25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

छात्राओं को दी गयी तीन नये कानूनों की जानकारी

पुलिस प्रशासन ने बुधवार को सूर्यगढ़ा नगर परिषद क्षेत्र के प्लस टू परियोजना बालिका उच्च विद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया.

सूर्यगढ़ा. नये कानून को लेकर लोगों को जागरूक करने की कड़ी में पुलिस प्रशासन ने बुधवार को सूर्यगढ़ा नगर परिषद क्षेत्र के प्लस टू परियोजना बालिका उच्च विद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया. कार्यक्रम में एक जुलाई से लागू हुए नये कानूनी प्रावधानों की जानकारी दी गयी. मौके पर मौजूद प्रशिक्षु डीएसपी सह प्रभारी थानाध्यक्ष सूर्यगढ़ा आकाश किशोर ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कानूनी प्रावधानों से अवगत कराया. छात्राओं के लिए जागरूक कार्यक्रम के दौरान प्रशिक्षु डीएसपी ने कहा कि दंड से न्याय की ओर अग्रसर होते हुए एक जुलाई से नये कानून लागू हुए हैं. देशभर में लागू हुए नये कानून का सभी को पालन करना होगा. नया आपराधिक कानून औपनिवेशिक युग के पुराने कानूनों की जगह पर लाया गया है. उन्होंने बताया कि नये कानून में महिलाओं और बच्चों के साथ होने वाले अपराधों के लिए सख्त सजा के प्रावधान किये गये हैं. नये कानून को लाने का उद्देश्य जांच और न्याय प्रणाली को पारदर्शी, सहज और सुलभ बनाना है. आमजन को नये कानून के बारे में जानकारी देने के उद्देश्य से स्कूल में इस तरह का कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. ताकि स्कूल, कॉलेज के विद्यार्थी सहित आमजन नये कानून से परिचित हो सकें. गौरतलब है कि एक जुलाई 2024 से नये आपराधिक अधिनियम भारतीय न्याय संहिता (बीएनएस), भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता (बीएनएसएस) और भारतीय साक्ष्य अधिनियम (बीएसए) लागू हुए हैं. तीनों कानूनों का उद्देश्य विभिन्न अपराधों और उनकी सजाओं को परिभाषित कर देश में आपराधिक न्याय प्रणाली को पूरी तरह बदलना है. यह कानून दंड नहीं बल्कि न्याय केंद्रित है. प्रशिक्षु डीएसपी आकाश किशोर ने कहा कि यदि छात्र या छात्राओं के आस-पास अपराध घटित हो रहा है तो उसकी जानकारी पुलिस को देनी चाहिए. छात्र-छात्राएं चाहे तो प्रतिदिन होने वाले सड़क हादसों में कमी लायी जा सकती है. यातायात नियमों का पालन करने एवं अन्यों को भी प्रेरित करने की बात कही. मौके पर एसआई निशा कुमारी ने छात्राओं को बाल अपराध, बाल शोषण, नाबालिग बच्चियों के उत्पीड़न के अलावा अन्य आपराधिक मामलों की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि सभी थाना में अब महिला हेल्प डेस्क बनाया गया है. ताकि महिलाओं को त्वरित न्याय मिल सके. मौके पर वाणिज्य संघ के अध्यक्ष के अलावा विद्यालय परिवार के लोग मौजूद थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें