिज्ञ सामान्य कई ग्राहकों ने अपनी समस्या को जिला पदाधिकारी तक ले जाने का मन बना रहे है.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें